instant-grocery-delivery-startup-zepto-funding-news

Startup Funding News (Hindi) – Zepto: देश का क्विक (तेज) कॉमर्स डिलीवरी जगत बीते कुछ सालों में बड़े पैमाने पर वृद्धि दर्ज करता नज़र आया है। हाल ही में ही लोकप्रिय ग्रोसरी डिलीवरी प्लेटफ़ॉर्म Grofers का अपना नाम बदलकर Blinkit करते हुए इस सेगमेंट में प्रवेश करना, एक हालिया उदाहरण के रूप में देखा जा सकता है।

और अब मुंबई आधारित इंस्टेंट ग्रॉसरी डिलीवरी स्टार्टअप Zepto ने भी Y Combinator के नेतृत्व में नए निवेश दौर (फंडिंग राउंड) में $100 मिलियन (क़रीब ₹755 करोड़) जुटाए हैं।

ऐसी तमाम ख़बरें सबसे पहले पाने के लिए जुड़ें हमारे टेलीग्राम चैनल से!: (टेलीग्राम चैनल लिंक)

दिलचस्प ये है कि भारत के तेज़ी से बढ़ते क्विक कॉमर्स सेगमेंट में उतरे Zepto को अभी क़रीब पांच महीना ही हुआ है और इतने कम समय में ही कंपनी की वैल्यूएशन $570 मिलियन पहुँच चुकी है।

Zepto -Startup Funding News (Hindi):

अप्रैल 2021 में स्टैनफोर्ड यूनिवर्सिटी ड्रॉपआउट आदित पालिचा (Aadit Palicha) और कैवल्या वोहरा (Kaivalya Vohra) द्वारा शुरू किया गया Zepto एक क्विक डिलीवरी ऐप है जो उपयोगकर्ताओं को 10 मिनट या उससे कम समय में किराने (ग्रोसरी) संबंधी सामान प्रदान करने का दावा करता है।

zepto

कंपनी के सह-संस्थापक का दावा है कि स्टार्टअप द्वारा की जानें वाली डिलीवरी में औसत समय क़रीब 8 मिनट 47 सेकंड का है। ये इसलिए भी दिलचस्प हो जाता है क्योंकि बीते दिन ही Zomato समर्थित Blinkit (Grofers) ने ये ऐलान किया था कि वह उन शहरों में अपनी सेवाएँ अस्थाई रूप से बंद कर रहा है जहाँ वो 10-मिनट में डिलीवरी करने में असमर्थ है।

कंपनी के सह-संस्थापक और सीईओ, आदित पालिचा के मुताबिक़ कंपनी द्वारा इस नई फ़ंडिंग के क़रीब 45 दिनों पहले ही लगभग $225 मिलियन की वैल्यूएशन पर $60 मिलियन का निवेश हासिल किया गया था।

मतलब ये कहना गलत नहीं होगा कि Zepto ने महज़ 2 महीने से भी कम समय में अपनी वैल्यूएशन को दोगुना कर लिया है।

वैसे आपको बता दें इस नए निवेश दौर में Y Combinator के Continuity Fund के अलावा Glade Brook Capital Partners, Nexus Venture Partners, Breyer Capital और सिलिकॉन वैली आधारित निवेशक Lachy Groom ने भी भागीदारी दर्ज की।

Zepto Funding News

अपने बयान में Zepto के सह-संस्थापक और सीईओ, आदित पालिचा ने बताया;

“प्राप्त की गई इस नई पूंजी का बड़ा हिस्सा कंपनी मेट्रो शहरों से परे संचालन कवरेज का विस्तार करने और टीम के आकार का विस्तार करने को लेकर करेगी।”

बता दें फ़िलहाल Zepto मुंबई, बेंगलुरु, दिल्ली, हैदराबाद, चेन्नई और गुरुग्राम सहित प्रमुख मेट्रो शहरों में अपनी सेवाएँ दे रहा है। साथ ही कुछ ही दिनों पहले इसने पुणे में भी सफ़ल लॉन्च किया है और जल्द कोलकाता में भी संचालन शुरू करने जा रहा है।

ये निवेश ऐसे वक़्त में मिला है जब इस सेगमेंट में फूड डिलीवरी एग्रीगेटर Swiggy समर्थित Instamart, Zomato समर्थित Blinkit (Gorfers) और माइक्रो-डिलीवरी प्लेटफॉर्म Dunzo तेज़ी से भारी भरकम राशि और अनुभव का इस्तेमाल करते हुए देश भर में विस्तार के मौक़े तलाश रहें हैं।

सिर्फ़ 5 महीने पुराने इस स्टार्टअप का दावा है कि ये हर कुछ दिन में एक नया डार्क स्टोर खोल रहा है। और प्लेटफ़ॉर्म इतना तेज है कि ऑर्डर मिलने के क़रीब 60 सेकंड के बाद ही डिलीवरी कर्मी ऑर्डर के साथ डिलीवरी के लिए निकल जाते हैं।

वैसे वर्तमान में कंपनी क़रीब 400 लोगों को रोज़गार दे रही है, लेकिन आदित की मानें तो ये स्टार्टअप हर हफ्ते कुछ नए सदस्यों को काम पर रख रहा है।