apple-made-in-india-iphone-14

Apple planning for made in India iPhone 14: भारत ने बीते कुछ सालों में ‘मैन्युफैक्चरिंग हब’ बनने की दिशा में अपने प्रयासों को तेज किया है, जिसमें ‘पीएलआई स्कीम‘ आदि ने भी अहम भूमिका निभाई है।

शायद यही वजह है कि अब दुनिया की बड़ी-बड़ी टेक दिग्गज कंपनियाँ भारत को सिर्फ एक बड़ी जनसंख्या वाला बाजार ना समझ कर, स्थानीय रूप से अपने प्रोडक्ट्स की मैन्युफैक्चरिंग करने संबंधित संभावनाएँ भी तलाश रही हैं।

ऐसी तमाम ख़बरें सबसे पहले पाने के लिए जुड़ें हमारे टेलीग्राम चैनल से!: (टेलीग्राम चैनल लिंक)

इसी क्रम में अब एक कदम और आगे बढ़ाते हुए, टेक दिग्गज Apple जल्द भारत में iPhone 14 का उत्पादन शुरू कर सकता है। जी हाँ! आने वाले 2 से 3 महीनों में आपको मेड-इन-इंडिया iPhone 14 देखनें को मिल सकता है।

असल में यह जानकारी ब्लूमबर्ग की एक हालिया रिपोर्ट के जरिए सामने आई है, जिसके अनुसार, Apple Inc चीन से अपनी मैन्युफ़ैक्चरिंग क्षमता को धीरे-धीरे अन्य देशों में भी शिफ़्ट करने के मकसद में आगे बढ़ते हुए, भारत में iPhone 14 का निर्माण शुरू करने की योजना बना रही है।

रिपोर्ट के अनुसार, भारत में iPhone 14 का उत्पादन असल में चीन में इसकी रिलीज के 2 से 3 महीने बाद ही शुरू किया जाएगा।

अब तक सामने आई जानकारी के मुताबिक, Apple इस साल अपनी नई आईफोन सीरीज यानि iPhone 14 को आगामी सितंबर के पहले हफ्ते में वैश्विक रूप से लॉन्च करती नजर आएगी।

इस अनुसार, अगर रिपोर्ट्स को सही माना जाए तो कंपनी भारत में नवंबर के अंत या दिसंबर की शुरुआत तक मेड-इन-इंडिया iPhone 14 का प्रोडक्शन शुरू कर सकती है।

Made in India iPhone 14?

जाहिर है ये भारत में बनने वाला पहला iPhone नहीं होगा, लेकिन अब तक कंपनी किसी भी नई iPhone सीरीज के पेश होने के कम से कम 6-8 महीने बाद ही भारत में उसका निर्माण शुरू करती थी, लेकिन ऐसा पहली बार होगा कि एक नई सीरीज को पेश करने के महज दो महीने बाद ही भारत में भी उसका प्रोडक्शन शुरू हो जाएगा।

याद दिला दें साल 2017 में Apple ने सबसे पहले iPhone SE का भारत में उत्पादन शुरू किया था। इसके बाद इस लिस्ट में Apple के कुछ सबसे लोकप्रिय डिवाइस जैसे iPhone 11, iPhone 12 और iPhone 13 का नाम भी शुमार हो गया।

apple-iphone-12-production-in-india

जानकारों के अनुसार, Apple भारत में अपने आयात को तेजी से कम करना चाहती है, जिसकी वजहों में से एक है, “भारत द्वारा आयातित चीजों पर लगाए जाने वाला अधिक टैक्स।”

इसलिए अब तमाम बड़ी कंपनियाँ देश के भीतर ही अपने उत्पादों को बनाने और यहाँ तक की अन्य विश्व में निर्यात करने पर भी विचार करने लगी हैं। और Apple के लिए ये और भी अहम हो जाता है क्योंकि साल 2021 से ही भारतीय बाज़ार में इसकी हिस्सेदारी बढ़ती नज़र आई है।

इसके पहले रिसर्च एनालिस्ट Ming-Chi Kuo ने अगस्त के पहले हफ्ते में ही एक ट्वीट कर, यह संभावना व्यक्त करी थी कि इस बार Apple अपने नए iPhone 14 के ‘मेड-इन-चाइना’ वर्जन के साथ ही साथ ‘मेड-इन-इंडिया’ वर्जन का प्रोडक्शन भी करीब-करीब एक ही समय में शुरू कर सकती है।