e-bike-startup-emotorad-raises-rs-24-crore-funding

Startup Funding – EMotorad: वर्तमान समय में एक बात जिसको पूरी दुनिया स्वीकार कर चुकी है, वह ये कि “इलेक्ट्रिक वाहन” की हमारा भविष्य हैं। ऐसे में दुनिया भर के साथ ही साथ भारत में भी इलेक्ट्रिक वाहन बाजार लगातार नए इनोवेशन व तकनीकों के साथ, एक व्यापक रूप ले रहा है।

इसी कड़ी में अब पुणे आधारित इलेक्ट्रिक वाहन (ईवी) स्टार्टअप EMotorad ने अपने ‘प्री-सीरीज ए’ फंडिंग राउंड में ₹24 करोड़ (~$2.9 मिलियन) का निवेश हासिल किया है। कंपनी के लिए इस निवेश दौर के नेतृत्व Green Frontier Capital (GFC), LetsVenture और Ivy Growth Associates ने मिलकर किया।

ऐसी तमाम ख़बरें सबसे पहले पाने के लिए जुड़ें हमारे टेलीग्राम चैनल से!: (टेलीग्राम चैनल लिंक)

कंपनी के मुताबिक, हासिल की गई इस धनराशि का इस्तेमाल मुख्य रूप से संचालन का विस्तार करने, बिजनेस के विकास की रफ्तार को बढ़ाने और बेहतरीन प्रतिभाओं को टीम में शामिल करने आदि के लिए किया जाएगा। साथ ही यह कंपनी अपनी मौजूदा ई-बाइक्स को एक एप्लिकेशन के साथ जोड़ते हुए, उपयोगकर्ताओं को पयोगकर्ताओं को हेल्थ व साइकिल कम्यूनिटी फीचर्स भी प्रदान करना चाहती है।

EMotorad की शुरुआत साल 2020 में राजीव गंगोपाध्याय (Rajib Gangopadhyay), कुणाल गुप्ता (Kunal Gupta), आदित्य ओझा (Aditya Oza) और सुमेध बट्टवार (Sumedh Battewar) ने मिलकर की थी।

EMotorad
Image Credit: EMotorad

यह एक इलेक्ट्रिक वाहन कंपनी है जो एडवांस से लेकर दैनिक या साधारण उपयोग के लिहाज से किफायती मूल्य पर ईको-फ़्रेंड्ली और फ्यूचरिस्टिक ई-बाइक्स की पेशकश करती है। इस स्टार्टअप का मकसद देश में स्थानीय सोर्सिंग और मैन्युफ़ैक्चरिंग क्षमताओं का इस्तेमाल करते हुए, किफायती दाम पर प्रीमियम क्वॉलिटी वाली इलेक्ट्रिक साइकिल प्रदान करना है।

कंपनी के अनुसार, यह एक्सक्लूसिव ब्रांड आउटलेट्स और डायरेक्ट-टू-कंज्यूमर उपस्थिति के जरिए ग्राहकों को डिजिटल और ऑफलाइन सेवाओं की पेशकश करने संबंधित योजना भी बना रही है।

आँकड़ो पर नजर डालें तो अब तक कंपनी 35,000 से अधिक ई-बाइक्स बेंच चुकी है। एक दावे के मुताबिक, फिलहाल इसके पास सलाना दर के लिहाज से 90,000 से अधिक यूनिट्स की उत्पादन क्षमता है, जिसके अगले साल तक 2 लाख तक बढ़ाने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है।

गौर करने वाली बात ये है कि यह स्टार्टअप जापान, यूएई, यूरोप और नेपाल जैसे देशों में भी अपना विस्तार करने में कामयाब रहा है। वहीं भारत की बात करें तो कंपनी ने अब तक देश भर में 160 से अधिक डीलरों को जोड़ चुकी है और वैश्विक रूप से 82 से अधिक कस्बों और शहरों में मौजूदगी दर्ज करा चुकी है।

इस निवेश को लेकर कंपनी के सह-संस्थापक और सीईओ, कुणाल गुप्ता ने कहा,

“हमें हमेशा से ही स्वास्थ्य संबंधित सहूलियतों के लिहाज से ई-बाइक की क्षमताओं में विश्वास रहा है। हम अपने उत्पादों और तकनीकों को कुछ इस तरह से डिजाइन करना चाहते हैं कि ये उपयोगकर्ताओं के स्वस्थ बनने की यात्रा में सहजता से एक अहम रोल निभा सकें।”

और ऐसा करते हुए हम न सिर्फ लोगों की फिटनेस संबंधित जरूरतों को पूरा कर रहे हैं, बल्कि उन्हें के स्थायी और पर्यावरण अनुकूलित मोबिलिटी विकल्प भी प्रदान कर रहे हैं।”