mukesh-ambani-on-5g-rollout-says-it-should-be-nations-priority

दुनिया के सबसे अमीर व्यक्तियों में शुमार भारतीय बिज़नेस टायकून मुकेश अंबानी की कंपनी रिलायंस रिटेल लिमिटेड (Reliance Retail Ltd) 2021 में दुनिया की दूसरी सबसे तेजी से बढ़ती रिटेल कंपनी बन गई है।

असल में Deloitte द्वारा दुनिया भर में रिटेल दिग्गज़ कंपनियों को लेकर 2021 की जारी की गई एक रिपोर्ट में Reliance Retail ने ये दर्जा हासिल किया है। लेकिन क्या आप जानते हैं ये ख़बर शायद ही Reliance को पसंद आए?

Global Powers of Retailing: Deloitte Retail Companies Ranking 2021

जी हाँ! ऐसा इसलिए क्योंकि Reliance Retail इस मामले में पिछले साल टॉप स्थान पर था, लेकिन अब इस साल यानि 2021 में ये टॉप स्थान के फिसलते हुए दूसरे स्थान पर आ गया है।

लेकिन Deloitte की रिपोर्ट के मुताबिक ‘ग्लोबल पावर्स आफ रिटैलिंग’ की सूची में रिलायंस रिटेल ने अपनी रैंकिंग में सुधार करते हुए 53वां स्थान हासिल किया है, जो पिछले साल 56वाँ था।

Top 10 Retail Companies 2021

इस बीच रिटेल कंपनियों को लेकर प्रकाशित की गई इस लिस्ट में अमेरिका रिटेल दिग्गज़ Walmart Inc ने टॉप स्थान हासिल किया है। इसी के साथ ही कंपनी ने दुनिया के टॉप रिटेलर के तौर पर अपने स्थान को इस साल भी बरकरार रखा है।

वहीं Amazon.com Inc ने अपनी रैंकिंग में सुधार करते हुए Walmart के बाद दूसरा स्थान प्राप्त किया है। वहीं अमेरिका की ही Costco Wholesale Corporation अपनी रैंकिंग से फिसलते हुए तीसरे स्थान पर आ गई है, वहीं इसके बाद जर्मनी के Schwarz Group ने चौथा स्थान हासिल किया है।

ग़ौर करने वाली बात ये है कि दुनिया के टॉप 10 रिटेल दिग्गज़ कंपनियों की इस लिस्ट में 7 अमेरिकी कंपनियों और एक ब्रिटेन की Tesco PLC ने अपनी जगह बनाई है, जिसनें 10वाँ स्थान हासिल किया है।

वहीं इस टॉप 10 लिस्ट में शामिल अन्य अमेरिकी कंपनियों की बात करें तो The Kroger Co 5वाँ स्थान, Walgreens Boots Alliance Inc ने 6वाँ स्थान और CVS Health Corporation ने 9वाँ स्थान हासिल किया है।

global-powers-of-retailing-deloitte-report-2021

और सात अमेरिका की कंपनियां शामिल हैं। शीर्ष 10 में स्थान पाने वालों में क्रोगर कंपनी (पांचवां स्थान) वालग्रींस बूट्स एलायंस इंक (छठा स्थान), सीवीएस हेल्थ कापार्पेरेशन (नौवां स्थान), जर्मनी की अल्दी इंकॉफ जीएमबीएच एण्ड कंपनी ओएचीजी को आठवां स्थान मिला है। इसके बाद ब्रिटेन की टेस्को पीएलसी 10वें स्थान पर रही है।

वहीं आपको बता दें जर्मनी की Aldi Einkauf GmbH & Co. oHG और Aldi International Services GmbH & Co. oHG ने 8वें स्थान में जगह बनाई है।

रिलायंस रिटेल क्यों है ख़ास?

दिलचस्प ये है कि Reliance Retail एकलौती भारतीय कंपनी है, जिसने इन 250 दिग्गज़ रिटेल कंपनियों की लिस्ट में जगह बनाई है और इसके साथ ही ये लगातार चौथी बार Global Powers of Retailing और World’s Fastest Retailers लिस्ट में शुमार हुई है।

इस रिपोर्ट के मुताबिक़ वित्त वर्ष 2020 में रिलायंस रिटेल की ग्रोथ वार्षिक आधार पर 41.8% थी, और तब इसके देशभर में 11,784 स्टोर थे, जो देश के 7 हजार से अधिक शहरों में स्थित हैं। कंपनी के स्टोर्स की संख्या में 13.1% की बढ़त दर्ज की गई थी। बता दें कंपनी ने वित्त वर्ष 2018- 19 के ख़त्म होने के दौरान 29 Shri Kannan Departmental Stores का अधिग्रहण किया था।

इतना ही नहीं बल्कि अगस्त 2020 में कंपनी ने भारत के दूसरे सबसे बड़े रिटेल Future Group के रिटेल, थोक और लाजिस्टिक्स व्यवसायों के क़रीब $3.4 बिलियन में अधिग्रहण करने का ऐलान किया था।

लेकिन Amazon ने इस डील पर आपत्ति जताई, जिसके बाद से ये डील फ़िलहाल पूरी नहीं हो सकी है और मामला अभी भी अदालत में है। माना ये जा रहा है कि इस बार Future Group के साथ डील पूरी होने पर देश में रिलायंस रिटेल के स्टोर्स की संख्या दोगुनी हो जाएगी।

आपको याद दिला दें Reliance Retail ने साल 2020 में दो और बड़े अधिग्रहण किए थे, जिनमें Vitalic Health और ऑनलाइन फ़ार्मसी Netmeds का अधिग्रहण शामिल है। इसके साथ ही कंपनी ने ऑनलाइन होम डेकॉर कंपनी UrbanLadder में भी 96% हिस्सेदारी ख़रीदी थी।

हम सबने देखा था कि बीते साल जब भारत समेत दुनियाभर में कोरोना के चलते लॉकडाउन जैसी स्थिति थी, तब Reliance Jio के साथ ही Reliance Retail ने भी कई दिग्गज़ विदेशी कंपनियों ने भारी भरकम निवेश हासिल किया था।