employees-sue-twitter-after-elon-musk-begins-layoffs
Credits: Wikimedia Commons

Do Not Subscribe Starlink in India: जितनी तेज़ी से भारत में अपनी Starlink सैटेलाइट इंटरनेट सेवा को भारत में पेश करने के प्रयास कर रहें हैं, शायद उनती ही अड़चने उनकी राह भी देख रही हैं। इसी कड़ी में भारत सरकार ने एक एडवाइजरी जारी कर देश के नागरिकों से एलोन मस्क SpaceX समर्थित Starlink की सैटेलाइट ब्रॉडबैंड सेवा की सदस्यता ना ख़रीदने की अपील की है।

ऐसी तमाम ख़बरें सबसे पहले पाने के लिए जुड़ें हमारे टेलीग्राम चैनल से!: (टेलीग्राम चैनल लिंक)

पर आप शायद सोच रहें हों कि भला सरकार ने ऐसा क्यों कहा है? असल में बताया ये जा रहा है कि SpaceX की सैटेलाइट ब्रॉडबैंड इकाई Starlink Internet Services को भारत में सैटेलाइट-आधारित इंटरनेट सेवाओं की पेशकश करने संबंधित भारतीय लाइसेंस प्राप्त नहीं है और इसलिए देश में इसके द्वारा ऐसी किसी भी सेवा की पेशकश करने पर रोक लगा दी गई है।

साफ़ शब्दों में डिपार्टमेंट ऑफ़ टेलीकॉम (DoT) ने Starlink India को भारत में अपनी सेवाओं की पेशकश के लिए नियामक ढांचे का पालन करने की सलाह दी है और साथ ही “तत्काल प्रभाव से” भारत में अपनी इंटरनेट सर्विस संबंधी प्री-बुकिंग को भी बंद करने के लिए कहा है।

spacex-starlink-jobs-in-india-eligibility-and-other-details

असल में DoT ने इस बात का उल्लेख किया है कि Starlink ने भारत में अपनी इंटरनेट सर्विस की प्री-बुकिंग शुरू कर दी है, और इसकी वेबसाइट से यह बात स्पष्ट है।

Govt Asks Indians Not To Subscribe To Elon Musk-owned Internet Service Starlink

बता दें आप भारत में SpaceX की सैटेलाइट इंटरनेट सर्विस के लिए $99 (क़रीब ₹7,400) के साथ प्री-बुकिंग कर सकते हैं, जो पूरी तरह से रिफ़ंडेबल बताया जा रहा है।

शुक्रवार को दूरसंचार मंत्रालय की ओर से जारी बयान में कहा गया;

“दूरसंचार विभाग, संचार मंत्रालय, भारत सरकार द्वारा ये साफ़ कर दिया गया है कि Starlink Internet Services को भारत में सैटेलाइट इंटरनेट सर्विस की पेशकश करने के लिए कोई लाइसेंस प्राप्त नहीं है, लेकिन कंपनी इसको जनता के बीच विज्ञापित कर रही है।”

“सरकार ने कंपनी से उचित नियमों का अनुपालन सुनिश्चित करने के लिए कहा है। साथ ही कंपनी को ये भी निर्देश दिए गए हैं कि वह तत्काल प्रभाव से सैटेलाइट आधारित इंटरनेट सर्विस की प्री-बुकिंग को बंद करे और ऐसी चीज़ों से बचे।”

 

दिलचस्प रूप से बीते सितंबर में ही Elon Musk की ओर से आख़िरी बात सार्वजनिक रूप से Starlink को लेकर भारत के लिए इसकी योजनाओं का ज़िक्र किया गया था।

उस वक़्त SpaceX के संस्थापक ने Twitter पर एक सवाल का का जवाब देते हुए कहा था कि वह भारत में नियामक प्रक्रिया का पता लगा रहे हैं।

लेकिन अब शुक्रवार को भारत सरकार ने भारतीय नागरिकों से कहा कि वे कंपनी से किसी भी तरह की सेवा का लाभ लेने के प्रयास ना करें क्योंकि कंपनी के पास पर्याप्त लाइसेंस नहीं है।

अभी कुछ ही समय पहले भारत में अपनी सैटेलाइट हाई-स्पीड ब्रॉडबैंड इंटरनेट सुविधा की पेशकश करने के मक़सद से Starlink ने एक सहायक कंपनी, Starlink Satellite Communications Private Limited (SSCPL) रजिस्टर की है।

और हाल ही में ही Starlink India के डायरेक्टर, संजय भारद्वाज (Sanjay Bhardwaj) ने अपने एक LinkedIn पोस्ट के मध्याम से कंपनी में चुनिंदा भर्तियों के की भी जानकारी दी थी।

1 comment

Comments are closed.