personal-care-brand-nat-habit-rasies-funding
Image Credit: Nat Habit

Startup Funding Alert – Nat Habit: भारत का डायरेक्ट-टू-कंज्यूमर (D2C) पर्सनल केयर सेगमेंट वक़्त के साथ काफ़ी व्यापक होता जा रहा है। और इसी कड़ी में अब नेचुरल पर्सनल केयर डायरेक्ट-टू-कंज्यूमर ब्रांड, Nat Habit भी $4 मिलियन (लगभग ₹30 करोड़) का निवेश हासिल करने में सफ़ल रहा है।

कंपनी के लिए इस निवेश दौर के नेतृत्व Fireside Ventures ने किया, जिसमें कंपनी के कुछ मौजूदा निवेशकों ने भी भागीदारी की।

ऐसी तमाम ख़बरें सबसे पहले पाने के लिए जुड़ें हमारे टेलीग्राम चैनल से!: (टेलीग्राम चैनल लिंक)

कंपनी के मुताबिक़, वह प्राप्त की गई इस पूँजी का इस्तेमाल अपने विकास के प्रयासों में तेज़ी लाने, मौजूदा कैटेगॉरी का विस्तार करने, बिक्री से जुड़े अन्य माध्यमों या चैनलों में स्थापित होने जैसी चीज़ों को लेकर करेगी।

साथ ही Nat Habit ज़ाहिर रूप से ब्रांड की मार्केटिंग, टीम के विस्तार और प्लेटफ़ॉर्म को बेहतर टेक्नोलॉजी से लैस करने के लिए भी इस निवेश का उपयोग करेगा।

Nat Habit की शुरुआत साल 2019 में इंजीनियरिंग बैकग्राउंड से आने वाले स्वागतिका दास (Swagatika Das) और गौरव अग्रवाल (Gaurav Agarwal) ने मिलकर की थी।

Image Credit: Nat Habit
Image Credit: Nat Habit

इस ब्रांड का दावा है कि यह बालों के लिए ताज़ा नारियल तेल, मास्क, स्क्रब और फेस क्रीम जैसी कैटेगॉरी में बेहतरीन उत्पादों की पेशकश करता है। इसके साथ ही इसके उत्पादो की सूची में उबटन, स्क्रब, फेस पैक, मॉइस्चराइज़र आदि चीज़ें भी शुमार है।

कंपनी के सह-संस्थापक, गौरव अग्रवाल के मुताबिक़;

“त्वचा, बाल और शिशु देखभाल जैसी कैटेगॉरी में कार्यरत ब्रांड  तेज़ी से Amazon, Flipkart और Tata Cliq जैसे मार्केटप्लेस पर अपनी उपस्थिति को मज़बूत कर रहें हैं।”

“हम अब तक मुख्य रूप से अपनी वेबसाइट के ज़रिए ही ब्रांड बिल्डिंग कर रहे हैं और हमारा सिर्फ़ 10% राजस्व ही मार्केटप्लेस आदि से आ राह है। पर अब हम इसको अगले स्तर पर ले जाते हुए, तमाम मार्केटप्लेसों का भी पूरा लाभ उठाने का मन बना रहे हैं।”

बता दें इसकी शुरुआत भी कंपनी ने कर दी है और हाल ही में Nat Habit ने Amazon, Flipkart, Tata Cliq और Meesho जैसे ऑनलाइन सेलिंग प्लेटफॉर्म पर अपने उत्पादों को सूचीबद्ध करना शुरू कर दिया है।

इसके साथ ही गौरव ने ऑफ़लाइन रणनीति को लेकर कहा कि एक बार जब कंपनी ₹100 करोड़ तक का रन रेट हासिल कर लेगी तब वह ऑफलाइन जगत की संभवानाओं पर भी व्यापाक रूप से ध्यान देंगें।

कंपनी के मौजूदा निवेशकों में Surge Ventures (Sequoia), Whiteboard Capital और अन्य कुछ दिग्गज़ एंजेल निवेशकों का नाम भी पहले से ही शुमार रहा है।