rbi-to-soon-launch-e-rupee-on-pilot-basis

Snapmint – Startup Funding News: बाय-नाउ-पे-लेटर की तर्ज़ पर काम करने वाले प्लेटफ़ॉर्म Snapmint ने सीरीज़-ए फंडिंग दौर में $9 मिलियन (₹68 करोड़) का निवेश हासिल किया है।

कंपनी के लिए इस निवेश दौर कर नेतृत्व Prudent Investment Managers के प्रशस्त सेठ (Prashasta Seth) ने किया।

ऐसी तमाम ख़बरें सबसे पहले पाने के लिए जुड़ें हमारे टेलीग्राम चैनल से!: (टेलीग्राम चैनल लिंक)

वैसे इस दौर में 9Unicorns, Anicut Capital, Negen Capital, Livspace के संस्थापक – रमाकान्त शर्मा (Ramakant Sharma) आदि ने भी भागीदारी दर्ज करवाई।

फिनटेक स्टार्टअप Snapmint का संचालन इसकी मूल कंपनी Snapmint Credit Advisory द्वारा किया जाता है।

Snapmint की शुरुआत साल 2017 में नलिन अग्रवाल (Nalin Agrawal), अनिल गेलरा (Anil Gelra), अभिनीत सावा (Abhineet Sawa) और राहुल अग्रवाल (Rahul Agarwal) द्वारा की गई थी।

snapmint

कंपनी असल में छोटी किश्तों का उपयोग करके और मासिक भुगतान लागत विकल्पों के बिना किसी भी लाइफ़स्टाइल कैटेगॉरी के उत्पादों या मोबाइल फोन खरीदने के लिए Buy-Now-Pay-Later (BNPL) सुविधा प्रदान करती है।

वर्तमान में इस फिनटेक प्लेटफॉर्म पर 4 मिलियन से अधिक उपभोक्ता हैं, जिनमें से कई छोटे शहरों से हैं। कंपनी देश भर के 27,000 से अधिक पिन-कोड पर सेवाएँ प्रदान करती है।

निवेश के साथ, स्नैपमिंट व्यापारियों के अपने नेटवर्क का विस्तार करने, नवीन उत्पादों का एक सूट लॉन्च करने और अधिक ग्राहकों को जोड़ने की योजना बना रहा है।

भारत का रिटेल बाज़ार क़रीब $810 बिलियन के साथ दुनिया का चौथा सबसे बड़ा बाजार है, और इस बात में कोई शक नहीं है कि किफायती लोन विकल्प सेगमेंट इस बाजार में तेज़ी से बढ़त हासिल करता नज़र आ रहा है।

Snapmint के सह-संस्थापक, नलिन अग्रवाल ने कहा;

“यह निवेश हमारी विस्तार योजनाओं को बढ़ावा देगा क्योंकि हम अपने मर्चेंट पार्टनर्स आधार को पूरे भारत में 50 गुना बढ़ाने की योजना बना रहे हैं और अपने ग्राहकों के लिए एक अनूठा खरीदारी अनुभव प्रदान करना चाहते हैं।”