crypto-exchange-bitbns-to-give-bitcoin-sip-to-indian-tokyo-2020-olympic-winners
Credits: (Twitter – Bitbns | Crypto Exchange)

Bitbns Bitcoin SIP for Indian Olympic Winners: दुनिया भर के साथ ही साथ भारत में भी मौजूदा टोक्यो ओलंपिक खेलों को लेकर ख़ासा उत्साह है और इसके चलते खिलाड़ियों का तमाम तरीक़ों से उत्साहवर्धन करने की कोशिशें भी हो रहीं हैं। इसी कड़ी में अब क्रिप्टोकरेंसी एक्सचेंज बिटबन्स (Bitbns) ने टोक्यो ओलंपिक 2020 खेलों में पदक जीतनें वाले सभी भारतीय खिलाड़ियों को बिटकॉइन एसआईपी (Bitcoin SIP) पुरस्कारों से सम्मानित करने का ऐलान किया है।

जी हाँ! हर भारतीय ओलंपिक पदक विजेता Bitbns एक्सचेंज पर लाखों की क़ीमत के क्रिप्टोकरेंसी SIPs हासिल करने का हकदार होगा।

ऐसी तमाम ख़बरें सबसे पहले पाने के लिए जुड़ें हमारे टेलीग्राम चैनल से!: (टेलीग्राम चैनल लिंक)

अपने इस ऐलान में कंपनी ने ये भी बताया कि टोक्यो ओलंपिक खेलों में गोल्ड मेडल जीतने वाले खिलाड़ी को ₹2 लाख, सिल्वर जीतने वाले को ₹1 लाख और ब्रॉन्ज विजेताओं को ₹50,000 के बिटकॉइन एसआईपी (Bitcoin SIP) अवार्ड दिए जाएँगें।

Bitbns to give Bitcoin SIP to Indian Tokyo Olympic winners

कंपनी इसकी शुरुआत 49 किलोग्राम वर्ग में वेटलिफ्टिंग में रजत पदक (सिल्वर मेडल) जीतने के लिए मीराबाई चानू और बैडमिंटन में चीन की बिंग जिओ को हराकर कांस्य पदक (ब्रॉन्ज मेडल) जीत कर, दो व्यक्तिगत ओलंपिक पदक जीतने वाली पहली भारतीय महिला बनी पीवी सिंधु को सम्मानित करते हुए करना चाहती है।

बता दें पदक विजेताओं के खाते में ये राशि स्वतः जमा हो जाएगी, जिसे एथलीट बाद में केवाईसी (KYC) की प्रक्रिया को पूरा करके प्राप्त कर सकेंगें। SIP को 3 से 5 साल की अवधि के लिए स्ट्रक्चर्ड किया जाएगा।

इस मौक़े पर Bitbns के CEO गौरव दहाके ने कहा;

“बिटकॉइन (Bitcoin) और एथेरियम (Ethereum) पिछले एक दशक में सबसे अच्छा प्रदर्शन करने वाली संपत्ति साबित हुए हैं, और इनके ज़रिए लोगों को असाधारण रिटर्न मिलें हैं। इसी वजह से अब हमारा लक्ष्य है कि हम भारतीय विजेताओं को इस पुरस्कार से सम्मानित करते हुए उन्हें भी इस यात्रा में शामिल करें।”

गौरव के मुताबिक़, देश इस सबसे बड़े वैश्विक खेल आयोजन के साथ 100 वर्ष की यात्रा पूरी कर रहा है। और ऐसे में Bitbns की कोशिश है कि देश का नाम रोशन करने वाले ओलंपिक पदक विजेताओं को सम्मानित किया जाए।

tokyo-olympics-2020-indian-winners

उनका मानना है कि भारतीय एथलीटों के ओलंपिक में पदक जीतने से न सिर्फ़ खिलाड़ियों के अपने सपनें पूरे होते हैं बल्कि देश के लोगों को एक ग्लोबल प्लेटफ़ॉर्म पर भारत पर गर्व करने का भी मौक़ा मिलता है।

आपको बता दें Bitbns की शुरुआत साल 2017 में हुई थी और फ़िलहाल कंपनी तीन मिलियन से अधिक उपयोगकर्ता आधार होने का दावा करती है।

ये कंपनी बिटड्रॉपलेट, बिटकॉइन में SIP, FIP सहित कई तरीक़े के क्रिप्टो सुविधाओं की पेशकश करती है। ये क्रिप्टोकरेंसी एक्सचेंज असल में व्यापारियों और लंबी अवधि के निवेशकों सहित अन्य को सुविधाओं की पेशकश करता है।

इतना ही नहीं बल्कि कंपनी मार्जिन ट्रेडिंग जैसी नई ट्रेडिंग सर्विस भी प्रदान करती है। साथ ही यूज़र के लिए API के ज़रिए ऑटोमेटिक ट्रेडिंग विकल्पों जैसी सुविधाएँ भी प्रदान की जाती हैं।