eggs-delivery-startup-eggoz-funding-news

Eggs Delivery Startup – Eggoz: भारत का ऑनलाइन कॉमर्स बाज़ार अब पारंपरिक श्रेणियों से अलग हटकर भी विकास का गवाह बन रहा है। और अब इसका ताज़ा उदाहरण समाने आया है Eggoz के रूप में!

जी हाँ! असल में फ़्रेश और केमिकल फ़्री अंडो की डिलीवरी  सुविधा प्रदान करने वाले भारतीय स्टार्टअप Eggoz ने अपने सीरीज ए निवेश दौर (फंडिंग राउंड) में $3.5 मिलियन (लगभग ₹26 करोड़) जुटाए हैं।

ऐसी तमाम ख़बरें सबसे पहले पाने के लिए जुड़ें हमारे टेलीग्राम चैनल से!: (टेलीग्राम चैनल लिंक)

कंपनी के लिए इस निवेश दौर के नेतृत्व NABVENTURES ने किया, जिसमें Avaana Capital, Rebright Partners, Bellerive Capital भी शामिल हुए।

साथ ही साथ संजीव रंगरास (Sanjiv Rangrass) तथा इंद्रेश सलूजा (Indresh Saluja) जैसे एंजेल निवेशकों ने भी इस निवेश दौर में अपनी भागीरदारी दर्ज करवाई।

Eggs Delivery Startup Eggoz raises fresh funding

बता दें गुरुग्राम आधारित Eggoz की शुरुआत साल 2017 में अभिषेक नेगी (Abhishek Negi), उत्तम कुमार (Uttam Kumar), आदित्य सिंह (Aditya Singh) द्वारा की गई थी।

कंपनी देशी पोल्ट्री किसानों से ताजा, केमिकल फ़्री अंडे खरीदती है और उन्हें खुदरा विक्रेताओं को वितरित करती है। कंपनी के दावे के अनुसार वह किसानों से लेने के बाद 24 घंटे के भीतर ही ग्राहकों तक सप्लाई पहुँचा देती है।

फ़िलहाल कंपनी दिल्ली-एनसीआर, प्रयागराज (इलाहाबाद), भोपाल, चंडीगढ़, इंदौर, पटना और रांची सहित अन्य शहरों में अपना संचालन कर रही है।

ग़ौर करने वाली बात ये है कि ये स्टार्टअप IoT इन्फ्रास्ट्रक्चर और अन्य तकनीकों का इस्तेमाल करते हुए पोल्ट्री किसानों के साथ मिलकर काम करने का दावा करत है।

eggos-eggs-delivery-app

Eggoz अंडो को ख़रीदने से पहले 11 सुरक्षा मापदंडो की जाँच करता है, जिसमें pH टेस्टिंग, क्वॉलिटी ग्रेडिंग, सफ़ाई और UV सैनेटाइजेशन आदि जैसी चीजें शामिल है। इसके बाद वह अंडों को बॉक्स में पैक करता है और एक ओमनीचैनल मॉडल (ऑनलाइन + ऑफ़लाइन) के माध्यम से इनको बेचता है। इसके ग्राहकों में किराना स्टोर, मिनी मार्केट, सुपरमार्केट और ई-कॉमर्स प्लेटफॉर्म तक शामिल हैं।

प्राप्त किए गए इस नए निवेश का इस्तेमाल कंपनी बाज़ार में अपने ब्रांड फुटप्रिंट को बढ़ाने, नए अंडा-आधारित उत्पादों को लॉन्च करने और नए भौगोलिक क्षेत्रों में प्रवेश करने के लिए करती नज़र आएगी।

इस निवेश को लेकर Eggoz के सह-संस्थापक, अभिषेक नेगी ने कहा;

“Eggoz के ज़रिए हम पहले ऐसे देशव्यापी फार्म-टू-कंज्यूमर ब्रांड का निर्माण कर रहे हैं जो बेहतर क्वॉलिटी, और ताजे उत्पादों को लोगों तक पहुँचा सके। पिछले चार सालों में हमने अपने इस मॉडल को विकसित किया है और अब तेजी से विकास के लिए तैयार हैं।”

आँकड़ो की बात करें तो भारतीय पोल्ट्री बाजार की एक श्रेणी जिसमें ब्रॉयलर चिकन मांस और अंडे दोनों शामिल हैं, 2017 में क़रीब ₹149,400 करोड़ ($19.7 बिलियन) का था, जो एक अनुमान के अनुसार 2023 तक ₹377,500 करोड़ $49.96 बिलियन) तक पहुंच जाएगा।

एक और दिलचस्प आँकड़ा आपको बता दें कि महामारी के दौरान, भारत की प्रति व्यक्ति अंडे की खपत 2019 में 75 अंडे प्रति वर्ष से बढ़कर 2020 में 81 अंडे प्रति वर्ष हो गई है।

NABVENTURES के उपाध्यक्ष, गिल्स जॉन (Gills John) ने अपने बयान में कहा;

“हमारा मानना ​​है कि Eggoz की यह पहल किसानों की आय में वृद्धि करते हुए उत्तर भारत में अंडा उत्पादन को खपत केंद्रों से सुलभता से जोड़ने या करीब लाने का काम करेगी। हम ग्रामीण क्षेत्रों में किसानों और अन्य सामुदायिक समूहों के बीच अपनी पैठ बढ़ाने के लिए Eggoz के साथ मिलकर काम करेंगे।”