amazon-to-layoff-over-18000-employees

Amazon to layoff over 18,000 employees: टेक दिग्गज कंपनियों में छंटनी का दौर जारी है। दुनिया भर में खराब आर्थिक हालातों का हवाला देते हुए, दिग्गज कंपनियाँ बड़ी संख्या में छंटनी (Layoff) कर रही हैं। इनमें Twitter, Meta (Facebook), Salesforce, Unacademy, BYJU’S जैसे कई नाम शामिल हैं।

इसी दौरान नवंबर 2022 में यह खबर भी सामने आई थी कि ई-कॉमर्स दिग्गज, अमेजन (Amazon) भी भारत समेत दुनिया भर में लगभग 10,000 कर्मचारियों की छंटनी की है। लेकिन अब नए साल 2023 की शुरुआत में ही कंपनी ने एक बड़ा ऐलान किया है, जिसनें कंपनी में काम करने वाले कर्मचारियों की चिंता बढ़ा दी है।

ऐसी तमाम ख़बरें सबसे पहले पाने के लिए जुड़ें हमारे टेलीग्राम चैनल से!: (टेलीग्राम चैनल लिंक)

सामने आई रिपोर्ट्स के मुताबिक, असल में 5 जनवरी को Amazon ने ये घोषणा की कि 18,000 से अधिक कर्मचारियों की छंटनी करने जा रही है। छंटनी की यह प्रक्रिया 18 जनवरी से शुरू हो जाएगी।

Amazon Layoff

सामने ये आया है कि जेफ बेजोस (Jeff Bezos) के बाद Amazon के नए सीईओ (CEO) बने, एंडी जेसी (Andy Jassy) ने कर्मचारियों को लिखे एक ईमेल में इस छंटनी का ऐलान किया है। कर्मचारियों के साथ साझा किए गए इस नोट में जेसी ने दुनिया भर में बनी हुई “अर्थव्यवस्था की अनिश्चित स्थिति” और “रैपिड हायरिंग” को नौकरियों में कटौती की वजह बताया है।

जेसी ने अपने कर्मचारियों को लिखे नोट में बताया;

“नवंबर में कंपनी द्वारा की गई नौकरियों में कटौती और आज साझा की जा रही जानकारी के बीच, हम सिर्फ 18,000 से अधिक नौकरियों को खत्म करने की योजना बना रहे हैं।”

आपको बता दें तमाम देशों को मिला कर Amazon में लगभग कुल 3,00,000 कॉर्पोरेट कर्मचारी कार्यरत हैं। ऐसे में जाहिर तौर पर कंपनी ने अब अपने 6% (~ 18,000) कर्मचारियों को नौकरी से निकालने का निर्णय किया है।

Amazon Layoff
Amazon Layoff

Amazon के सीईओ ने ये भी जानकारी साझा करी कि इस छंटनी के चलते कंपनी के कई विभाग प्रभावित हुए हैं, लेकिन जिन विभागों में इसका सबसे अधिक असर पड़ा है, उनमें अमेजन स्टोर्स (Amazon Stores) और PXT (पीपल एक्सपीरियंस एंड टेक्नोलॉजी सॉल्यूशंस) की टीमें शामिल हैं।

उन्होंने ये भी कहा कि कंपनी इस फैसले को हल्के में नहीं ले रही है। छंटनी से प्रभावित कर्मचारियों को कंपनी तमाम अलग भुगतान, स्वास्थ्य बीमा लाभ और नई नौकरियों में प्लेसमेंट के लिए हर संभव मदद प्रदान करेगी।

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, कंपनी के ई-कॉमर्स और मानव-संसाधन (HR) विभाग भी इस छंटनी से बड़े पैमाने पर प्रभावित हुए हैं।

आपको बता दें इसके पहले Facebook, Instagram और WhatsApp पर मालिकाना हक रखने वाली कंपनी Meta ने नवंबर, 2022 में अपने कुल कर्मचारियों में से लगभग 13% (~ 11,000 कर्मचारियों) को नौकरी से निकाल दिया था।

वहीं Snapchat भी कुछ महीनों पहले अपने लगभग 20% कर्मचारियों (1,200 लोगों) की छंटनी कर चुका है। इसमें Twitter का नाम भी शमिल हैं, जिसके नए मालिक ईलॉन मस्क (Elon Musk) ने लगभग 3,500 कर्मचारियों को बाहर का रास्ता दिखा दिया था। वहीं Salesforce ने भी अपने 10% या कहें तो 8,000 कर्मचारियों की छंटनी का ऐलान किया है।

1 comment

Comments are closed.