healthy-food-startup-anveshan-rasies-rs-15-crore-funding

Startup Funding – Anveshan: आजकल की लाइफस्टाइल को देखते हुए, भारत समेत अन्य देशों में भी विश्वसनीय व हेल्दी फूड्स की माँग में तेजी दर्ज की जा रही है। इसको ध्यान में रखते हुए अब कई ब्रांड्स व स्टार्टअप इन संभावनाओं को भुनाने का प्रयास कर रहे हैं और सफल साबित भी हो रहे हैं।

इसी क्रम में भारतीय डायरेक्ट-टू- कंज्यूमर (डी2सी) हेल्दी-फूड ब्रांड, Anveshan ने अपने प्री-सीरीज-ए फंडिंग राउंड में $2 मिलियन (लगभग ₹15 करोड़) का निवेश हासिल किया है।

ऐसी तमाम ख़बरें सबसे पहले पाने के लिए जुड़ें हमारे टेलीग्राम चैनल से!: (टेलीग्राम चैनल लिंक)

कंपनी को यह निवेश DSG Consumer Partners, Force Ventures और We Founder Circle के नेतृत्व में मिला है। बता दें इस निवेश दौर में कुछ एंजल निवेशकों जैसे अमित जैन और अमित हूजा (Netgraph, Vardhman Group), राहुल शर्मा (Zetwerk) व अन्य लोगों ने भी भागीदारी दर्ज करवाई।

स्टार्टअप के अनुसार, प्राप्त की गई इस नई पूँजी का इस्तेमाल नई प्रतिभाओं को कंपनी के साथ जोड़ने, संचालन प्रक्रियाओं को बेहतर बनाने और नई प्रोडक्ट्स कैटेगॉरी जोड़ने के लिए रिसर्च एंड डेवेलपमेंट के लिए किया जाएगा।

इतना ही नहीं बल्कि कंपनी का इरादा मुंबई, दिल्ली एनसीआर और बेंगलुरु के प्रीमियम रिटेल स्टोर्स में भी अपनी पहुंच को बढ़ाने का है।

Startup Funding – Anveshan raises $2 million funding 

Anveshan की शुरुआत साल 2020 में आईआईटी गुवाहाटी के तीन छात्रों – आयुषी खंडेलवाल (Aayushi Khandelwal), अखिल कंसल (Akhil Kansal) और कुलदीप परेवा (Kuldeep Parewa) ने मिलकर की थी।

Startup Funding - Anveshan

यह स्टार्टअप मुख्य रूप से ग्रामीण क्षेत्रों में पारंपरिक रूप से तैयार किए गए ‘न्यूनतम संसाधित (प्रॉसेस्ड) खाद्य उत्पादों की पेशकश करता है।

कंपनी सप्लाई चेन के हर स्तर में 100% पारदर्शिता रखने और गुणवत्ता नियंत्रित करने के लिए तकनीकी समाधानों का इस्तेमाल करने का दावा करती है। इसके तहत ग्राहक खरीदे गए किसी भी फूड प्रोडक्ट की पूरी ‘फार्म-टू-फोर्क’ यात्रा और गुणवत्ता रिपोर्ट भी हासिल कर सकते हैं।

फ़िलहाल कंपनी के प्रोडक्ट पोर्टफोलियो में गाय का घी, लकड़ी से बने खाद्य तेल, कच्चा शहद, हेल्दी मिठाई और तमाम पेय पदार्थ आदि शामिल हैं।

इस निवेश को लेकर कंपनी की सह-संस्थापक, आयुषी खंडेलवाल ने कहा;

“हम भारतीय सदियों पुराने सुपर-फूड और उन पर हमारे बुजुर्गों द्वारा दिए जाने वाले पारंपरिक ज्ञान को लेकर काफी भावुक हैं। उन्हीं खाद्य उत्पादों को इस तरह से वापस आधुनिक पीढ़ी को उपलब्ध करवाना ही हमारा अंतिम लक्ष्य है।”

वहीं DSG Consumer Partners की ओर से हरिहरन प्रेमकुमार ने कहा;

“Anveshan भारत में अग्रणी ‘न्यूनतम संसाधित’ फूड ब्रांड बनने की दिशा में तेजी से आगे बढ़ रहा है और इनकी इस यात्रा में साझेदार बनकर हम बेहद उत्साहित हैं। यह टीम माइक्रो-प्रोसेसिंग इकाइयों की स्थापना करके किसानों को सशक्त बनाते हुए उनके लिए निष्पक्ष और सुविधाजनक व्यापार के अवसर प्रदान करती है।”