migrant-workers-job-search-startup-skillbee-raises-fresh-funding
Image Credit: Skillbee

Skillbee raises $3.2 Mn funding: प्रवासी कामगारों को नौकरी/जॉब हासिल करने में मदद करने वाले दिल्ली आधारित स्टार्टअप Skillbee ने अपने सीड फंडिंग राउंड में $3.2 मिलियन (~ ₹25 करोड़) का निवेश हासिल किया है।

कंपनी के लिए इस निवेश दौर के नेतृत्व Good Capital और Vibe Capital ने किया। इनके साथ ही Access Bridge Ventures, Wamda Capital और Bharat Founders Fund ने भी भागीदारी दर्ज की।

ऐसी तमाम ख़बरें सबसे पहले पाने के लिए जुड़ें हमारे टेलीग्राम चैनल से!: (टेलीग्राम चैनल लिंक)

निवेश दौर में राहुल चौधरी (Treebo), जिशान हयात (Toppr), विक्रम चोपड़ा (Cars24), सौरभ गर्ग (NoBroker) और हरप्रीत सिंह ग्रोवर (CoCubes) भी शामिल रहे।

इस नए निवेश का इस्तेमाल कंपनी प्रवासी श्रमिकों/कामगारों के बीच अपनी उपस्थिति को मजबूत व व्यापाक करने तथा अपने प्लेटफ़ॉर्म पर नौकरियाँ प्रदान करने वाली कंपनियों की संख्या को दोगुना करने को लेकर करेगी।

इसके साथ ही कंपनी का इरादा अब अपने ऐप पर प्रदान की जा रही सेवाओं में और नई चीज़ों को जोड़ने का भी है।

Skillbee की शुरुआत साल 2020 में उज्जवल चौहान (Ujjawal Chauhan) और गौतम विंजामुरी (Gautham Vinjamuri) ने मिलकर की थी।

कंपनी मुख्य रूप से अंतर्राष्ट्रीय प्रवासी कामगारों (Migrant Workers) को नौकरी के अवसरों को तलाशनें में मदद करती है। इस स्टार्टअप का ये भी दावा है कि फ़िलहाल इसने प्लेटफॉर्म पर 5 लाख से अधिक प्रवासी कामगारों उपयोगकर्ता पंजीकृत कर चुके हैं।

इतना ही नहीं बल्कि कंपनी का ये भी दावा है कि भारत, नेपाल, बांग्लादेश, फिलीपींस और अन्य अफ्रीकी देशों सहित विभिन्न देशों के श्रमिकों/कामगारों को नौकरी देने के लिए अब तक 20,000 से अधिक कंपनियों ने ऐप पर साइन-अप किया है।

migrant-workers-jobs

इस स्टार्टअप की मानें तो वर्तमान में इसके ऐप पर हर दिन क़रीब 2,000 नए उपयोगकर्ता साइन-अप कर रहें हैं, जिसके चलते ये मासिक आधार पर 20% तक की वृद्धि दर्ज कर रही है।

इस निवेश को लेकर सह-संस्थापक, गौतम विंजामुरी ने कहा;

“इस नए निवेश दौर में हम दिग्गज़ निवेशकों और संस्थापकों को जोड़ते हुए बेहद उत्साहित हैं और हमारे मिशन व विजन में उनका विश्वास यह दर्शाता है कि ह्यूमन कैपिटल कितना अगम सेक्टर है।”

“अपने महत्वाकांक्षी लक्ष्य की ओर आगे बढ़ते हुए अब Skillbee जल्द ही क्रेडिट और बीमा जैसी सेवाओं की पेशकश भी करता नज़र आएगा।”

कंपनी ने यूएई (संयुक्त अरब अमीरात) में 10 ब्रांडों के साथ साझेदारी की है, जो इसके प्लेटफॉर्म का इस्तेमाल करते हुए प्रवासी कामगारों (Migrant Workers) को नौकरी दे रहें हैं।

दिलचस्प ये है कि कामगारों को बेहतर बनाने के लिए कंपनी कुछ प्रशिक्षण संस्थानों के साथ भी साझेदारी कर रही है, ताकि यूएई में बेहतर रूप से कामगारों की माँगों को पूरा किया जा सके।

वहीं Good Capital के मैनेजिंग पार्टनर रोहन मल्होत्रा (Rohan Malhotra) ने कहा;

“तमाम देशों के बीच की सीमाएं तेज़ी से पास आ रही हैं, और हमारा मानना ​​है कि Skillbee एक ऐसा प्लेटफॉर्म साबित होगा जो विकसित देशों में नौकरियों के व्यापक अवसर और विकासशील देशों में कामगारों के बीच के अंतर को कम कर सकेगा।”