google-launched-bard-ai-chatbot-aganist-chatgpt

Google Layoffs 12,000 Employees: साल 2023 की शुरुआत से ही लगातार बड़े पैमानें पर की जा रही छंटनियाँ सुर्खियों में हैं। इस साल पहले Amazon ने 18,000 और इसके बाद Microsoft ने 10,000 और अब Google पर मालिकाना हक रखने वाली Alphabet ने 12,000 कर्मचारियों को नौकरी से निकालने का ऐलान किया है।

जी हाँ! सामने आई रिपोर्ट के मुताबिक, टेक दिग्गज Google की पैरेंट कंपनी Alphabet ने 20 जनवरी को यह ऐलान किया है कि कंपनी दुनिया भर के तमाम हिस्सों से लगभग 12,000 कर्मचारियों या कहें तो अपने कुल कर्मचारियों की 6% संख्या को बाहर का रास्ता दिखाने जा रही है।

असल में Bloomberg की एक रिपोर्ट के अनुसार, कंपनी के सीईओ, सुंदर पिचाई (Sundar Pichai) ने इस छंटनी का ऐलान कर्मचारियों को भेजे गए ईमेल के जरिए किया और उनसे कहा कि वह “उन फैसलों की पूरी जिम्मेदारी लेते हैं, जिसके चलते ऐसे हालात बने कि कंपनी को इतने बड़े पैमानें पर कर्मचारियों को निकालना पड़ रहा है।”

उन्होंने अपने ईमेल में लिखा;

“ये हमारे फ़ोकस को बढ़ाने, लागत आधार को फिर से तैयार करने और हमारी प्रतिभा व पूंजी को हमारी सर्वोच्च प्राथमिकताओं की ओर लगाने के लिए अहम समय है।”

अब तक सामने आई जानकारी के अनुसार, कंपनी द्वारा की जा रही नौकरियों में ये कटौती दुनिया भर के इसके ऑफ़िसों में कई विभागों की टीमों को प्रभावित कर सकती है। इसमें ‘HR’ से लेकर ‘कॉर्पोरेट वर्क’ और कुछ ‘इंजीनियरिंग व प्रोडक्ट’ टीमों के सबसे अधिक प्रभावित होने की संभावना है।

Google Layoffs 12,000 Employees:

Google के मुताबिक, इस छंटनी के तहत प्रभावित अमेरिकी कर्मचारियों को निकालने की प्रक्रिया तुरंत ही शुरू हो जाएगी। लेकिन दुनिया भर के अन्य तमाम देशों में मौजूद कंपनी के प्रभावित कर्मचारियों को संबंधित देशों के नियमों आदि को ध्यान में रखते हुए, आने वाले कुछ हफ्तो में निकाला जा सकता है।

layoffs 2023

इस ऐलान के तहत कंपनी ने सीईओ ने यह भी बताया कि Google निकाले जा रहे कर्मचारियों को उनकी अगली जॉब तक पहुँचने के लिए हर संभव मदद करेगी। साथ ही अमेरिका में कंपनी के प्रभावित कर्मचारियों को पूरे नोटिफ़िकेशन पीरियड (न्यूनतम 60 दिन) के लिए भुगतान किया जाएगा।

आपको बता दें यह ऐसे वक्त में आया है जब बीती अक्टूबर तिमाही में कंपनी कमाई और राजस्व के मामले में विश्लेषकों के आँकलन को भी नहीं छू सकती थी और तुलनात्मक रूप से इसके लाभ में 27% की गिरावट दर्ज की गई, जो $13.9 बिलियन ही रह गया था।

जानकारों की मानें तो तमाम टेक कंपनियों द्वारा की जा रही इन व्यापक छंटनियों के पीछे का एक कारण आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस (AI) भी हो सकता है, जिसके चलते ये कंपनियाँ कर्मचारियों पर निर्भरता को कम करते हुए, लागत में कटौती जैसी चीजों की योजना बनाने लगी हैं।

आपको बता दें एक आँकलन के अनुसार, साल 2023 की शुरुआत से अब तक लगभग 94 कंपनियाँ, कुल मिलाकर 45,000 से अधिक कर्मचारियों को नौकरी से निकाल चुकी हैं, जिसमें Twitter, Microsoft, Amazon, Salesforce जैसे दिग्गज नाम शामिल हैं।