future-retail-files-new-case-against-amazon-in-supreme-court

Future Retail files new case against Amazon: भारतीय कंपनी फ्यूचर रिटेल (Future Retail) ने शनिवार को रिलायंस (Reliance) के साथ किए गए अपने $3.4 बिलियन के बिक्री संबंधित सौदे को लेकर अब अमेरिकी ई-कॉमर्स दिग्गज़ अमेज़ॅन (Amazon) के ख़िलाफ़ एक नया केस दायर किया है।

गौर करने वाली बात ये है कि सुप्रीम कोर्ट ने इसी महीने Future Retail को एक बड़ा झटका देते हुए अक्टूबर 2020 में सिंगापुर इंटरनेशनल आर्बिट्रेशन सेंटर (SIAC) द्वारा दिए गए फ़ैसले को मान्य बताते हुए रिलायंस इंडस्ट्रीज (Reliance Industries) के साथ कंपनी के सौदे पर रोक लगा दी थी।

ऐसी तमाम ख़बरें सबसे पहले पाने के लिए जुड़ें हमारे टेलीग्राम चैनल से!: (टेलीग्राम चैनल लिंक)

आपको बता दें इस डील पर अमेज़ॅन (Amazon) ने आपत्ति जताते हुए सिंगापुर इंटरनेशनल आर्बिट्रेशन सेंटर (SIAC) से लेकर भारत की तमाम एजेंसियों और अदालतों के सामने इसकी शिकायत की थी।

Future Retail files new case against Amazon in Supreme Court

लेकिन अब मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार मामले के जानकारों का कहना है कि Future Retail ने देश की शीर्ष अदालत से उसकी चुनौती पर सुनवाई करने का आग्रह किया है।

supreme-court-rules-in-favour-of-amazon-in-dispute-with-reliance-future-deal

ख़बरों के मुताबिक़, Future Retail से 6,000 से अधिक पन्नों की फाइलिंग में यह तर्क दिया है कि अगर रिलायंस (Reliance) के साथ कंपनी का ये सौदा नहीं हुआ तो इससे कंपनी ग्रुप को एक बहुत भारी नुकसान होगा, जिसके चलते क़रीब 35,575 कर्मचारियों की नौकरी पर भी ख़तरा मंडरा सकता है और क़रीब ₹280 अरब ($3.81 बिलियन) के बैंक लोन और डिबेंचर पर भी संकट गहरा सकता है।

सामने ये आया है कि भले अब तक इस अपील की कॉपी को सार्वजनिक नहीं किया गया है, लेकिन Reuters ने इस फ़ाइलिंग को देखा है। Future Group की ओर से वकील युगांधरा पवार झा ने सुप्रीम कोर्ट में दायर इस की फाइलिंग में कहा है कि इस याचिका पर अतिशीघ्र सुनवाई आवश्यक है।

ALSO READ: क्या है Reliance-Future Group vs Amazon विवाद?

लेकिन साफ़ कर दे कि अब तक अमेज़ॅन (Amazon) और फ्यूचर ग्रुप (Future Group) की ओर से इस मुद्दे पर कुछ भी सार्वजनिक टिप्पणी नहीं की गई है।

हम सब जानते हैं कि इस विवाद को लेकर अमेज़ॅन (Amazon) और फ्यूचर ग्रुप (Future Group) महीनो से आमनें-सामने हैं।

Amazon ने लगातार ये आरोप लगाया है कि Future Group ने उसके साथ किए गए अनुबंधों का उल्लंघन करते हुए Reliance को अपनी बिज़नेस ईकाइयाँ बेंची हैं। और ज़ाहिर रूप से Future इन आरोपों से इनकार करता रहा है।

ये इसलिए भी और दिलचस्प हो जाता है क्योंकि यह सीधे दुनिया के दो सबसे धनी व्यक्तियों, Amazon के जेफ बेजोस और Reliance के मुकेश अंबानी को विवाद में शामिल करता है।

दोनों कंपनियाँ भारत में महामारी के बाद रिटेल क्षेत्र में नई संभावनाओं को भुनाने की होड़ में हैं और ऐसे में ये विवाद दोनों पक्षों के लिए अहम है।