reliance-agm-2022-from-jio-airfiber-to-5g-launch

Reliance 45th AGM 2022: सोमवार को रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड (RIL) की 45वीं वार्षिक आम बैठक (Annual General Meeting) का आयोजित की है। जैसा कि अपेक्षित था, इस मौके पर Reliance के चेयरमैन और एमडी, मुकेश अंबानी (Mukesh Ambani) ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के तहत कई बड़े ऐलान किए।

इस 45वें AGM में अपने संबोधन के दौरान मुकेश अंबानी ने रिलायंस (Reliance) के भविष्य से रोडमैप को लेकर एक विस्तृत तस्वीर पेश की।

ऐसी तमाम ख़बरें सबसे पहले पाने के लिए जुड़ें हमारे टेलीग्राम चैनल से!: (टेलीग्राम चैनल लिंक)

तो आइए देर ने करते हुए जानते हैं कि Reliance Industries का 45वाँ AGM 2022 किन-किन मायनों में खास रहा और कौन-कौन सी अहम घोषणाओं की गई?

Mukesh Ambani’s succession plan

AGM 2022 के दौरान मुकेश अंबानी ने रिलायंस को लेकर अपने उत्तराधिकार प्लान के भी साफ संकेत दिए। ये स्पष्ट कर दिया गया कि ईशा अंबानी (Isha Ambani) के हाथों में रिलायंस रिटेल (Reliance Retail) और आकाश अंबानी (Akash Ambani) के हाथों में रिलायंस जियो (Reliance Jio) की बागडोर दी गई है। साथ ही अनंत अंबानी (Anant Ambani) आने वाले समय में नए एनर्जी बिजनेस का नेतृत्व करते नजर आएँगें।

इसको लेकर मुकेश अंबानी ने कहा;

“ऐसे समय में जब एक उज्ज्वल भविष्य रिलायंस को आकर्षित कर रहा है, यह मुझे हमारे गतिशील और प्रतिभाशाली युवाओं के प्रति आशावान बनाता है। हमारी अगली पीढ़ी के नेतृत्वकर्ता पूरे विश्वास के साथ सभी व्यवसायों की बागडोर संभाल रहे हैं।”

Jio True 5G rollout date?

Reliance ने 45वीं वार्षिक आम बैठक (AGM) 2022 में ‘Jio 5G’ रोलआउट के लिए निश्चित समयसीमा का भी ऐलान किया है, जिसको लेकर अधिकांश लोग उत्साहित थे।

कंपनी के अनुसार, Jio “True 5G” इस दिवाली यूजर्स के लिए पेश कर दिया जाएगा। शुरुआती दौर में इसे दिल्ली, गुरुग्राम, बेंगलुरु, चंडीगढ़, गांधीनगर, अहमदाबाद, मुंबई, लखनऊ, हैदराबाद, पुणे, चेन्नई, जामनगर और कोलकाता समेत लगभग 13 शहरों में पेश किया जा सकता है।

आपको बता दें बीते अक्टूबर में ही देश में 5G स्पेक्ट्रम की नीलामी संपन्न हुई थी। Jio ने नीलामी के दौरान सबसे अधिक 5G स्पेक्ट्रम हासिल किए थे, जिसमें 700MHz, 800MHz, 1800MHz, 3300MHz और 26GHz बैंड में कुल 26,772 MHz स्पेक्ट्रा शामिल रही। इसके लिए कंपनी ने ₹88,078 करोड़ खर्च किए थे।

इस बीच उम्मीद ये जताई गई है कि Jio दिसंबर 2023 तक भारत में सभी उपयोगकर्ताओं के लिए Jio True 5G उपलब्ध करवा देगा। बता दें io ने भारत के लिए 5G समाधान विकसित करने के लिए Qualcomm के साथ साझेदारी भी की है।

कंपनी ने बताया कि Jio लगभग ₹2 लाख करोड़ के निवेश के साथ दुनिया का सबसे बड़ा 5G नेटवर्क स्थापित करेगा, क्योंकि रिलायंस का मूलमंत्र ही है – ‘We Care’

Jio ultra-affordable smartphones

AGM 2022 में अंबानी ने यह भी जानकारी दी कि कंपनी Google के साथ मिलकर बेहद किफायती (ultra-affordable) स्मार्टफोन बनाने की दिशा में भी काम कर रही है, जो मुख्य रूप से भारतीय उपयोगकर्ताओं के लिए ही पेश किया जाएगा।

Isha Ambani on FMCG & JioMart + WhatsApp 

इस AGM में रिलायंस रिटेल (Reliance Retail) की निदेशक ईशा अंबानी ने कहा कि RIL की रिटेल इकाई तेजी से बढ़ते उपभोक्ता वस्तुओं (FMCG) क्षेत्र में प्रवेश करेगी और इस साल अपना खुद का FMCG बिजनेस शुरू करेगी।

Isha Ambani

इसके साथ ही JioMart को लेकर किए गए एक अहम ऐलान में ईशा अंबानी ने बताया कि JioMart को और व्यापक रूप देने के लिए Meta के मालिकाना हक वाले लोकप्रिय प्लेटफ़ॉर्म WhatsApp के साथ साझेदारी की जा रही है।

JioMart-Whatsapp साझेदारी के तहत उपयोगकर्ता WhatsApp Pay, कैश ऑन डिलीवरी और अन्य भुगतान माध्यमों का भी इस्तेमाल कर सकेंगें। इसको लेकर Meta के संस्थापक और सीईओ Mark Zuckerberg ने भी अपना उत्साह ज़ाहिर किया।

Mark Zuckerberg on the announcement of Jiomart-WhatsApp partnershipJio AirFiber – Wireless Jio 5G Network

रिलायंस की 45वीं AGM में Jio 5G रोलआउट योजना के साथ ही कंपनी ने अगली-पीढ़ी के फाइबर ब्रॉडबैंड सर्विस से भी पर्दा उठाया।

जी हाँ! Jio AirFiber नामक इस नई फाइबर ब्रॉडबैंड सेवा के ज़रिए टेलीकॉम दिग्गज अपने 5G नेटवर्क का इस्तेमाल करते हुए ग्राहकों को Jio Fiber से भी बेहतर सेवाएं प्रदान करेगी।

Jio AirFiber - Wireless Jio 5G Network

जल्द ही ग्राहक बिना किसी भी तरीके की फाइबर तार को घर तक लाए बिना Jio AirFiber के जरिए वायरलेस ब्रॉडबैंड इंटरनेट का इस्तेमाल कर सकेंगें।

Jio Cloud PC Service

इस Cloud PC की मदद से आप बिना किसी बड़े हार्डवेयर के कम्प्यूटर का अनुभव ले सकेंगें, आसान शब्दों में ये एक वर्चुअल पर्सनल कम्प्यूटर (PC) की तरह होगा।

इस सुविधा के लिए तेज 5G नेटवर्क स्पीड का इस्तेमाल किया जाएगा, जिससे यूजर्स को रिमोट सर्वर लोकेशन से सभी कंप्यूटेशंस को स्ट्रीम करने की सहूलियत मिल सकेगी।

Jio Cloud PC Service

उपयोगकर्ता बिना किसी अपफ्रंट निवेश या बार बार अपग्रेड करने के तनाव के बिना, केवल उपयोग की गई सीमा तक भुगतान करते हुए इसका लाभ उठा सकेंगें। इसके चलते सभी भारतीय घरों और व्यवसायों को एक ही नहीं बल्कि कई पर्सनल कम्प्यूटर (पीसी) से सुपर-किफायती दरो पर सशक्त होने का मौका मिलेगा।