zomato-and-swiggy-to-pay-gst-to-govt
Credits: Zomato Blog

Zomato Bug Bounty Program: पहले से ही IPO और Grocery Delivery जैसी सेवाओं को लेकर सुर्ख़ियाँ बना रहा Zomato अब एक नई वजह से ख़बरों में है। हुआ ये कि इस फ़ूडटेक दिग्गज़ ने गुरुवार को अपने बग बाउंटी प्रोग्राम (Bug Bounty Program) के लिए रिवॉर्ड बढ़ा दिए हैं।

जी हाँ! Zomato के मुताबिक़ अब कंपनी अपनी वेबसाइट या ऐप पर किसी तरीक़े के बग (Bug) का पता लगाने वाले व्यक्ति को अब $4,000 (क़रीब ₹3 लाख) तक का ईनाम देगी।

ऐसी तमाम ख़बरें सबसे पहले पाने के लिए जुड़ें हमारे टेलीग्राम चैनल से!: (टेलीग्राम चैनल लिंक)

इसका ऐलान करते हुए कंपनी की ओर से एक बयान में कहा गया;

“Zomato Bug Bounty Program हमारे सुरक्षा प्रयासों का एक अहम हिस्सा रहा है और हमें उम्मीद है कि रिवार्ड को बढ़ाना, हैकर कम्यूनिटी को और प्रेरित करेगा।”

Zomato Bug Bounty Program: मिलेगें ₹3 लाख?

वैसे ये साफ़ कर दें कि Zomato के बग बाउंटी प्रोग्राम में किसी भी बग (ख़ामी) की गंभीरता के स्तर के अनुसार ही रिवार्ड पुरस्कारों की पेशकश की जाती है। और इस प्रोग्राम में भाग लेने के लिए प्रतिभागी को Two-Factor Authentication को अनिवार्य रूप से एनेबल करना पड़ता है।

zomato-ipo-on-14-july-2021

Zomato के अनुसार कंपनी किसी भी ख़ामी (Vulnerability) की गंभीरता के स्तर को निर्धारित करने के लिए कॉमन वल्नरेबिलिटी स्कोरिंग सिस्टम (CVSS) का उपयोग करती है।

और इस बाउंटी प्रोग्राम के तहत ईनाम का निर्धारण Zomato Security टीम द्वारा अंतिम व सटीक रूप से CVSS स्कोर की गणना के आधार पर किया जाएगा।

“उदाहरण के लिए, अगर CVSS 10.0 के साथ गंभीर ख़ामी को दर्शाता है तो बतौर ईनाम $4,000 दिए जाएँगें, वहीं CVSS 9.5 होने पर ईनाम के रूप में $3,000 का प्रावधान है, और आगे ऐसी आधार पर मानक तय किए गए हैं।

दिलचस्प ये है कि अगर कोई फूड ऑर्डरिंग प्लेटफॉर्म, Zomato वेबसाइट या ऐप पर कोई यूनिक और मुश्किल से खोजे जाने वाले Bug का पता लगाता है तो कंपनी उसको और अधिक भुगतान भी कर सकती है।

Zomato's reward for bug bounty programme
Zomato’s reward for bug bounty programme

वैसे आपको बताते चलें कि Zomato अब 19 जुलाई की बजाए 14 जुलाई को ही देश में IPO लॉन्च करने जा रहा है। इसके साथ ही इसके एक शेयर की क़ीमत ₹72 से ₹76 तक तय की गई है। कंपनी का IPO साइज़ मतलब इस IPO के ज़रिए कंपनी क़रीब ₹9,375 करोड़ हासिल करती नज़र आएगी।

बता दें SBI Cards and Payment Services द्वारा ₹10,355 करोड़ के IPO के बाद पिछले चार वर्षों में Zomato दूसरा सबसे बड़ा IPO साबित होगा। इनके पहले अक्टूबर 2017 में, जनरल इंश्योरेंस कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया ने IPO के ज़रिए ₹11,176 करोड़ जुटाने में सफ़लता हासिल की थी।