manish-maheshwari-quits-twitter-will-launch-edtech-startup
Credit: Wikimedia Commons

Manish Maheshwari Quits Twitter: ट्विटर इंडिया (Twitter India) के पूर्व प्रमुख मनीष माहेश्वरी (Manish Maheshwari) ने Twitter के साथ अपना साथ यही ख़त्म कर दिया है और अब उन्होंने अपना खुद का स्टार्ट-अप शुरू करने का मन बनाया है।

याद दिला दें कि बीते कुछ समय से भारत सरकार के साथ तमाम विवादों में उलझे रहे Twitter ने अपने पूर्व भारतीय हेड, मनीष को अमेरिका बुला लिया था, जहाँ उन्हें राजस्व रणनीति और संचालन विभाग के वरिष्ठ निदेशक का पद सौंपा गया था।

ऐसी तमाम ख़बरें सबसे पहले पाने के लिए जुड़ें हमारे टेलीग्राम चैनल से!: (टेलीग्राम चैनल लिंक)

लेकिन अब मनीष माहेश्वरी ने Twitter के साथ अपना साथ यही तक बताते हुए अपने एक ट्वीट के ज़रिए ये जानकारी दी है कि वह एड-टेक क्षेत्र में नई शुरुआत करने जा रहें हैं।

मनीष ने अपने ट्वीट में कहा;

“करीब 3 साल बाद, मैं खुद को ‘शिक्षा’ और ‘शिक्षण’ के क्षेत्र में समर्पित करने के मक़सद से ट्विटर (Twitter) छोड़ रहा हूं। मैं एक भारी मन के साथ मैं Twitter छोड़ रहा हूं, लेकिन शिक्षा के माध्यम से विश्व स्तर पर जो प्रभाव पैदा किया जा सकता है, उसको लेकर मैं उत्साहित हूं।”

वैसे मनीष माहेश्वरी के इस नए एड-टेक स्टार्टअप का नाम भी सामने आ चुका है, जो है – Invact

Manish Maheshwari Quits Twitter, Starts Ed-Tech Startup – Invact (Metaversity)

असल में मनीष की मानें तो उनका ये स्टार्ट-अप Invact मेटावर्सिटी (Metaversity) नामक वर्चुअल इमर्सिव प्लेटफॉर्म के माध्यम से रोजगार दिलाने में सहायक साबित होने वाला प्रशिक्षण प्रदान करने पर ध्यान केंद्रित करेगा।

उन्होंने अपने ट्वीट के ज़रिए जानकारी में बताया;

“हमारा विज़न हर किसी के लिए एक उच्च-गुणवत्ता शिक्षा और सामाजिक रूप से सीखने का अनुभव प्रदान करना है, जिसको वो किसी भी जगह से हासिल कर सकें वो भी किफ़ायती दाम पर।”

“मैं आप सबके सपोर्ट को लेकर तत्पर हूं क्योंकि हम इस #Metaversity विजन को पूरा करने के लिए एक टीम बनाने और फ़ंडिंग हासिल करने की कोशिश करेंगे।”

वैसे Invact की वेबसाइट के माध्यम से ये भी सामने आया है कि इस नए स्टार्टअप में Microsoft के पूर्व वरिष्ठ सॉफ्टवेयर इंजीनियर तनय प्रताप भी बतौर सह-संस्थापक जुड़े हुए हैं। वेबसाइट के अनुसार फ़िलहाल ये प्लेटफ़ॉर्म 16 हफ़्तों का MBA विकल्प प्रदान कर रहा है।

ये दिलचस्प इसलिए भी है क्योंकि हाल में Twitter संस्थापक जैक डोर्सी (Jack Dorsey) के सीईओ पद से इस्तीफा देने के बाद भारतीय मूल के पराग अग्रवाल ने कंपनी के नए सीईओ के रूप में कार्यभार संभाला है।

invact-metaversity

जैसा हमनें आपको पहले भी बताया, इस साल अगस्त में ही कंपनी ने मनीष माहेश्वरी को अमेरिका बुला लिया था, ये वही वक़्त था जब केंद्र सरकार के लगातार कहने के बाद Twitter ने आखिरकार Intermediary Guidelines and Digital Media Ethics Code, Rules 2021 का अनुपालन करने का ऐलान किया था।

लेकिन जिस स्तर के विवादों के बीच उन्होंने कंपनी का भारतीय डिवीजन छोड़ा है, ठीक वैसे ही अप्रैल 2019 में वह Twitter India के साथ जुड़े भी थे, जब प्लेटफ़ॉर्म पर फर्जी खबरों के प्रसार सहित कई मुद्दों को लेकर सरकारी जांच शुरू की गई थी।

बता दें Twitter India के प्रमुख बनने से पहले मनीष माहेश्वरी Network18 Digital के सीईओ भी रह चुके हैं। इतना ही नहीं बल्कि उन्होंने Flipkart, txtWeb, Intuit, McKinsey और P&G जैसी दिग्गज कंपनियों में भी विभिन्न पदों पर कार्य किया हुआ है।