paytm-denies-reports-of-data-leak-to-china-firms

भारत की बीमा और निवेश इकाई लाइफ इन्शुरन्स कारपोरेशन ऑफ़ इंडिया (LIC) ने अपने डिजिटल पेमेंट के संचालन के लिए अब भारत के दिग्गज़ फ़िनटेक स्टार्टअप Paytm को चुना है।

इसके पहले तक LIC ने किसी अन्य पेमेंट गेटवे के साथ भागीदारी की थी। लेकिन अब अपने अधिकतर पेमेंट को डिजिटल मोड में शिफ़्ट करते समय अब LIC ने एक नए कॉंट्रैक्ट के तहत अब Paytm को इस काम का भागीदार बनाया है।

LIC & Paytm: ये थीं डिमांड

असल में इसके पीछे का कारण यह बताया जा रहा है कि LIC असल में अपने डिजिटल पेमेंट को लेकर पेमेंट प्रक्रिया को बेहद सरल व आसान बनाने के साथ ही कई तरह के पेमेंट विकल्पों की पेशकश और कई पेमेंट भुगतान चैनलों (बैंकों, वॉलेट आदि) को जोड़ना चाहता है।

ये सभी मुख्य कारण नज़र आते हैं जिसकी वजह से Paytm को चुना गया है, इस बात में कोई शक नहीं है कि डिजिटल पेमेंट के क्षेत्र में भारत के शुरुआती दिनों में Paytm एक बड़ा नाम बनकर सामने आया था और जो आज भी बरक़रार है।

lic-selects-paytm-to-handle-e-payments

मीडिया रिपोर्ट्स की मानें तो LIC से इस कॉंट्रैक्ट को हासिल करने के लिए क़रीब 17 पेमेंट प्लेटफॉर्म ने बोली लगाई थी, लेकिन Paytm के द्वारा पेश की जाने वाली तमाम तरह के पेमेंट विकल्पों और UPI व कॉर्ड क्षेत्रों में तेज़ी से बढ़ती इसकी हिस्सेदारी को देखते हुए इसको चुना गया है।

कोविड-19 माहामारी के बाद से ही देश में डिजिटल परिवर्तन की दर काफ़ी तेज हो गई है और इस मामले में सबसे अधिक प्रभाव पड़ा है पेमेंट क्षेत्र पर, जहाँ अब तेज़ी से लोग ऑनलाइन विकल्पों का रूख कर रहें हैं।

LIC & Paytm: कंपनी ने हासिल किए ₹60,000 करोड़ के डिजिटल प्रीमियम

और अब इसी कड़ी में LIC ने भी डिजिटल पेमेंट में वृद्धि दर्ज करने के बाद इस क़दम को बढ़ा रहा है। आपको बता दें LIC ने क़रीब ₹60,000 करोड़ का प्रीमियम कलेक्शन सिर्फ़ डिजिटल माध्यम से ही किया है, जिसमें बैंकों के माध्यम से किया गया भुगतान शामिल नहीं है।

जी हाँ! असल में LIC ने लगभग 8 करोड़ डिजिटल लेनदेन दर्ज किए हैं, जिसमें आने वाले समय में और भी वृद्धि होने की उम्मीद है।

आपको बता दें Paytm के साथ ही डील के तहत LIC ने ना सिर्फ़ एंड-टू-एंड प्रीमियम पेमेंट के लिए बल्कि साथ ही बीमा एजेंटों द्वारा कलेक्ट पैसे के रेमिटेंस सहित आदि सुविधाओं के लिए कांटैक्ट के समय सोल्यूशन की माँग की थी।