india-smartphone-market-to-reach-record-173-mn-units-in-2021-report

India smartphone market to reach 173 million units in 2021: इस बात में कोई शक नहीं है कि किफ़ायती स्मार्टफ़ोनो के चलते भारतीय स्मार्टफ़ोन बाज़ार के आँकड़ो में साल-दर-साल वृद्धि दर्ज की जा रही है और इसी कड़ी में अब ये इस साल यानि 2021 में भी एक नया कीर्तिमान गढ़ने को तैयार है।

असल में लोकप्रिय रिसर्च फ़र्म Counterpoint Research की मानें तो के अनुसार, भारत का स्मार्टफोन बाजार 2021 में 173 मिलियन यूनिट का रिकॉर्ड छूने जा रहा है, जो साल-दर-साल 14% की वृद्धि दर्ज करता नज़र आएगा।

ऐसी तमाम ख़बरें सबसे पहले पाने के लिए जुड़ें हमारे टेलीग्राम चैनल से!: (टेलीग्राम चैनल लिंक)

फ़र्म की रिपोर्ट के अनुसार अकेले साल 2021 की दूसरी छमाही में ही क़रीब 100 मिलियन से अधिक स्मार्टफोन शिपमेंट आने की उम्मीद है।

इसके पीछे कि वजह भी काफ़ी स्पष्ट हैं, देखा जाए तो जून 2021 में कई तरह के कोविड-19 प्रतिबंधो के हटने के बाद से ही ऑनलाइन एजुकेशन और वर्क फ़्रोम होम कल्चर आदि को बढ़ावा मिलने के चलते बाज़ार में स्मार्टफ़ोन की माँग में काफ़ी तेज़ी आई है।

ग़ौर करने वाली बात एक और है, असल में फ़िलहाल भारत में अगस्त से नवंबर तक के त्योहारी सीजन के दौरान इस फ़ोन सेगमेंट में और तेज बिक्री देखने को मिलने की उम्मीद की जा रही है।

India smartphone market to reach 173 million units in 2021

वैसे भी भारत का स्मार्टफोन बाजार चीन के बाद दुनिया का दूसरा सबसे बड़ा बाजार है। यहाँ तक की 2020 में भी भारतीय स्मार्टफ़ोन बाजार ने उत्तरी अमेरिका, लैटिन अमेरिका और अफ्रीका के बाजारों से बेहतर प्रदर्शन दर्ज किया था।

अपनी रिपोर्ट में Counterpoint ने कहा है;

“अगले पांच सालों के लिए भारतीय स्मार्टफ़ोन बाज़ार को लेकर सकारात्मक दृष्टिकोण रखा जा सकता है। भारत की 1.39 बिलियन (और तेज़ी से बढ़ती) आबादी, कम आय वर्ग के लोगों द्वारा भी फीचर फोन से स्मार्टफोन में स्विच करने की प्रवृत्ति और नई-नई सेवाओं के उपयोग के मामलों में बढ़त को देखते हुए ये बाज़ार अभी भी संभावनाओं से भरा कहा जा सकता है।

“देश के इस बाज़ार की बढ़त संबंधित रफ़्तार को देखते हुए ये कहा जा सकता है कि आने वाले कुछ सालों में ये 200 मिलियन यूनिट का आँकड़ा भी छूता नज़र आ सकेगा।”

रिसर्च कंपनी के अनुसार बाजार बीते पांच सालों में 2019 में 158 मिलियन यूनिट तक पहुंचते हुए स्थिर रूप से बढ़त का गवाह बना हुआ है।

indian-smartphone-market

हाँ ये बात ज़रूर ईयही कि कोविड-19 की वजह से 2020 में शिपमेंट के मामले में क़रीब 4% की मामूली गिरावट के साल पिछले साल आँकड़ा 152 मिलियन यूनिट ही रहा था, जबकि 2019 में ये 158 मिलियन यूनिट था।

लेकिन रिपोर्ट बताती है कि दूसरी कोविड-19 लहर के लगभग Q2 2021 के दौरान में देश में प्रवेश के बाद भी स्मार्टफोन बाजार ने उम्मीद से अधिक तेजी से वापसी की और पहली छमाही 2021 में अपने सबसे अधिक शिपमेंट के आँकड़े को छुआ।

इतना ही नहीं बल्कि Counterpoint ने JioPhone Next Phone को लेकर भी काफ़ी आशाएँ व्यक्त की क्योंकि बीते 1-2 सालों से भारतीय बाज़ार में ₹3000-₹4000 की क़ीमत के अच्छे स्मार्टफ़ोन कम ही देखने को मिले हैं।

कैसा रहा 5G का स्मार्टफ़ोन बाज़ार?

बात करें अगर 5G सेगमेंट की तो रिसर्च फ़र्म के अनुसार 2020 में 5G स्मार्टफोन की बाजार में 3% से भी कम हिस्सेडरि रही थी।

लेकिन 2021 में 5G फ़ोनों का बाजार आठ गुना बढ़कर 32 मिलियन यूनिट तक पहुंच जाएगा और कुल रूप से इनकी बाजार हिस्सेडरि 19% तक पहुँच सकती है।

5G की लोकप्रियता के बढ़ने के पीछे पीछे कई कारण बताए गए जैसे OEMs के बीच बढ़ती प्रतिस्पर्धा, सस्ते 5G चिपसेट की उपलब्धता और 5G डिवाइस की क़ीमतों में आई क़रीब 40% तक की कमी आदि।

देखा जाए तो पिछले 12 महीने में 5G सेवा के साथ आने वाले सबसे सस्ते फोन की कीमत अब ₹15,000 (लगभग $200) से भी कम हो गई है।