india-proposes-simpler-drone-rules-2021-draft

Dunzo Drone Delivery: गूगल (Google) समर्थित भारतीय डिलीवरी स्टार्टअप डूंजो (Dunzo) अब देश में ड्रोन के ज़रिए दवाओं की डिलीवरी सुविधा की टेस्टिंग करता नज़र आएगा। असल में ‘मेडिसिन फ्रॉम द स्काई (Medicine from the Sky)’ प्रोजेक्ट के तहत कंपनी Med-Air डिलीवरी की टेस्टिंग करती नज़र आएगी।

बता दें तेलंगाना सरकार और वर्ल्ड ईकोनॉमिक फ़ोरम आदि के साथ मिलकर चलाए जा रहे ‘मेडिसिन फ्रॉम द स्काई’ प्रोजेक्ट के हिस्से के रूप में Dunzo तेलंगाना के अलग-अलग ज़िलों में टेस्टिंग के तौर पर बियोंड विज़ुअल लाइन ऑफ़ विज़न (BVLOS) ड्रोन डिलीवरी का संचालन करेगी।

ऐसी तमाम ख़बरें सबसे पहले पाने के लिए जुड़ें हमारे टेलीग्राम चैनल से!: (टेलीग्राम चैनल लिंक)

Dunzo Drone Delivery: क्या है मक़सद?

असल में इस प्रोजेक्ट का लक्ष्य इस महामारी के हालातों में अधिक से अधिक लोगों तक हेल्थकेयर से जुड़ें संसाधनों की पहुँच को सुनिश्चित करने का है।

इसके तहत पेश किया जा रहा ड्रोन डिलीवरी सिस्टम ड्रोन आधारित लॉजिस्टिक परिवहन के लिए एंड-टू-एंड इकोसिस्टम को लेकर फ़ोकस करेगा और तेलंगाना राज्य के मौजूदा लॉजिस्टिक्स नेटवर्क का इस्तेमाल करेगा।

Dunzo-Drone-Delivery-India
Credits: Wikimedia Commons

तेलंगाना सरकार के ITE&C विभाग के प्रमुख सचिव, आईएएस, जयेश रंजन ने कहा,

“तेलंगाना उभरती तकनीकों को अपनाने के मामले में सबसे सक्रिय राज्यों में से एक है, और ड्रोन के इस्तेमाल को बढ़ावा देने वाले ‘मेडिसिन फ्रॉम द स्काई’ प्रोजेक्ट के सिद्धांतों के अनुरूप है।”

“यह प्रोजेक्ट देश में ऐसे पहले प्रोग्राम में से एक है, जिसमें स्वास्थ्य संबंधित सप्लाई चेन के लिए BVLOS ड्रोनों का इस्तेमाल किया जाएगा ताकि ग्रामीण व दूर-दराज के क्षेत्रों के लिए स्वास्थ्य सेवाओं की आपूर्ति सुनिश्चित की जा सके।”

क्या है ‘मेडिसिन फ्रॉम द स्काई’ प्रोजेक्ट?

आपको याद दिला दें कि कुछ ही महीनों पहले DGCA ने Dunzo, Swiggy, Zomato, बजट एयरलाइन SpiceJet और Reliance समर्थित स्टार्टप Asteria Aerospace सहित कुल 13 कम्पनियों को बियोंड विज़ुअल लाइन ऑफ़ विज़न (BVLOS) ड्रोन्स की उड़ान संबंधित टेस्टिंग की मंज़ूरी दी थी।

और अब इसी का फ़ायदा उठाते हुए तेलंगाना सरकार राज्य भर में ड्रोन के ज़रिए चिकित्सा और स्वास्थ्य संबंधी संसाधनों के डिस्ट्रिब्यूशन की संभावना तलाश रही है।

तेलंगाना सरकार द्वारा वर्ल्ड ईकोनॉमिक फ़ोरम, नीति आयोग और HealthNet के साथ मिलकर चलाया जा रहा ‘मेडिसिन फ्रॉम द स्काई’ प्रोजेक्ट इसी का हिस्सा है।

नागरिक उड्डयन मंत्रालय (MoCA) ने तेलंगाना में टेस्टिंग के लिए ड्रोन उड़ानों को लेकर आवश्यक छूट और अधिकारों के साथ इस प्रोजेक्ट को मंजूरी दे दी है।

इस बेहद अहम पहल के ज़रिए सरकार ये सुनिश्चित करना चाहती है कि तमाम ढांचागत चुनौतियों और लॉकडाउन जैसे हालातों के बीच वैक्सीन और दवाओं जैसी आवश्यक वस्तुओं की डिलीवरी को जारी रखा जा सके।

दिलचस्प ये है कि इसके पहले क़रीब 15 मई के आसपास यह भी खबर आई थी कि लॉजिस्टिक्स क्षेत्र की दिग्गज कंपनी ब्लू डार्ट (Blue Dart) भी तेलंगाना में अपनी नई इकाई ब्लू डार्ट मेड-एक्सप्रेस कंसोर्टियम (Blue Dart Med-Express Consortium) के तहत ड्रोन डिलीवरी सिस्टम की टेस्टिंग शुरू करने जा रही है।