indian-sellers-can-sell-in-canada-and-usa-through-walmart
Image Credit: Walmart

Indian Sellers can sell in Canada through Walmart Marketplace: इस बात से कोई इंकार नहीं कर सकता कि वॉलमार्ट (Walmart) कई सालों से पश्चिमी देशों (खासकर अमेरिका, कनाडा आदि) में एक बेहद लोकप्रिय मार्केटप्लेस बन चुका है। तमाम टॉप ब्रांडों और विक्रेताओं के लिए Walmart उपभोक्ताओं से जुड़ने का एक विश्वसनीय प्लेटफॉर्म है।

और Flipkart के ऐतिहासिक अधिग्रहण के बाद से Walmart भारतीय बाजार को लेकर भी काफी गंभीर होता नजर आया है। भारतीय बाजार में अपनी स्थिति को मजबूत करने के क्रम में, कंपनी ने 27 सितंबर को दिल्ली में एक दिवसीय ग्लोबल सेलर समिट का आयोजन किया था।

ऐसी तमाम ख़बरें सबसे पहले पाने के लिए जुड़ें हमारे टेलीग्राम चैनल से!: (टेलीग्राम चैनल लिंक)

इस समिट में मुख्य रूप से भारतीय कंपनियों को Walmart के मार्केटप्लेस का इस्तेमाल करते हुए प्रमुख अंतरराष्ट्रीय बाजारों में अपने उत्पादों की व्यापक रूप से पहुँचाने के लिए प्रेरित किया गया।

एक प्रेस रिलीज के तहत कंपनी ने बताया कि इस समिट में 500 से अधिक भारतीय निर्माता व डायरेक्ट-टू-कंज्यूमर (डी2सी) कंपनियों ने शिरकत की, जिसमें डी2सी कॉफी ब्रांड Rage Coffee, ईकॉमर्स स्टार्टअप Mensa Brands आदि नाम भी शामिल रहे।

और इस समिट में एक अहम ऐलान किया गया। असल में आपको शायद याद होगा कि Walmart ने इस साल की शुरुआत में अपने अमेरिकी मार्केटप्लेस में भारत के विक्रेताओं को भी शामिल करने की शुरुआत की थी, जिसको लेकर कंपनी ने जबरजस्त प्रतिक्रिया हासिल की।

Walmart के जरिए अब अमेरिकी खरीदार भी सिर्फ एक क्लिक पर भारतीय कंपनियों के उत्पादों को खरीद सकते हैं।

Indian Sellers are invited to apply to Walmart Canada Marketplace

लेकिन अब हाल में हुई इस समिट में ये ऐलान किया गया कि अब भारतीय विक्रेताओं व कारोबारियों के लिए ‘वॉलमार्ट कनाडा मार्केटप्लेस’ (Walmart Canada Marketplace) को भी खोल दिया गया है और इसमें आवेदन स्वीकार करने की शुरुआत कर दी गई है।

जाहिर है कि Walmart की रणनीति सीधे तौर पर अमेरिका और भारत जैसे अन्य प्रमुख बाजारों के मौजूदा विक्रेता आधार को साथ लाते हुए, अपने मार्केटप्लेस को अधिक व्यापक बनाने की है।

और फिलहाल इस प्रक्रिया में भारत काफी अहम हो जाता है, क्योंकि अमेरिकी कंपनियाँ मौजूदा समय में अमेरिका और चीन के खराब होते संबंधों के बीच, अब नए बाजार विकल्पों की तलाश में तेजी से लग गई हैं।

हाल में ही हमनें देखा कि कैसे दुनिया की सबसे बड़ी टेक दिग्गज अमेरिकी कंपनी Apple भारत में अपनी मैन्युफैक्चरिंग भागीदारी को तेजी से बढ़ाने की हर संभव कोशिश कर रही है।

इसके तहत अब सामने आई रिपोर्ट्स के मुताबिक, कंपनी ने iPhones के साथ ही AirPods और Beats हेडफोन का निर्माण भी भारत में शुरू करने का मन बनाया किया है।