ev-startup-moeving-raises-rs-20-crore-funding

Startup Funding – MoEVing: भारत में इलेक्ट्रिक वाहनों का बाजार कितनी तेजी से व्यापक रूप ले रहा है, ये किसी से छिपा नहीं है। अपार संभावनाओं से भरे इस सेगमेंट में तमाम स्टार्टअप्स अपनी दावेदारी पेश कर रहे हैं और दिलचस्प ये है कि निवेशक भी उनपर दाँव लगाने लगे हैं।

इसी क्रम में गुरुग्राम आधारित इलेक्ट्रिक मोबिलिटी स्टार्टअप MoEVing ने JSW Ventures से $2.5 मिलियन (लगभग ₹20 करोड़) की फंडिंग हासिल की है। बता दें इलेक्ट्रिक वाहन क्षेत्र में यह JSW Ventures द्वारा किया गया पहला निवेश है।

ऐसी तमाम ख़बरें सबसे पहले पाने के लिए जुड़ें हमारे टेलीग्राम चैनल से!: (टेलीग्राम चैनल लिंक)

इस नए फंड के जरिए, इस स्टार्टअप का इरादा देश भर में अपने ड्राइवर-पार्टनर के लिए एक मजबूत प्लेटफॉर्म का निर्माण करने का है। इतना ही नहीं बल्कि कंपनी आने वाले समय में कई भारतीय शहरों में अपना विस्तार करने की योजना भी बना रही है।

दिलचस्प रूप से इसके पहले इसी साल मई में MoEVing ने इक्विटी और डेब्ट के रूप में अपने सीड फंडिंग राउंड के तहत $5 मिलियन (लगभग ₹38 करोड़) का निवेश हासिल किया था। और आज के इस नए निवेश को मिला दें तो कंपनी अब तक कुल $10 मिलियन का निवेश हासिल कर चुकी है।

MoEVing की नींव साल 2021 में विकास मिश्रा (Vikash Mishra) और मृगांक जैन (Mragank Jain) ने मिलकर रखी थी। कंपनी असल में ई-लॉजिस्टिक्स क्षेत्र को अधिक व्यापक तथा बेहतर स्वरूप बनाने का इरादा लिए आगे बढ़ रही है।

यह स्टार्टअप मुख्य रूप से ई-कॉमर्स, ई-किराना, FMCG (फास्ट-मूविंग कंज्यूमर गुड्स), लॉजिस्टिक्स और D2C (डायरेक्ट-टू-कंज्यूमर) कंपनियों को उनकी लॉजिस्टिक्स लागतों को कम करने के साथ ही कार्बन उत्सर्जन को कम करने के लक्ष्यों को पूरा करने में भी मदद करती है।

इतना ही नहीं बल्कि यह स्टार्टअप इलेक्ट्रिक वाहनों (ईवी) को अपनाने के रास्ते में आने वाली विभिन्न बाधाओं को दूर करने के लिए ओरिजिनल इक्विपमेंट मैन्युफैक्चरर (OEMs), ड्राइवर/मालिकों और वित्तीय संस्थानों के साथ भी साझेदारी कर रहा है।

e-mobility-tech-startup-moeving-funding-news
Credit: MoEVing (LinkedIn)

मौजूदा वक्त में कंपनी 2-व्हीलर और 3-व्हीलर्स समेत 1,500 इलेक्ट्रिक वाहनों का संचालन कर रही है और इसने देश भर में 30 से अधिक मल्टी-मॉडल चार्जिंग स्टेशन हब भी स्थापित किए हैं।

कंपनी को उम्मीद है कि आने वाले समय में यह कार्बन डाइऑक्साइड (कार्बन) उत्सर्जन में करीब 1,000 टन तक की कटौती करने में सफल साबित होगी।

इस निवेश को लेकर MoEVing के सह-संस्थापक और सीईओ विकास मिश्रा ने कहा;

“हमारा विश्वास है कि इलेक्ट्रिक वाहनों को अपनाए जाने की प्रक्रिया में कमर्शियल वाहन एक बड़ा अहम रोल अदा करेंगे, खासकर फ़र्स्ट और लास्ट मील डिलीवरी जगत में! इसलिए हम इन क्षेत्रों को लक्षित कर रहे हैं।”