pm-modi-declares-jan-16-as-national-startup-day
Credit: Wikimedia Commons

National Startup Day: आजादी के अमृत महोत्सव के हिस्से के रूप में शनिवार को 150 से अधिक स्टार्टअप्स के साथ बातचीत करते हुए, प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी (PM Modi) ने यह ऐलान किया है कि अब से हर 16 जनवरी को ‘राष्ट्रीय स्टार्टअप दिवस (National Startup Day)’ के रूप में मनाया जाएगा।

ऐसी तमाम ख़बरें सबसे पहले पाने के लिए जुड़ें हमारे टेलीग्राम चैनल से!: (टेलीग्राम चैनल लिंक)

इस दौरान भारत के प्रधानमंत्री मोदी ने स्टार्टअप्स को नए भारत की रीढ़ बताया और ये उम्मीद जताई कि भारत की आजादी के 100 साल पूरे करने तक स्टार्टअप्स एक बहुत अहम भूमिका निभा रहें होंगें।

पीएम मोदी ने कहा

“इस दशक को भारत का ‘techade’ कहा जा रहा है। इसलिए देश को इनोवेशन की दिशा में मजबूत करने, उद्यमिता और स्टार्ट-अप ईकोसिस्टम को परेशानी मुक्त करने के लिए सरकार ‘सरकारी प्रक्रियाओं’ से लेकर ‘नौकरशाही’ आदि चीज़ों में बड़े बदलाव कर रही है।”

पीएम मोदी ने इस बात को भी प्रमुखता से सामने रखा कि भारत के स्टार्टअप अब 55 अलग-अलग उद्योग क्षेत्रों में काम कर रहें हैं। पांच साल पहले भारत में 500 स्टार्टअप भी नहीं थे, लेकिन आज यह संख्या 60,000 को पार कर गई है।

pm-modi-warns-on-cryptocurrency

नरेंद्र मोदी ने अपने संबोधन के दौरान युवाओं की क्षमता और रचनात्मकता में विश्वास करने को ही, किसी भी राष्ट्र के विकास का आधार बताया। उन्होंने कहा;

“भारत आज अपने युवाओं में विश्वास करता है और उसी के अनुरूप नीतियां बना रहा है।”

असल में ये यह आयोजन आजादी के अमृत महोत्सव के तहत मनाए जा रहे “सेलिब्रेटिंग इनोवेशन इकोसिस्टम” (Celebrating Innovation Ecosystem) कार्यक्रम का ही एक हिस्सा रहा।

इस दौरान प्रधानमंत्री ने शनिवार को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए 150 से अधिक स्टार्टअप्स के संस्थापकों से बातचीत करते हुए प्रत्यक्ष संवाद क़ायम किया।

प्रधानमंत्री कार्यालय (पीएमओ) के मुताबिक़, इस प्रोग्राम का आयोजन 10 से 16 जनवरी तक वाणिज्य और उद्योग मंत्रालय के उद्योग और आंतरिक व्यापार संवर्धन विभाग (DPIIT) द्वारा की जा रही है।

इस कार्यक्रम का लॉन्च सरकार की बेहद लोकप्रिय स्टार्टअप इंडिया (Startup India) पहल के 6वीं वर्षगांठ के मौके के रूप में भी किया जा रहा है।