swiggy-turns-decacorn-raises-700-mn--dollar-at-10-billion-dollar-valuation

Swiggy turns Decacorn: फ़ूड डिलीवरी ऐप्स आज के समय में काफ़ी लोगों के मोबाइल में एक अहम ऐप बन चुके हैं। और इसी क्षेत्र में एक जाना पहचाना नाम है स्विगी (Swiggy), जिसने अब नए निवेश के रूप में ₹5000 करोड़ से अधिक का फ़ंड हासिल किया है।

जी हाँ! फूड-ऑर्डरिंग और इंस्टेंट ग्रॉसरी डिलीवरी प्लेटफॉर्म, Swiggy ने हालिया फ़ंडिंग राउंड में $700 मिलियन (लगभग ₹5300 करोड़) का निवेश हासिल किया है।

ऐसी तमाम ख़बरें सबसे पहले पाने के लिए जुड़ें हमारे टेलीग्राम चैनल से!: (टेलीग्राम चैनल लिंक)

कंपनी के लिए इस निवेश दौर के नेतृत्व Invesco ने किया। इसके अलावा कुछ नए निवेशकों जैसे जैसे – Baron Capital Group, Sumeru Venture, IIFL AMC Late Stage Tech Fund, Kotak, Axis Growth Avenues AIF-I, Sixteenth Street Capital, Ghisallo, Smile Group और Segantii Capital ने भी भागीदारी की।

साथ ही कुछ मौजूदा निवेशक जैसे – Alpha Wave Global, Qatar Investment Authority, ARK Impact और Prosus भी इस निवेश दौर में शामिल हुए।

Swiggy turns Decacorn?

वैसे साफ़ कर दें कि Swiggy या किसी निवेशकों की तरफ़ से अधिकारिक रूप से निवेश के दौरान कंपनी की आँकी गई वैल्यूएशन का ख़ुलासा नहीं किया गया है।

लेकिन ET की एक रिपोर्ट में डील से संबंधित सूत्रों के अनुसार ये सामने आया है कि इतना बड़ा निवेश कंपनी को $10.7 बिलियन (लगभग ₹80,000 करोड़) की वैल्यूएशन पर मिला है।

swiggy Bazaar

साफ़ है कि Swiggy अब भारत के डेकाकॉर्न (Decacorn) स्टार्टअप्स की लिस्ट में शुमार हो चुका है। डेकाकॉर्न का मतलब उन स्टार्टअप्स से होता है, जिनका मूल्यांकन (वैल्यूएशन) $10 बिलियन से अधिक हो जाए, क्योंकि $1 बिलियन से अधिक वैल्यूएशन वाले स्टार्टअप्स को यूनिकॉर्न (Unicorn) का दर्जा दिया जाता है।

ग़ौर करने वाली बात ये है कि इस निवेश दौर के पहले Swiggy की वैल्यूएशन $5.5 बिलियन थी, जो इस निवेश के साथ सीधी दोगुनी हो गई है।

बता दें, इसके पहले Swiggy ने पिछले साल अप्रैल 2021 में SoftBank, Accel और अन्य निवेशकों से $1.25 बिलियन की राशि जुटाई थी।

ये निवेश इसलिए भी अहम हो जाता है क्योंकि Swiggy अपनी Instamart सर्विस के साथ देश में तेज़ी से बढ़ते इंस्टेंट ग्रॉसरी डिलीवरी जगत में अपनी पैठ बनाने की कोशिश कर रहा है।

बीते साल दिसंबर 2021 में ही कंपनी ने अपनी इस किराना डिलीवरी सर्विस शाखा के लिए $700 मिलियन के निवेश का ऐलान किया था।

यह वही वक़्त था जब Instamart द्वारा हर हफ़्ते 10 लाख से अधिक ऑर्डर प्राप्त करने का दावा किया जा रहा था, और तब कंपनी देश के 18 शहरों में लगभग 150 डार्क स्टोर के नेटवर्क के साथ अपना संचालन कर रही थी।

Swiggy और Instamart की कोशिशें इसलिए भी अहम हो जाती हैं क्योंकि भारत में Swiggy के सबसे बड़े प्रतिद्वंदी Zomato द्वारा समर्थित Blinkit (जो पहले Grofers नाम से जाना जाता था) 10 मिनट में ग्रोसरी डिलीवरी जैसी सुविधाओं के साथ मार्केट में तेज़ी से हिस्सेदारी बढ़ाने के प्रयास कर रहा है।