whatsapp-testing-to-add-1024-members-in-a-group

Gurugram WhatsApp Covid-19 Helpline: गुरुग्राम जिला प्रशासन ने नागरिकों को महत्वपूर्ण जानकारी और सभी कोविड-19 रिसोर्स आदि की उपलब्धता व उन तक पहुँच प्रदान करने के लिए एक व्हाट्सएप कोविड -19 हेल्पलाइन (WhatsApp COVID-19 Helpline) शुरू की है।

दिलचस्प ये है कि इस नई हेल्पलाइन को गुरुग्राम जिला प्रशासन ने विभिन्न विभागों के सहयोग के साथ ही साथ स्वयंसेवकों और निजी क्षेत्र के संगठनों का भी सहयोग लेकर तैयार किया है।

How to use ‘Gurugram WhatsApp Covid-19 Helpline’

आपको बता दें स्वाभाविक रूप से इस हेल्पलाइन का इस्तेमाल मुफ़्त है और ख़ास ये है कि हेल्पलाइन हिंदी और अंग्रेजी दोनों भाषाओं में उपलब्ध है।

इसका इस्तेमाल करने के लिए लोगों को WhatsApp पर +91 9643277788 नंबर पर ‘Hi’ भेजना होगा या वह सीधे इस हेल्पलाइन से जुड़ने के लिए https://wa.me/919643277788 इस लिंक पर भी जा सकते हैं।

ये हेल्पलाइन भी WhatsApp Business API पर एक एंटीग्रेटेड रूप से बनाई गई है, जिसकी मदद से नागरिकों को सीधे सूचना और चिकित्सा सेवाओं के आधिकारिक सोर्स तक पहुँचनें में मदद मिलेगी।

इस बात में कोई शक नहीं है कि इस महामारी की घड़ी में बीमारों और उनके परिजनों के लिए एक सबसे अहम चीज़ होती है, तुरंत और प्रामाणिक जानकारी हासिल करना, और हम कह सकते हैं कि इसके ज़रिए प्रशासन का भी यही प्रयास है।

आपको बता दें इस Gurugram WhatsApp COVID-19 Helpline नागरिकों को उनके आसपास के अहम संसाधनों के बारे में अपडेट मिलेगी जैसे RT-PCR सेंटर्स या कैम्प, ऑनलाइन डॉक्टर कॉन्सल्टेशन, बेड की उपलब्धता का स्टेटस, स्वयं को कोविड-19 रोगी के रूप में रजिस्टर करना, हेल्थकेयर सेंटर्स आदि।

Gurugram WhatsApp Covid-19 Helpline: Services

इसके साथ ही इस हेल्पलाइन में नागरिकों को MyUpchar, Meddo और Dunzo की सेवाएं भी मिल सकेगी। इसको Infobip और Day Technologies द्वारा बनाया गया है और WhatsApp की मदद से एनेबल किया गया है।

इसके साथ ही ये पहल The Dialogue और Deepstrat को द डाभी समर्थित है, जो नागरिकों के अनुरोधों को पूरा करने में डीसी गुरुग्राम को मदद प्रदान करने का काम कर रहे हैं।

लेकिन देखना ये होगा कि क्या स्थानीय स्तर पर बनाए गए इस हेल्पलाइन के ज़रिए वाक़ई लोगों को मदद मिल सकेगी? वैसे स्थानीय स्तर पर बनी हेल्पलाइन से इसकी संभावना बढ़ जाती है, क्योंकि राष्ट्रीय स्तर पर अधिकतर हेल्पलाइन लोगों को आँकड़े या कुछ निश्चित जानकारी ही दे पाते हैं, क्योंकि रियल-टाइम अपडेट के आभाव के कारण, ज़मीनी स्तर पर सटीक जानकारी लोगों को नहीं मिल पाती है।

लेकिन इस मुश्किल घड़ी में गुरुग्राम प्रशासन और इन सभी संगठनों द्वारा स्थानीय स्तर पर किए जा रहे इस प्रयास को ज़रूर सराहा जाना चाहिए। साथ ही इसको और भी मज़बूत करने के लिए वहाँ के नागरिकों के बीच इस जानकारी को अधिक से अधिक शेयर करें!