noida-based-edtech-startup-classplus-raises-rs-532-cr-funding

Edtech startup ClassPlus raises Rs 532 crore funding: बीते कुछ समय में ऑनलाइन एजुकेशन सेगमेंट व एडटेक सेगमेंट भारत में तेज़ी से अपनी पैंठ बनाने में सफ़ल साबित रहा है।

इसी कड़ी में अब शिक्षकों और कंटेंट निर्माताओं को ऑनलाइन पाठ्यक्रम शुरू करने में मदद करने वाला भारतीय एडटेक स्टार्टअप ClassPlus ने नए निवेश दौर में $70 मिलियन (लगभग ₹532 करोड़) का निवेश हासिल किया है।

ऐसी तमाम ख़बरें सबसे पहले पाने के लिए जुड़ें हमारे टेलीग्राम चैनल से!: (टेलीग्राम चैनल लिंक)

माना ये जा रहा है कि इस स्टार्टअप को यह नया निवेश लगभग $600 मिलियन की वैल्यूएशन पर मिला है। कंपनी के लिए इस फ़ंडिंग (या निवेश) राउंड का नेतृत्व Alpha Wave Global और Tiger Global ने किया।

इतना ही नहीं बल्कि मौजूदा निवेशक RTP Global और अबू धाबी आधारित Chimera Ventures ने एक नए निवेशक के रूप में इस दौर में भागीदारी दर्ज करवाई।

कंपनी की मानें तो प्राप्त की गई इस पूँजी का इस्तेमाल वह नए अधिग्रहणों और साझेदारियों को बढ़ावा देने तथा वैश्विक स्तर पर अपनी उपस्थिति को व्यापाक बनाने की दिशा में करती नज़र आएगी।

बता दें ClassPlus की शुरुआत साल 2018 में मुकुल रुस्तगी (Mukul Rustagi) और भास्वत अग्रवाल (Bhaswat Agarwal) ने मिलकर की थी।

यह स्टार्टअप असल में ख़ुद को एक मजबूत मोबाइल-फर्स्ट SaaS (सॉफ़्टवेयर एज़ ए सर्विस) प्लेटफॉर्म के रूप में पेश करता है, जो शिक्षकों, कंटेंट निर्माताओं और निजी कोचिंग संस्थानों को उनके वीडियो डिस्ट्रिब्यूशन, पेमेंट, कम्यूनिकेशन और ऑनलाइन आँकलन आदि को मैनेज और सुव्यवस्थित करने में मदद करता है।

ClassPlus

कंपनी का दावा है कि इसको किंडरगार्टन से ग्रेड 12 (K-12) तक के शिक्षकों तथा साथ-साथ परीक्षा तैयारी सेगमेंट से जुड़े शिक्षकों द्वारा भी तेज़ी से अपनाया जा रहा है।

दिलचस्प रूप से कंपनी के अनुसार, फिटनेस, लाइफ़स्टाइल, पर्सनल फ़ाइनेन्स, भाषा प्रशिक्षण और प्रोग्रामिंग जैसे गैर-शैक्षणिक क्षेत्रों से जुड़े कंटेंट निर्माताओं द्वारा भी प्लेटफ़ॉर्म को इस्तेमाल किया जा रहा है।

फ़िलहाल ClassPlus के मुताबिक़ उसका 75% शिक्षक आधार टियर 2 भारतीय शहरों और उसके बाहर से आता है। मौजूदा वक्त में यह 3,000 से अधिक कस्बों और भारतीय शहरों के 100,000 से अधिक शिक्षकों और कंटेंट निर्माताओं को सेवा प्रदान करने का दावा करता है।

इस नए निवेश को लेकर Alpha Wave के सह-संस्थापक, नवरोज उदवाडिया (Navroz Udwadia) ने कहा;

“हमें यह काफ़ी पसंद है कि ClassPlus असल में K-12, परीक्षाओं की तैयारियों जैसे तमाम अन्य सेगमेंट के बड़े ऑफलाइन बाजार में शिक्षकों को अपनी सेवाएँ प्रदान करने में सक्षम है।”

ग़ौर करने वाली बात ये भी है कि इस स्टार्टअप ने हाल ही में सिंगापुर, वियतनाम और मलेशिया सहित दक्षिण पूर्व एशियाई बाजारों में विस्तार की घोषणा की है।

अपनी शुरुआत से लेकर अब तक Classplus कुल रूप से लगभग $160 मिलियन से अधिक निवेश हासिल कर चुका है।

इसके मौजूदा निवेशकों की सूची में Blume Ventures, Sequoia Capital India का Surge, Spiral Ventures, Strive जैसे दिग्गज नाम शुमार हैं। भारत में कंपनी की सीधी प्रतिस्पर्धा Teachmint से मानी जाती है।