grofers-becomes-blinkit

Blinkit (Grofers) Shutdown Services: हाल ही में ही Gorfers से अपना नाम बदलकर Blinkit रखने वाली दिग्गज़ ग्रोसरी डिलीवरी कंपनी ने आज एक बड़ा ऐलान किया है।

असल में Blinkit ने अब उन सभी जगहों पर अपना संचालन रोक (संभवतः अस्थाई रूप से) दिया है जहाँ वो फ़िलहाल 10-मिनट में डिलीवरी नहीं कर पा रही है।

ऐसी तमाम ख़बरें सबसे पहले पाने के लिए जुड़ें हमारे टेलीग्राम चैनल से!: (टेलीग्राम चैनल लिंक)

आपको बता दें कि Grofers ने नाम बदलकर Blinkit रखने के पीछे की वजह यही थी कि कंपनी अब पूरी तरह से क्विक कॉमर्स कंपनी के रूप में उभरना चाहती है, मतलब जो पलट झपकते ही आपका ऑर्डर आपको डिलीवर कर दे।

इसके लिए कंपनी ने नाम बदलने के अपने ऐलान के समय ये बात भी साफ़ कर दी थी कि ये अब से 10-मिनट में ग्रोसरी संबंधी ऑर्डर्स को डिलीवर करने के लिए जानी जाएगी।

लेकिन कई ऐसे शहर भी हैं जहाँ अभी भी कंपनी अगले दिन या कुछ दिनों बाद ही सामान डिलीवर कर पा रही थी और इसलिए अब कंपनी ने अपनी USP (यूनिक सेलिंग प्वाइंट) से समझौता ना करते हुए इस बड़े कदम को उठाया है।

कंपनी के सह-संस्थापक, अलबिंदर ढींडसा ने सोमवार को एक ट्वीट करके इसकी जानकारी देते हुए कहा;

“आने वाले समय में हमारा ये फ़ैसला हमारे व्यापार के आकार और हमारे ग्राहकों की एक बड़ी संख्या को प्रभावित करेगा।”

“हमारा मानना है कि ये कदम हमारे क़रीब 200,000 दैनिक ग्राहकों में से लगभग 75,000 को प्रभावित करेगा। पर यक़ीन मानिए कंपनी तेजी से अपने नए स्वरूप को लेकर आगे बढ़ रही है और हर 4 घंटे में एक नया स्टोर खोल रही है, इसलिए हमें उम्मीद है कि आने वाले 4 हफ़्तों में हम अपने सभी प्रभावित ग्राहकों के लिए सेवाओं को फिर से बहाल कर पाएँगें।”

Blinkit (Grofers) Shutdown Services

असल में इस फ़ैसला स्वाभाविक भी लगता है, नाम बदलकर तेज़ कॉमर्स डिलीवरी सेगमेंट में उतरने वाली Blinkit (पूर्व में Grofers) को अब नए नाम के साथ नए प्रतिद्वंदी भी मिले हैं।

grofers-changes-its-name-to-blinkit-promises-10-minute-delivery
Credit: Grofers (Blinkit) Blogs

कंपनी अब Zepto, Swiggy के Instamart और Google समर्थित Dunzo जैसे अच्छे ख़ासे निवेश हासिल कर चुके स्टार्टअप्स के साथ टक्कर ले रही है और इनमें से अधिकतर 10 से 20 मिनट में किराने (ग्रोसरी) के सामान व अन्य आवश्यक सामानों की डिलीवरी करने का वादा करते हैं।

इसी को लेकर ढींडसा ने अपने पोस्ट में कहा,

“हमें उम्मीद है कि हम अपने 10 मिनट में डिलीवरी के वादे के अनुसार काम करते नज़र आएँगें और इसलिए हम अपने प्रभावित ग्राहकों से पहले ही माफी मांगना चाहते हैं।”

“हमें पता है कि सेवाओं को बंद करने से कहीं ज़्यादा अच्छा है कि 15 या 20 मिनट में डिलीवरी कर देना। लेकिन हम अपने वादे यानि 10 मिनट के भीतर डिलीवरी करने की दिशा में तत्पर है और ख़ुद को वैसे ही तैयार करना चाहते हैं।”

“हर शहर अलग है। और इसलिए हमें उन हर कम्यूनिटी के हिसाब से तैयार होने की ज़रूरत है।”

आपको बता दें Blinkit फ़िलहाल 12 शहरों में मौजूद है, लेकिन ढींडसा ने कहा कि वह मार्च 2022 के अंत तक इस नए मॉडल के साथ क़रीब 100 शहरों में संचालन का प्रसार करते नज़र आएँगें।

अभी कंपनी 250 डार्क स्टोर संचालित कर रही है और जनवरी के अंत तक वो इस संख्या को 550 डार्क स्टोर्स तक ले जाने की योजना बनाए हुए है।

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि डार्क स्टोर असल में शहर के बीचो-बीच बने वो छोटे-बड़े गोदाम होते हैं, जिनके ज़रिए कंपनी सामान का भंडारण करके तेजी से डिलीवरी का काम कर पाती है।

1 comment

Comments are closed.