ev-charging-aggregator-electricpe-raises-rs-41-crore-funding

Startup Funding – ElectricPe: आने वाला दौर इलेक्ट्रिक वाहनों का ही है, लेकिन बेहतर चार्जिंग इंफ्रास्ट्रक्चर के बिना इलेक्ट्रिक वाहनों को अपनाने की दर में तेजी नहीं दिखाई दे सकती है। इसलिए भारत में भी इलेक्ट्रिक वाहन चार्जिंग क्षमता को बढ़ावा देने की कोशिशें की जा रही हैं।

और अब भारतीय ईवी चार्जिंग एग्रीगेशन प्लेटफॉर्म, ElectricPe ने अपने प्री-सीरीज ए फंडिंग राउंड में $5 मिलियन (लगभग ₹41 करोड़) का निवेश हासिल किया है।

ऐसी तमाम ख़बरें सबसे पहले पाने के लिए जुड़ें हमारे टेलीग्राम चैनल से!: (टेलीग्राम चैनल लिंक)

कंपनी के लिए इस निवेश दौर का नेतृत्व Green Frontier Capital, Blume Ventures और Micelio Fundने मिलकर किया। साथ ही दुबई आधारित NB Ventures, Anchorage Capital Partners, Supermorpheus और Climate Angels ने भी इस दौर में अपनी-अपनी भागीदारी दर्ज करवाई।

दिलचस्प रूप से कंपनी ने $3 मिलियन के सीड फंडिंग राउंड के ठीक 12 महीनें बाद ही ये प्री-सीरीज ए राउंड पूरा किया है। और अब कंपनी कुल मिलाकर हासिल किए गए $8 मिलियन का इस्तेमाल बेहतर तकनीक और संचालन के विस्तार के लिए करेगी।

ElectricPe की शुरुआत बतौर साल 2021 में अविनाश शर्मा (Avinash Sharma) और राघव रोहिला (Raghav Rohila) ने मिलकर बिजनेस-टू-कंज़्यूमर ईवी चार्जिंग और डिमांड जनरेशन ऐप के रूप में की थी।

ElectricPe

आसान भाषा में कहें तो कंपनी का दावा है कि यह एक वन-स्टॉप प्लेटफॉर्म है, जहाँ इलेक्ट्रिक वाहन उपयोगकर्ता ईवी चार्जिंग पॉइंट्स की को ढूँढ सकते हैं, उन्हें इस्तेमाल कर सकते है और भुगतान भी कर सकते हैं।

ईवी उपयोगकर्ताओं को ईवी चार्जिंग इंफ्रास्ट्रक्चर प्रदान करने में मदद करने वाला ये स्टार्टअप अपनी शुरुआत से अब तक बेंगलुरु में 10,000 लाइव चार्जिंग पॉइंट बनाने का दावा करता है।

कंपनी के दावे के मुताबिक इसने सिर्फ 7.5 महीने की अवधि में, ऐप का उपयोग करने की दर में महीने-दर-महीने 30% तक की बढ़त दर्ज की है, इसके नेटवर्क की मदद से अब तक ग्राहकों ने अपने ईवी वाहनों के जरिए कुल 4 मिलियन किलोमीटर पूरे किए हैं।

इस स्टार्टअप ने बेंगलुरु में बेहद सघन चार्जिंग नेटवर्क बनाया है, और अपनी शुरुआत से अब तक वहाँ 10,000 लाइव चार्जिंग पॉइंट बना लिए हैं।

इस नए निवेश को लेकर ElectricPe के सह-संस्थापक और सीईओ अविनाश शर्मा ने कहा;

“हमें ग्राहकों से सकारात्मक प्रतिक्रिया मिल रही है, क्योंकि उन्हें अब किसी भी चार्जिंग या स्वैपिंग स्टेशन को खोजने, उसका उपयोग करने और भुगतान करने के लिए सिर्फ एक ऐप की जरूरत होती है।”