clubhouse-to-launch-payments-feature-in-india-to-comply-with-it-rules
Image: Flickr user Marco Verch (https://www.flickr.com/photos/30478819@N08/) // CC2.0 License

Clubhouse Payment Feature: अपने लॉन्च के बाद से ही भारत में तेज़ी से लोकप्रिय होती जा रही इन्वाइट-ओनली ऑडियो चैट ऐप, क्लबहाउस (Clubhouse) ने अब भारत में जल्द ही ऐप में पेमेंट फ़ीचर भी पेश कर सकता है।

जी हाँ! पेमेंट फ़ीचर वो भी क्लबहाउस (Clubhouse) ऐप पर। पर ये इतनी हैरानी की बात भी नहीं है, क्योंकि अमेरिका में पहले से ही Clubhouse अपनी ऐप पर ये सुविधा दे रहा है।

कैसे काम करेगा क्लबहाउस का पेमेंट फ़ीचर?

इस क्लबहाउस पेमेंट फ़ीचर (Clubhouse Payment Feature) के तहत यूज़र्स प्लेटफ़ॉर्म पर होस्ट किए जाने वाले शोज के लिए क्रीएटर्स को पेमेंट दे सकेंगे।

ऐसी तमाम ख़बरें सबसे पहले पाने के लिए जुड़ें हमारे टेलीग्राम चैनल से!: (टेलीग्राम चैनल लिंक)

इस बीच ईटी की एक रिपोर्ट के अनुसार, क़रीब एक साल पुरानी इस सोशल मीडिया कंपनी ने भारत के नए आईटी नियमों का पालन करने की दिशा में भी तैयारी शुरू कर दी हैं।

इस रिपोर्ट के अनुसार Clubhouse के सह-संस्थापक, रोहन सेठ ने कहा कि भले उनका स्टार्टअप अभी क़रीब एक साल पुराना और छोटा ही हो, लेकिन कंपनी सरकार के सभी नए सोशल मीडिया संबंधित नियमों के अनुरूप ही काम करने का प्रयास करेगी।

वहीं रोहन ने एक मीडिया ब्रीफ़िंग के दौरान बताया कि अमेरिका में पहले से ही पेमेंट सुविधा अधिकतर लोगों द्वारा इस्तेमाल की जा रही है और भारत इस सुविधा को हासिल करने वाले कुछ शुरुआती बाजारों में से एक होगा।

लेकिन ज़ाहिर है भारत में अभी इंटरनेट कंपनियों ख़ासकर सोशल मीडिया को लेकर आए नए आईटी नियमों (New IT Rules 2021) का मामला गरमाया हुआ है और ऐसे में ये नई कंपनी चाहती होगी कि पहले सरकार के नए नियमों को अच्छे से समझते हुए इनका अनुपालन सुनिश्चित किया जाए और फिर पेमेंट आदि की दिशा में कोई क़दम आगे बढ़ाया जाए।

ऐसा इसलिए भी है क्योंकि शायद को इंडस्ट्री में कोई कुछ ही समय पहले ख़त्म हुए WhatsApp के संघर्ष को भुला हो, जिसमें कंपनी भारत में एक पेमेंट फ़ीचर पेश करने को लेकर स्थानीय डेटा स्टोरेज आदि मुद्दों पर काफ़ी कोशिशें करती नज़र आई थी, और अंत में सभी नियमों का पालन करने के बाद ही उसको मंज़ूरी दी गई थी।

Clubhouse India: देश बना अहम बाज़ार

ऐप एनालिटिक्स प्लेटफॉर्म सेंसर टॉवर (Sensor Tower) के आंकड़ों बताते हैं कि हाल ही में लॉन्च किया गया क्लबहाउस का एंड्रॉइड ऐप (Clubhouse Android) भारत में 10 लाख से अधिक बार डाउनलोड किया जा चुका है, और ये इसलिए भी दिलचस्प हो जाता है क्योंकि ग्लोबल तौर पर देखने पर यही आँकड़ा 26 लाख के क़रीब बनता है। मतलब आप समझ सकते हैं कि भारत इस वक़्त Clubhouse के लिए अहम बाज़ार बन चुका है।

clubhouse-payment-feature-india

इस बीच उम्मीद ये की जा रही है कि क्लबहाउस (Clubhouse) आने वाले महीनों में ये पेमेंट सुविधा देश के भीतर लाइव कर सकता है। इतना ही नहीं बल्कि कंपनी टिप्स और सब्सक्रिप्शन फ़ीचर भी लॉन्च करने को लेकर काम कर रही है।

लेकिन आपको बता दें ये टिप्स और सब्स्क्रिप्शन फ़ीचर को लेकर अभी कोई समय-सीमा तय नहीं की गई है।

दिलचस्प बात ये भी है कि बीते कुछ महीनों से ऑडियो चैट ऐप्स का इतना क्रेज़ बढ़ा है कि Twitter से लेकर कई दिग्गज़ प्लेटफ़ॉर्म भी अब ऐसे ही कुछ सामान फ़ीचर को लेकर काम कर रहे हैं।