twitter-locks-official-account-of-inc-congress

Twitter First Compliance Report:  सरकार के साथ टकराव के बीच आख़िरकार माइक्रो-ब्लॉगिंग प्लेटफ़ॉर्म ट्विटर (Twitter) ने नए आईटी नियमों (New IT Rules 2021) की कई अहम शर्तों का पालन शुरू कर दिया है।

इस कड़ी में अब ट्विटर इंडिया (Twitter India) ने रेजिडेंट ग्रीविएंस ऑफिसर के तौर पर विनय प्रकाश को नियुक्त किया है। इतना ही नहीं बल्कि कंपनी ने एक और बड़ा क़दम उठाने हुए देश में अपनी पहली ट्रांसपेरेंसी रिपोर्ट (First Transparency Report) भी जारी कर दी है।

ऐसी तमाम ख़बरें सबसे पहले पाने के लिए जुड़ें हमारे टेलीग्राम चैनल से!: (टेलीग्राम चैनल लिंक)

कंपनी की वेबसाइट पर अपडेट की गई जानकारी के अनुसार प्लेटफ़ॉर्म के यूज़र्स नियमों व शर्तों के संभावित उल्लंघन के मामले को लेकर अब नए रेजिडेंट ग्रीविएंस ऑफिसर (RGO), विनय प्रकाश को दिए गई ईमेल ID व एड्रेस के ज़रिए कॉन्टैक्ट कर सकते हैं।

Twitter First Compliance Report

वहीं 26 मई से 25 जून तक के लिए पेश की गई Twitter की पहली ट्रांसपेरेंसी या कम्प्लाइयन्स रिपोर्ट के आँकड़े भी दिलचस्प रहे।

भारत के लिए पेश की गई अपनी इस रिपोर्ट कंपनी ने बताया कि 26 मई से 25 जून की अवधि के बीच ट्विटर को क़रीब 94 शिकायतें मिलीं और इनके आधार पर कंपनी ने क़रीब 133 URL/Posts पर ‘कार्रवाई’ की।

twitter-india-first-report

प्राप्त शिकायतों में से अधिकांश शिकायतें मानहानि (20), दुर्व्यवहार/उत्पीड़न (6), संवेदनशील वयस्क सामग्री (4), प्रतिरूपण और गोपनीयता उल्लंघन (3 प्रत्येक), आईपी-संबंधित उल्लंघन (1), और गलत सूचना/सिंथेटिक और मनिप्युलेटेड मीडिया (1) जैसी कैटेगॉरी से रहीं।

इतना ही नहीं बल्कि रिपोर्ट बताई गई अवधि के दौरान कंपनी ने ‘बाल यौन शोषण और अश्लीलता’ आदि आधारों पर प्लेटफ़ॉर्म में क़रीब 18,385 अकाउंट्स और आतंकवाद को बढ़ावा देने के विरुद्ध क़रीब 4,179 अकाउंट को सस्पेंड करने का काम किया।

ट्विटर ने ये भी बताया कि उसने इस अवधि के दौरान ट्विटर अकाउंट्स को सस्पेंड करने की अपील संबंधित 56 शिकायतों का भी निपटारा करते हुए उन पर उचित प्रतिक्रिया दी।

बता दें इसके पहले Google और Facebook भी पहले ही अपनी पहली कम्प्लाइयन्स रिपोर्ट भारत में जारी कर चुके हैं।

अपनी रिपोर्ट में Facebook ने खुलासा किया कि कंपनी ने भारत में 15 मई से 15 जून के दौरान 10 उल्लंघन संबंधित कैटेगॉरी में 30 मिलियन (3 करोड़) से अधिक कंटेंट/पोस्ट पर कार्यवाई करने का काम किया है।

वहीं Google की पैरेंट कंपनी Alphabet Inc ने अपनी कम्प्लाइयन्स पहली रिपोर्ट में कहा कि गूगल को 1 अप्रैल से 30 अप्रैल के बीच भारत में यूज़र्स से कुल 27,762 शिकायतें प्राप्त हुईं।