telegram-sponsored-messages-feature-how-it-works

Telegram Sponsored Messages Feature: इस साल की शुरुआत में नई WhatsApp Privacy Policy विवाद के बाद तेज़ी से लोकप्रिय हुए एन्क्रिप्टेड मैसेजिंग ऐप Telegram ने शुक्रवार को एक ऐलान किया।

असल में कंपनी ने इस बात की घोषणा की है कि वह ‘Sponsored Messages’ टूल लॉन्च करने जा रही है, जिसके तहत यूज़र्स को अपने चैनल या बॉट को प्रमोट करने की सुविधा दी जाएगी। मतलब साफ़ है कि अब इस मैसेजिंग ऐप ने ‘प्रायोजित कटेंट’ बाज़ार में पैर जमाने का मन बना लिया है।

ऐसी तमाम ख़बरें सबसे पहले पाने के लिए जुड़ें हमारे टेलीग्राम चैनल से!: (टेलीग्राम चैनल लिंक)

लेकिन अन्य कई प्लेटफ़ॉर्म से अलग हमेशा की तरह कंपनी का यही दावा है कि ये नया टूल भी किसी भी तरीक़े से यूज़र्स डेटा में सेंध मारी नहीं करेगा। पर ये कैसे संभव है? आइए समझते हैं?

Telegram Sponsored Messages Feature: How it works?

दरसल होगा ये कि जब भी कोई यूज़र Telegram के उस Sponsored Messages फ़ीचर का इस्तेमाल करेगा तो प्लेटफ़ॉर्म पर स्पॉन्सर किया गया उसका मैसेज सिर्फ़ 1,000 से अधिक सदस्यों वाले बड़े पब्लिक “वन-टू-मैनी” चैनलों में दिखाए जाएँगें।

साथ ही आपके स्पॉन्सर मैसेज को 1000 से अधिक सदस्यों वाले किन बड़े पब्लिक चैनलों में दिखाना है, इसका निर्धारण उन पब्लिक चैनलों के विषय पर आधारित होगा।

कंपनी के मुताबिक़ इसका आशय ये हुआ कि स्पॉन्सर्ड मैसेजों को दिखने के लिए वह किसी भी तरीक़े के यूज़र डेटा का इस्तेमाल या विश्लेषण नहीं करेगी।

indian-govt-opens-fact-checking-account-on-telegram-to-fight-fake-news

इसके साथ ही कंपनी ने कई और चीज़ें भी साफ़ की हैं, जैसे Telegram पर चैट में कोई विज्ञापन नहीं दिखाया जाएगा। मतलब ये कि जो लोग Telegram को सिर्फ़ मैसेजिंग के लिए इस्तेमाल करते हैं, उन्हें प्लेटफ़ॉर्म पर कोई भी स्पॉन्सर मैसेज या कंटेंट नहीं दिखाया जाएगा।

इतना ही नहीं बल्कि Sponsored Messages को प्लेटफ़ॉर्म पर आपकी चैट लिस्ट, प्राइवेट चैट या ग्रुप मीन भी नहीं दिखाया जाएगा। कंपनी ने एक बयान में बताया;

“हम पहले से मौजूद विज्ञापनों को ही और सटीक स्वरूप प्रदान कर रहें हैं। Telegram पर पहले से ही कई वन-टू-मैनी चैनलों को मैनेज करने वाले लोग नियमित मैसेज के रूप में विज्ञापन पोस्ट करते हैं। हमें उम्मीद है कि इस नए टूल के ज़रिए स्पॉन्सर मैसेज और अधिक उपयोगकर्ता ले लिहाज़ से अनुकूल साबित होंगें, और क्रीएटर्स भी अपने चैनलों और बॉट्स को बढ़ावा दे सकेंगें।”

साफ़ कर दें कि फ़िलहाल Telegram Sponsored Messages फ़ीचर टेस्टिंग मोड में है और इसको अभी सभी यूज़र्स के लिए उपलब्ध नहीं करवाया गया है।

ज़ाहिर है एक बार जब ये फ़ीचर पूरी तरह से लॉन्च हो जाएगा तो Telegram के लिए ये एक व्यापाक राजस्व का श्रोत भी साबित हो सकता है।