whatsapp-call-links-feature

WhatsApp Call Links Feature: सोशल मीडिया दिग्गज Meta के मालिकाना हक वाला इंस्टेंट मैसेजिंग ऐप व्हाट्सऐप (WhatsApp) बाजार में Zoom, Telegram और Google Duo जैसे प्रतिद्वंदियों से लगातार आगे रहने के प्रयास करता नजर आता है।

इसी क्रम में अब WhatsApp ने ‘Call Links’ को भी प्लेटफॉर्म में जोड़ने की शुरुआत कर दी है। जैसा नाम से ही जाहिर है, इस नए फीचर के जरिए, यूजर्स ऑडियो और वीडियो कॉल के लिए लिंक बना सकेंगें।

ऐसी तमाम ख़बरें सबसे पहले पाने के लिए जुड़ें हमारे टेलीग्राम चैनल से!: (टेलीग्राम चैनल लिंक)

इस फीचर की घोषणा खुद Meta के संस्थापक और सीईओ, मार्क जुकरबर्ग (Mark Zuckerberg) ने एक फेसबुक पोस्ट के जरिए की।

Now Use WhatsApp Call Links Feature

WhatsApp के कॉल लिंक फीचर के जरिए बनाए गए ऑडियो या वीडियो कॉल लिंक पर लोग एक टैप करते हुए संबंधित कॉल के साथ जुड़ सकते हैं। इसका बड़ा फायदा ये होगा कि इससे उन लोगों को भी आप कॉल में जोड़ पाएँगें जो आपकी कॉन्टैक्ट लिस्ट में नहीं है।

कॉल लिंक बनाने का विकल्प जल्द ही WhatsApp के ऐप में ‘कॉल टैब’ (Call Tab) पर उपलब्ध होगा। वहाँ से यूजर्स लिंक बना सकेंगें और लोगों को भेज सकेंगे।

बता दें सामान्य यूजर्स के लिए इस फीचर का रोलआउट इस हफ्ते से ही शुरू हो जाएगा। अब देखना ये है कि क्या ये फीचर एक साथ ही एंड्रॉइड (Android) और आईओएस (iOS) दोनों यूजर्स के लिए उपलब्ध करवाया जाएगा या नहीं?

whatsapp

इतना तो साफ है कि इस नए फीचर के जरिए WhatsApp का इरादा Zoom, Google Meet और Microsoft Teams जैसे प्रोफेशनल ऐप्स को चुनौती दे सकनें का है।

हम ये बाद इसलिए भी कह रहे हैं क्योंकि Meta ने सीईओ ने ये भी जानकारी दी है कि जल्द ही WhatsApp पर एक और नया फीचर दिया जाएगा, जिसके बाद यूजर्स एक समय में 32 लोगों के साथ वीडियो कॉल कर सकेंगें।

इतना ही नहीं बल्कि खबरों के मुताबिक, WhatsApp किसी भी एंड्रॉइड टैबलेट और फोन पर एक साथ WhatsApp का इस्तेमाल कर सकनें की सहूलियत देने वाले Companion Mode जैसे फीचर की भी Beta टेस्टिंग कर रहा है। स्पष्ट रूप से यह मल्टी-डिवाइस सपोर्ट फीचर का विस्तार होगा।

साथ ही कंपनी के नए कैमरा शॉर्टकट फीचर की भी टेस्टिंग कर रही है। एक बार ये तमाम फीचर WhatsApp पर आ गए तो ये वाकई Zoom, Google Meet और Microsoft Teams जैसे प्रोफेशनल ऐप्स के लिए एक परेशानी का सबब हो सकता है, क्योंकि WhatsApp के पास एक व्यापक उपयोगकर्ता आधार है।