battlegrounds-mobile-india-open-beta-version-now-available-on-google-play-store

बैटलग्राउंड मोबाइल इंडिया (Battlegrounds Mobile India) आख़िरकार एंड्रॉइड यूज़र्स को डाउनलोड (Download) करने के लिए गूगल प्ले स्टोर (Google Play Store) पर उपलब्ध करवा दिया गया है।

लेकिन इसमें एक पेंच हैं। इस गेम को हर कोई डाउनलोड नहीं कर पा रहा है। पर ऐसा क्यों? आइए इन सभी सवालों के जवाब जानते हैं!

ऐसी तमाम ख़बरें सबसे पहले पाने के लिए जुड़ें हमारे टेलीग्राम चैनल से!: (टेलीग्राम चैनल लिंक)

How To Download Battlegrounds Mobile India?

असल में प्ले स्टोर पर बैटलग्राउंड मोबाइल इंडिया का सिर्फ़ प्रारंभिक वर्जन ही उपलब्ध करवाया गया है और वो भी सिर्फ़ उन यूज़र्स को जिन्होंने बीटा वर्जन के लिए साइन-अप किया था।

फ़िलहाल Battlegrounds Mobile India के आगे Early Access लिखा हुआ है। कई यूज़र्स इस ‘अर्ली एक्सेस’ वर्जन को भी डाउनलोड न कर पाने की शिकायत कर रहें हैं।

माजरा ये है कि इसको फिलहाल गेम टेस्टर्स के लिए ही उपलब्ध करवाया गया है और ये गेम का कोई ऑफिशियल वर्जन नहीं है।

पर आप टेस्टर बनकर इस गेम को डाउनलोड कर सकते हैं। जिसके लिए आप इस लिंक (यहाँ) पर जाकर बतौर टेस्टर रजिस्टर करके गेम को डाउनलोड कर सकते हैं।

लेकिन एक बुरी खबर ये है कि ओपन होने के कुछ ही समय के भीतर स्लॉट फुल हो चुके हैं और इसलिए कई लोग गेम डाउनलोड नहीं कर पा रहें हैं। वहीं ख़बरें ये हैं कि कंपनी जल्द ही और भी लोगों को Early Access प्रदान कर सकती है।

battlegrounds-mobile-pre-registration-date-18-may-google-play-store-download
Credit: (Facebook/Battlegrounds Mobile India)
Battlegrounds Mobile India Download App Size And Other Details

लेकिन इस बीच ट्विटर (Twitter) पर तेज़ी से शेयर किए जा रहें इसके डाउनलोड संबंधित स्क्रीनशॉट से कुछ जानकारियाँ सामने आई हैं। असल में इन स्क्रीनशॉट में ये साफ़ तौर पर देखा जा सकता है कि बैटलग्राउंड मोबाइल इंडिया का ऐप साइज करीब 721 MB का है।

इस बीच ऐप लिस्टिंग गेम के ज़रिए इस गेमिंग ऐप की न्यूनतम आवश्यकताओं की भी पुष्टि हुई है। इसके अनुसार Battlegrounds Mobile India ऐप का इस्तेमाल करने के लिए मोबाइल पर Android 5.1.1 या इसके बाद के वर्जन और कम से कम 2GB RAM की आवश्यकता है।

यूज़र्स द्वारा शेयर किए जा रहें स्क्रीनशॉट्स में ये भी सामने आया है कि इसमें फेसबुक और ट्विटर से लॉगिन करने का ऑप्शन भी दिया जा रहा है। और साथ ही ये भी बताया जा रहा है कि लॉगिन के लिए यूज़र्स को मोबाइल नंबर वेरिफ़ाई करने की ज़रूरत पड़ रही है।