agritech-platform-poshn-raises-rs-29-crores-funding

Agritech platform Poshn raises Rs 20 cr funding: जैसा हमनें आपको पहले भी कई बार बताया है कि बीते कुछ सालों में भारतीय स्टार्टअप ईकोसिस्टम में एग्रीटेक स्टार्टअप्स ने अपनी जगह को काफ़ी मज़बूत किया है।

और अब इसी का एक और उदाहरण सामने आया है एग्रीटेक स्टार्टअप Poshn के रूप में, जिसने Prime Venture Partners के नेतृत्व में $3.8 मिलियन (लगभग ₹29 करोड़) हासिल किए हैं। इस निवेश दौर में Zephyr Peacock ने भी भागीदारी की है।

ऐसी तमाम ख़बरें सबसे पहले पाने के लिए जुड़ें हमारे टेलीग्राम चैनल से!: (टेलीग्राम चैनल लिंक)

कंपनी के मुताबिक़, इस निवेश का इस्तेमाल तेज़ी से विस्तार करने और तकनीकी व व्यावसायिक कार्यों को लेकर टीम को बढ़ाने की दिशा में किया जाएगा।

Poshn की शुरुआत साल 2020 में शशांक सिंह (Shashank Singh) और भुवनेश गुप्ता (Bhuvnesh Gupta) ने मिलकर की थी।

poshn

कंपनी असल में एक असंगठित कृषि सप्लाई चेन बाजार में, मुख्यतः थोक संसाधित वस्तुओं की ख़रीद के लिए एक प्लेटफ़ॉर्म प्रदान करती है। इसका मक़सद संबंधित क्षेत्र में थोक व्यापार को आसान बनाते हुए सप्लाई चेन को संगठित स्वरूप प्रदान करने का है।

सरल शब्दों में समझने की कोशिश करें तो यह स्टार्टअप वस्तुओं के थोक व्यापार के संबंधित सेवाएँ प्रदान करता है जिसके तहत थोक खरीदार को मिलर्स और स्टॉक करने वालों से सीधे खरीद सकने की सुविधा मिलती है।

यह खरीदारों और विक्रेताओं को लॉजिस्टिक्स और भुगतान आदि को लेकर भी मदद करता है। इस स्टार्टअप ने अब तक ई-कॉमर्स, आधुनिक व्यापार और सामान्य व्यापार से जुड़े लगभग 100 से अधिक थोक विक्रेताओं के साथ भागीदारी की है।

इस नए निवेश को लेकर कंपनी के सह-संस्थापक, शशांक सिंह ने कहा;

“कम समय में हमने जो शुरुआती ग्राहक हासिल किए हैं, वह इस बात की पुष्टि करता है कि एग्रीटेक क्षेत्र में थोक व्यापार को कुशल, प्रभावी और निर्बाध बनाने के अपने मिशन पर हम सही दिशा में आगे बढ़ रहें हैं।”

“हमें प्रोसेस्ड एग्री जगत के साथ ही साथ ‘होलसेल प्रोक्योरमेंट सेक्टर’ में भी बहुत बड़ी संभावनाएँ नज़र आ रही हैं, ऐसा इसलिए भी है क्योंकि इस क्षेत्र में बीते समय से कोई बेहतर इनोवेशन दर्ज नहीं किया गया है।”

Poshn का दावा है कि इसने बीते 8 महीनों में 20 गुना वृद्धि दर्ज की है, और इतना ही नहीं बल्कि अगले साल तक यह 25% मासिक दर (MoM) वृद्धि का आँकड़ा छूने का लक्ष्य लेकर आगे बढ़ रहा है।

वहीं Prime Venture Partners के मैनेजिंग पार्टनर अमित सोमानी (Amit Somani) ने कहा;

“Poshn असल में कृषि सप्लाई चेन को प्रभावी और कुशल बनाने के व्यापाक प्रयासों की दिशा में की गई एक शुरुआत है। कंपनी इस दिशा में काफ़ी सार्थक रूप से आगे बढ़ती नज़र आ रही है।”