prozo-raises-rs-76-cr-from-sixth-sense-ventures

Prozo – Startup Funding News: नोएडा आधारित सप्लाई चेन, वेयरहाउसिंग और लॉजिस्टिक्स केंद्रित स्टार्टअप Prozo का संचालन करने वाली मूल कंपनी, Prozo Distribution Pvt Ltd ने Sixth Sense Ventures ने नेतृत्व में लगभग ₹76 करोड़ ($10 मिलियन) का निवेश हासिल किया है।

इस निवेश दौर में Jafco Asia और अन्य कई दिग्गज़ व्यक्तिगत निवेशकों ने भी अपनी भागीदारी दर्ज करवाई है।

ऐसी तमाम ख़बरें सबसे पहले पाने के लिए जुड़ें हमारे टेलीग्राम चैनल से!: (टेलीग्राम चैनल लिंक)

कंपनी की मानें तो इस निवेश का इस्तेमाल वह देश भर में अपने इंफ़्रास्ट्रक्चर ढांचे को बेहतर करने, अपनी तकनीकी क्षमता के विकास और अधिक से अधिक बाजारों में अपने विस्तार के लिए करेगी।

साल 2014 में Prozo की शुरुआत भारतीय नौसेना के पूर्व लेफ्टिनेंट कमांडर और McKinsey & Company के पूर्व सलाहकार, डॉ अश्विनी जाखड़ (Dr Ashvini Jakhar) द्वारा की गई थी।

Prozo

Prozo असल में छोटे और मध्यम उद्यमों व उपभोक्ता ब्रांडों को सीधे Amazon जैसे आपूर्ति केंद्र प्रदान करता है।

कंपनी Reliance Jio, WH Smith, McGraw Hill, MPL Sports, DaMENSCH, Pee Safe, 10Club, Lavie, WinMagic और Wolters Kluwer जैसे बड़े नामों को भी अपने ग्राहकों की लिस्ट में शुमार रखती है।

तकनीक के लिहाज़ से कंपनी के पास कुछ बेहतरीन स्टैक मौजूद हैं जैसे – वेयरहाउस (गोदाम) मैनेजमेंट सिस्टम, एकीकृत ऑर्डर मैनेजमेंट सिस्टम, ट्रांसपोर्ट मैनेजमेंट सिस्टम, इंटेलीजेंट इन्वेंटरी प्लेसमेंट और इन्सायट्स और विश्लेषण उत्पाद आदि।

इस नए निवेश को निवेश को लेकर डॉ अश्विनी जाखड़ ने कहा;

“Prozo अपने फ़ुल-स्टैक, एंड-टू-एंड, मल्टी-चैनल आपूर्ति समाधानों के माध्यम से ब्रांडों और उद्यमों के लिए ई-कॉमर्स सप्लाई चेन में एक नई क्रांति ला रहा है।”

जाखड़ के अनुसार, ई-कॉमर्स की गहरी पैठ और ब्रांडों के प्रसार ने कारोबार के लिए मजबूत परिस्थितियाँ प्रदान की हैं, जिसके चलते कंपनी महीने दर महीने के हिसाब से क़रीब 40% की बढ़त दर्ज कर रही है।

वहीं Sixth Sense Ventures के संस्थापक और सीईओ निखिल वोरा (Nikhil Vora) ने कहा;

“Prozo एक बहुत बड़े बाजार में एक प्रमुख समस्या को हल कर रहा है। 2025 तक, भारत का ई-कॉमर्स बाजार लगभग 340 मिलियन ई-कॉमर्स ग्राहकों के साथ $200 बिलियन के आँकड़े को पार कर सकता है।”