google-picks-16-indian-startups-for-its-5th-accelerator-programme

5th Google Accelerator Programme (India): गूगल फ़ॉर स्टार्टअप्स एक्सेलरेटर [Google for Startups Accelerator (GFSA)] की ओर से भारत में इसके पांचवें संस्करण (Class 5) का ऐलान कर दिया गया है। दिलचस्प ये है कि गूगल के 5वें एक्सेलरेटर प्रोग्राम के लिए प्राप्त की गई क़रीब 700 एप्लिकेशंस में से 16 स्थानीय स्टार्टअप्स को चुना गया है।

जिन 16 स्टार्टअप्स का इस GFSA India प्रोग्राम के लिए चयन किया गया है, वे स्वास्थ्य सेवा, फिनटेक, सामाजिक, शिक्षा, एग्रीटेक (कृषि), इलेक्ट्रिक मोबिलिटी जैसे क्षेत्रों से संबंधित हैं, जो देश ही नहीं बल्कि दुनिया भर में आपार संभावनाओं से भले क्षेत्रों में गिने जाते हैं।

ऐसी तमाम ख़बरें सबसे पहले पाने के लिए जुड़ें हमारे टेलीग्राम चैनल से!: (टेलीग्राम चैनल लिंक)

Google for Startups Accelerator India (Class 5)

इस नए संस्करण के बारे में जानकारी देते हुए एक ब्लॉगपोस्ट के ज़रिए GFSA India के प्रोग्राम मैनेजर, पॉल रवींद्रनाथ जी (Paul Ravindranath G) ने बताया;

“इन चयनित स्टार्टअप्स को Google नेटवर्क और इंडस्ट्री एक्स्पर्ट्स से तीन महीने की मेंटरशिप और सपोर्ट मिलेगा।”

यहाँ स्टार्टअप्स को दिए जाने वाले जिस सपोर्ट की बात की जा रही है, उसमें Google की तमाम टीम तक सीधी पहुंच, प्रोजेक्ट में तकनीकी स्तर पर मार्गदर्शन, मशीन लर्निंग से संबंधित सपोर्ट, UX और डिजाइन में मदद, लीडरशिप वर्कशॉप्स, नेटवर्किंग के मौक़े और PR सपोर्ट तक शामिल हैं।

कंपनी के अनुसार उसने कई परिपक्वता स्तरों पर स्टार्टअप्स को शामिल किया है, जो न केवल अत्याधुनिक तकनीक का इस्तेमाल कर रहें हैं बल्कि उनके भारत और दुनिया भर के लिए मददगार साबित होने सकने की संभावना झलकती है।

List of selected startups for 5th Google Accelerator Programme (India)

आइए देखतें हैं कि कम्पनी के Blogpost के हिसाब से, कौन है वो 16 भारतीय स्टार्टअप्स जिन्होंने 5वें गूगल एक्सेलरेटर प्रोग्राम में अपनी जगह पक्की की है?

GFSA-India-class-announcement-Facebook-google-for-startups-india

1. EkinCare: ये हेल्थकेयर लागत में बचत और उपयोगकर्ता जुड़ाव बढ़ाने के लिए नियोक्ताओं, बीमा कंपनियों आदि के लिए एंटरप्राइज लिहाज़ से तैयार एक एंड-टू-एंड वर्चुअल केयर प्लेटफॉर्म है।

2. AgNext: आर्टिफ़िशल इंटेलिजेन्स (AI) पर आधारित रैपिड फूड क्वालिटी असेसमेंट तकनीक का इस्तेमाल करते हुए, ये स्टार्टअप कृषि सप्लाई चेन में खाद्य चीज़ों के लेन-देन को लेकर पारदर्शिता, तेज़ी और भरोसा प्रदान करता है।

3. Goals101: ये बैंकिंग सेवाओं को आनंदमय, स्वचालित और प्रासंगिक बनाता है।

4. OkCredit: ये स्टार्टअप छोटे बिजनेसों को एक डिजिटल बहीखाता समाधान प्रदान करता है, जिससे उनके लिए क्रेडिट पर बिक्री करना और जानकारियाँ रखना आसान हो जाए।

5. Nemocare Wellness: किफायती, सटीक, स्मार्ट मॉनिटरिंग वियरेबल्स का निर्माण कर दुनिया भर में नवजात और मातृ मृत्यु को कम करने या रोकने के मक़सद के साथ।

6. Zypp Electric: लास्ट माइल डिलीवरी के लिए इलेक्ट्रिक समाधान प्रदान करना।

7. Bolo Live (Bolo Indya): भारत के आगामी 500 मिलियन इंटरनेट उपयोगकर्ताओं के लिए लाइव स्ट्रीमिंग ऐप, जो उन्हें अपने कंटेंट और फ़ैन बेस का मुद्रीकरण करके वित्तीय स्वतंत्रता प्रदान करने में मदद करने का लक्ष्य लिए हुए है।

8. Yoda: लर्निंग के मक़सद से बनाया गया, एक तरीक़े का Instagram

9. Hypd: नई “See It।, Like It, Buy It” जेनरेशन के लिए एक कंटेंट टू कॉमर्स प्लेटफॉर्म

10. EloElo: क्रिएटर्स द्वारा संचालित वर्नाक्यूलर सोशल गेमिंग प्लेटफॉर्म, जो पारंपरिक भारतीय गेम्स को ऑनलाइन लाकर, क्रिएटर्स को अपनी प्रतिभा का इस्तेमाल करते हुए पैसे कमानें की सहूलियत प्रदान करता है।

11. Aquaconnect: मछली और झींगा किसानों के लिए डेटा आधारित कृषि सलाहकार और बाज़ार समाधान प्रदान करने वाला एक फ़ुल-स्टैक एक्वाकल्चर तकनीकी प्लेटफ़ॉर्म

12. Bullet: UPI पेमेंट सुविधा के साथ ही दैनिक खर्च के लिए उधार की सहूलियत।

13. MedCords: किफायती प्राथमिक निदान और तुरंत दवाओं की डिलीवरी संबंधित सुविधा

14. LegitQuest: B2B लीगल डेटाबेस सलोयूशन प्रोवाइडर

15. KareXpert: क्लाउड तकनीक के ज़रिए किसी भी आकार के अस्पताल के लिए एक तरीक़े का GSuite

16. Walrus: युवा भारतीयों के लिए डिजिटल बैंक (नियोबैंक)

जाते-जाते आपको बता दें कि गूगल अब तक के अपने GFSA संस्करणों या Classes में क़रीब 80 भारतीय स्टार्टअप्स को मदद पहुँचा चुका है।