google-removes-indias-tiktok-rival-bolo-indya-from-play-store-heres-why

Bolo Indya vs T-Series: पिछले साल जब TikTok पर भारत ने बैन लगा दिया, तब तमाम नई स्वदेशी शॉर्ट वीडियो ऐप्स (Short Video App) सामने आने लगीं, जिनमें से एक ‘Bolo Indya’ भी था। लेकिन अब खबर ये है कि Bolo Indya ऐप को गूगल (Google) ने अपने प्ले स्टोर (Play Store) से हटा दिया है।

जी हाँ! गूगल प्ले स्टोर ने असल में भारतीय सोशल मीडिया ऐप ‘बोलो इंडिया’ (Bolo Indya) को यूजर्स कंटेंट कॉपीराइट से जुड़े विवाद के चलते हटाया है। लेकिन दिलचस्प ये है कि ये कॉपीराइट शिकायत T-Series द्वारा दायर की गई थी।

ऐसी तमाम ख़बरें सबसे पहले पाने के लिए जुड़ें हमारे टेलीग्राम चैनल से!: (टेलीग्राम चैनल लिंक)

T-Series ने Google Play Store से हटवाई Bolo Indya App?

खबर ये है कि दिग्गज़ भारतीय म्यूजिक कंपनी टी-सीरीज की ओर से दायर की गई कॉपीराइट शिकायत के बाद ही Google ने Bolo Indya के ख़िलाफ़ ये कदम उठाया है।

बताया ये जा रहा है कि T-Series के साथ ही ऐप पर कुछ अन्य म्यूजिक कंपनियों जैसे सुपर कैसेट्स इंडस्ट्रीज प्राइवेट लिमिटेड आदि ने भी कॉपीराइट उल्लंघन का आरोप लगाया था।

PTI की मानें तो पिछले एक साल में T-Series ने अलग-अलग सोशल मीडिया ऐप्स और वीडियो शेयरिंग प्लेटफॉर्म्स को कॉपीराइट कंटेंट के उल्लंघन से जुड़ें नोटिस भेजें हैं, जिनमें क़रीब ₹3.5 करोड़ तक की क्षतिपूर्ति तक का दावा किया गया है।

रिपोर्ट्स के अनुसार, जहाँ एक ओर कई कंपनियों ने नोटिस के बाद T-Series के साथ अपना विवाद खत्म कर लिया, वहीं Bolo Indya ने ऐसा नहीं किया और आज नतीज़ा हम सबके सामने हैं।

T-Series की मानें तो Bolo Indya को कई लीगल नोटिस भेजे गए थे, लेकिन कंपनी ने उनका कोई जवाब नहीं दिया। म्यूजिक कंपनी के मुताबिक़ Bolo Indya मानों एक हैबिचुअल ऑफेंडर की तरह प्रतीत होने लग था, क्योंकि कई बार लीगल नोटिस भेजने के बाद भी ऐप कॉपीराइट का उल्लंघन करती रही।

और ऐसे में T-Series व अन्य कंपनियों द्वारा Bolo Indya के खिलाफ़ दायर की गई शिकायत के बाद ऐप को ‘जानबूझकर गलती करने’ का दोषी मानते हुए Google Play Store ने इसके ख़िलाफ़ कार्यवाई की।

google-play-store-removes-bolo-indya-over-t-series-complaint

आपको बता दें इस शॉर्ट वीडियो शेयरिंग ऐप के देश भर में लगभग 70 लाख यूजर्स बताए जाते हैं और इसको TikTok के एक विकल्प के तौर पर माना जाता है।

इस बीच विवाद को लेकर अब कंपनी की ओर से कहा गया है कि वह T-Series और Google के साथ बातचीत पर समाधान निकालने के प्रयास कर रही है। और इसने अपने यूज़र्स को भरोसा दिलाया है कि क्रिएटर्स का कंटेंट और इन-ऐप करेंसी परचेज आदि सब पूरी तरह से सुरक्षित है और ऐप जल्द Play Store पर वापसी करेगा।