uber-india-asks-drivers-to-ensure-seatbelts-on-back-seats-work

Uber India asks drivers to ensure seatbelts: 4 सितंबर को टाटा ग्रुप (Tata Group) के पूर्व चेयरमैन साइरस मिस्त्री (Cyrus Mistry) की मुंबई-अहमदाबाद हाईवे पर एक कार दुर्घटना में मौत हो गई थी।

इस एक्सीडेंट की जांच करने वाली सात सदस्यीय फोरेंसिक टीम के मुताबिक, दुर्घटना के वक्त गाड़ी की पिछली सीट पर बैठे साइरस मिस्त्री की मृत्यु की वजहों में से एक बड़ी वजह थी उनका सीटबेल्ट ना पहनना।

ऐसी तमाम ख़बरें सबसे पहले पाने के लिए जुड़ें हमारे टेलीग्राम चैनल से!: (टेलीग्राम चैनल लिंक)

इसके बाद से ही भारत में भारत में गाड़ी की पिछली सीटों पर भी सीटबेल्ट लगाने का विषय काफी चर्चा में है। खासकर तब जब खुद देश के परिवहन मंत्री नितिन गडकरी ने पिछली सीट पर व्यक्ति द्वारा सीटबेल्ट ना पहनने पर जुर्माने आदि प्रावधानों की बात कही।

और अब ऐसा लगता है कि ये मुद्दा सिर्फ चर्चा तक सिमटा नहीं हुआ है, बल्कि इसका असर भी दिखने लगा है। इसी क्रम में दिग्गज अमेरिकी कैब सेवा प्रदाता Uber ने भारत में अपने ड्राइवर पार्टनर्स को यह निर्देश दिए हैं कि वह सुनिश्चित करें कि उनके वाहनों की पिछली सीटों की सीटबेल्ट भी इस्तेमाल के लायक हों, और अगर ऐसा नहीं है तो उसको तत्काल ठीक करवाया जाए।

जी हाँ! असल में Reuters की एक रिपोर्ट के मुताबिक, Uber ने भारत में अपने ड्राइवरों के लिए एक एडवाइजरी जारी की है, जिसमें कहा गया है कि

“किसी भी प्रकार के जुर्माने या सवारी की शिकायतों आदि से बचने के लिए, कृपया सुनिश्चित करें कि गाड़ी की पिछली सीटों पर भी सीटबेल्ट मौजूद हो और इस्तेमाल के लिहाज से सही दशा हो।”

दिलचस्प रूप से इस रिपोर्ट में सूत्रों के हवाले से यह भी कहा गया है कि Uber भारत में कुछ हवाई अड्डों पर मौजूद रहने वाले अपने वाहनों की जांच भी कर रहा है, ताकि यह सुनिश्चित किया जा सके कि उसके ड्राइवर पार्टनर्स सीटबेल्ट संबंधित नियमों का पालन कर रहे हैं या नहीं?

uber-india-asks-drivers-to-ensure-seatbelts-on-back-seats-work

लेकिन ये साफ कर दें कि इस विषय में Uber की ओर से कोई भी आधिकारिक बयान जारी नहीं किया गया है, और न ही अब तक इस तरह की किसी एडवाइजरी की बात पर मोहर लगाई गई है।

गौर करने वाली बात ये है कि रिपोर्ट के अनुसार, कंपनी के ही एक कर्मचारी ने बताया कि इसके (Uber) के प्रतिद्वंदी Ola ने भी कुछ हफ्ते पहले अपने ड्राइवरों के लिए ऐसी ही एक एडवाइजरी जारी की है।

भारत में ये आम रूप से देखा जाता है कि अधिकतर कारों या टैक्सी के मालिक अपनी पिछली सीटों पर सीटबेल्ट के ऊपर से ही सीट कवर लगावा देते हैं, जिसके चलते पिछली सीटों पर सीटबेल्ट इस्तेमाल करना लगभग असंभव हो जाता है।

Uber India asks drivers to ensure seatbelts

इसलिए Uber ने कथित रूप से अपनी एडवाइजरी में ड्राइवरों को साफ निर्देश दिए हैं कि

“पिछली सीटों पर सीटबेल्ट को किसी भी हालत में सीट कवर के नीचे ना छिपाएं, अगर पहले से ऐसा है तो कृपया कवर हटा दें।”

यह कदम ऐसे वक्त में लिया जा रहा है जब देश की सरकार सड़क सुरक्षा में सुधार के लिए कई कड़े कदम उठाने की कोशिश कर रही है। आपकी जानकारी के लिए बता दें कि विश्व बैंक ने पिछले साल कहा था कि भारत की सड़कों पर हर चार मिनट में एक मौत होती है।

वैसे तो भारत में पहले से ही पिछली सीट पर बैठे यात्रियों को सीटबेल्ट पहनना अनिवार्य है, लेकिन अधिकांश लोग इसका पालन नहीं करते हैं। अधिकतर लोग आगे की सीटों पर भी सीटबेल्ट सिर्फ इसलिए ही लगाते हैं ताकि चालान से बचा जा सके।