microsoft-buying-gaming-giant-activision-blizzard-for-69-bn-dollar

Microsoft + Activision Blizzard: टेक दिग्गज़ माइक्रोसॉफ़्ट (Microsoft) ने ऐलान किया है कि ये आज तक की अपनी सबसे महँगी शॉपिंग करने जा रही है। जी हाँ! असल में कंपनी ने ‘Candy Crush’ और ‘Call of Duty’ जैसे बेहद लोकप्रिय गेम बनाने वाली गेमिंग दिग्गज़ कंपनी एक्टिविज़न ब्लिज़ार्ड (Activision Blizzard) को $68.7 बिलियन (क़रीब ₹5 लाख करोड़) में ख़रीदने का ऐलान किया है।

ये सौदा दोनों कंपनियों के लिए फ़िलहाल फ़ायदेमंद ही है, क्योंकि कि एक तरफ़ जहाँ Microsoft इसके ज़रिए गेमिंग जगत में अपना व्यापाक प्रसार कर सकेगी, वहीं Activision Blizzard को भी अपने हालिया विवादों से पीछा छुड़ाने का अवसर मिल सकता है।

ऐसी तमाम ख़बरें सबसे पहले पाने के लिए जुड़ें हमारे टेलीग्राम चैनल से!: (टेलीग्राम चैनल लिंक)

सही सुना आपने! विवाद, असल में कुछ ही समय पहले Activision Blizzard पर महिलाओं के साथ भेदभाव और यौन उत्पीड़न जैसे मुद्दों को लेकर गंभीर आरोप लगे और कंपनी को भारी आलोचना का सामना करना पड़ा।

शायद ये भी एक वजह रही थी कि इसने पिछले साल नवंबर में पेश होने जा रहे Diablo और Overwat गेम्स के सीक्वल को लॉन्च करने में देरी की।

ज़ाहिर है इन आरोपों का असर कंपनी के शेयरों में भी भारी गिरावट के रूप में दिखा, और इसने Q4 2021 के लिए  जानकारों के बिक्री संबंधित पूर्वानुमान से भी कम प्रदर्शन किया।

ख़ैर! अब कंपनी शुद्ध कैश डील के तहत Microsoft द्वारा $68.7 बिलियन में ख़रीदी जा रही है। आपके लिए ये इसलिए भी अहम हो जाता है क्योंकि एक बार इस डील के पूरा होने के बाद Overwatch, Diablo, Call of Duty, Candy Crush, Spider-Man गेम्स और World of Warcraft जैसे गेम्स पर Microsoft का स्वामित्व होगा।

 

इस सौदे को लेकर Microsoft के अध्यक्ष और सीईओ सत्या नडेला ने कहा,

“आज सभी प्लेटफार्मों पर मनोरंजन को लेकर गेमिंग सबसे तेज़ी से लोकप्रिय होता क्षेत्र है और ये मेटावर्स (Metaverse) प्लेटफॉर्म के विकास में भी अहम रोल निभाएगा।”

माइक्रोसॉफ्ट (Microsoft) की मानें तो ये सौदे के बाद इसको मोबाइल, पीसी, कंसोल और क्लाउड में अपने गेमिंग व्यवसाय में वृद्धि देखने को मिलेगी और Metaverse के निर्माण में भी ये एक ‘बिल्डिंग ब्लॉक’ का काम करेगा।

ज़ाहिर है Microsoft के पास वर्तमान में क़रीब 25 मिलियन उपयोगकर्ता आधार वाले Xbox Game Pass और पीसी गेम्स का एक व्यापाक अनुभव है और अब Activision Blizzard के ज़रिए इस अनुभव को अगले स्तर पर ले ज़ाया जा सकता है। असल में मोबाइल गेमिंग दुनिया भर में लगभग 95% गेमर्स द्वारा अपनाए जाते हैं।

वैसे Activision Blizzard के पास भी क़रीब 190 देशों में लगभग 400 मिलियन मासिक सक्रिय उपयोगकर्ता हैं।

दिलचस्प ये है कि इसके पहले साल 2020 में Microsoft ने क़रीब $7.5 बिलियन में Bethesda का भी अधिग्रहण किया था, जो The Elder Scrolls V: Skyrim के लिए जानी जाती है।

उम्मीद ये है कि Microsoft और Activision Blizzard के बीच ये सौदा साल 2023 तक पूरा होगा। और एक बार इस डील के होने के बाद Microsoft राजस्व के मामले में दुनिया की तीसरी सबसे बड़ी गेमिंग कंपनी बन जाएगी।

लेकिन इस सौदे के पूरा होने पर ये दोनों कंपनियाँ स्वतंत्र रूप से काम करती नज़र आएँगी और फ़िलहाल Bobby Kotick ही बतौर सीईओ Activision Blizzard का नेतृत्व करेंगे।