elon-musk-starlink-to-offer-cheaper-internet-rates-in-india-report

SpaceX + Indian Companies?: अब ये कोई छिपी बात नहीं है कि Tesla और SpaceX जैसी नामी कंपनियों पर मालिकाना हक़ रखने वाले एलोन मस्क (Elon Musk) भारत में अपनी एक और फ़र्म Starlink की इंटरनेट सेवाओं को पेश करने का मन बना रहें हैं।

लेकिन अब इस कड़ी में एक दिलचस्प खबर यह आई है कि SpaceX भारत में स्थानीय रूप से सैटेलाइट कम्यूनिकेशन उपकरणों का निर्माण करने की योजना बना रहा है और इसके लिए इसका इरादा भारतीय कंपनियों से मदद लेने का है।

ऐसी तमाम ख़बरें सबसे पहले पाने के लिए जुड़ें हमारे टेलीग्राम चैनल से!: (टेलीग्राम चैनल लिंक)

जैसा कि हमनें अपनी पिछली रिपोर्ट में भी ज़िक्र किया था, SpaceX की ही सह-इकाई के नाम से लोकप्रिय Starlink अगले साल यानि 2022 तक भारत में अपनी हाई-स्पीड स्टारलिंक सैटेलाइट ब्रॉडबैंड सेवाओं को पेश करने की तैयारी कर रही है।

SpaceX + Indian Companies? देश में होगी मैन्युफ़ैक्चरिंग

भारत में अपनी इंटरनेट सेवाओं को पेश करने के लिए SpaceX में देश के भीतर ही जिन उपकरणों का निर्माण करने का मन बनाया है, उसमें एंटीना सिस्टम और यूजर टर्मिनल डिवाइस आदि शामिल हैं।

समाचार एजेंसी, ET की एक रिपोर्ट की मानें तो, बीते सोमवार दूरसंचार विभाग (DoT) के सचिव अंशु प्रकाश के साथ कंपनी की पहली आधिकारिक बातचीत के दौरान Starlink के मार्केट प्रोग्राम डायरेक्टर, मैट बॉटविन (Matt Botwin) ने कहा;

“SpaceX इन प्रोडक्ट्स या डिवाइसों को स्थानीय स्तर पर बनाने के लिए भारतीय कंपनियों के साथ मिलकर काम करने को लेकर बेहद उत्साहित है।”

बॉटविन के अनुसार SpaceX हमेशा से ही ग्लोबल सप्लाई चेन में अपनी क्षमता को बढ़ाने के अवसर तलाशता रहता है, और भारत में स्थानीय भागीदारों के साथ काम करके यह उसी संभावनाओं की ओर क़दम बढ़ाना चाहता है।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक़ दूरसंचार विभाग के साथ इस मीटिंग में SpaceXके साथ ही Reliance Jio, Vodafone Idea, OneWeb, Airtel, Viasat, Hughes, अंतरिक्ष विभाग और TRAI के अधिकारी भी मौजूद रहे।

क्या है स्टारलिंक इंटरनेट सेवा (Starlink Internet Service)?

SpaceX का Starlink एक लो-अर्थ ऑर्बिट (पृथ्वी की निचली कक्षा) में तैनात किया जाने वाला कई सारे छोटे-छोटे सैटेलाइट्स का एक नेटवर्क है, जिसके ज़रिए इंटरनेट ब्रॉडबैंड सर्विस प्रदान की जाती है।

spacex-india-elon-musk
Credits: Wikimedia Commons

लो-अर्थ ऑर्बिट में तैनात किए जाने वाले सैटेलाइट सामान्य सैटेलाइट के मुकाबले पृथ्वी की सतह से 60 गुना पास होते हैं।

वैसे इस बीच Starlink की बीटा टेस्टिंग के दौरान 50-150 Mbps के बीच इंटरनेट स्पीड दर्ज करने की भी बातें सामने आई हैं। दूसरी ओर Elon Musk ने कहा था कि कंपनी साल 2021 के अंत तक Starlink Internet Speed को क़रीब 300 Mbps तक पहुँचाने का काम कर रही है।

बता दें Starlink Satellite Internet सर्विस प्री-बुकिंग देश के कई शहरों के लिए शुरू की गई है, जिसके लिए $99 (लगभग ₹7,300) के साथ प्री-बुकिंग करनी पड़ रही है । ये पैसा उन Starlink उपकरणों को आपके घर या ऑफ़िस पर इंस्टॉल करने के लिए लिया जा रहा है, जिनकी मदद से आप इस इंटरनेट सेवा का लाभ उठा सकेंगें।