samsung-upcycling-old-galaxy-phones-used-as-eye-care-tools-in-india
Credit: Samsung Blog

अन्य कई सेगमेंट के अलावा स्मार्टफोन सेगमेंट में भी काफ़ी लोकप्रिय ब्रांड बन चुके Samsung ने साल 2017 में अपने पुराने Galaxy स्मार्टफ़ोनों को इनोवेटिव तरीक़े से अन्य कामों में इस्तेमाल करने के लिए Galaxy Upcycling प्रोग्राम शुरू किया था।

और अब दुनिया के पिछड़े और मध्यम-आय वाले क्षेत्रों में आई-केयर (आँखों के स्वास्थ्य देखभाल) संबंधित कम्यूनिटी को मदद करने के लिए इस कोरियाई दिग्गज़ कम्पनी ने एक नई पहल शुरू की है।

असल में Samsung अब पुराने Galaxy स्मार्टफोनों को किफायती आई-केयर टूल विकसित करने के लिहाज़ से तैयार कर रहा है।

इस नई योजना का ऐलान Samsung ने ख़ुद अपने आधिकारिक ब्लॉग से किया है। इसमें Samsung का कहना है कि दुनिया भर में लगभग 2.2 बिलियन लोग किसी न किसी आँख संबंधित दोष/बीमारी के शिकार हैं। और इनमें से आधे से अधिक मामलों को केवल तभी रोका जा सकता था जब रोगियों के पास सस्ते और विश्वसनीय आई-केयर टूल और सेवाएं उपलब्ध हों।

Samsung Galaxy Upcycling: EYELIKE™ Fundus Camera

अपने इस नए प्लान के तहत Samsung अब नए हैंडहेल्ड (हाथों में पकड़कर इस्तेमाल करने योग्य) EYELIKE™ Fundus Camera के साथ पुराने Galaxy फ़ोनों का इस्तेमाल कर रहा है।

आपको बता दें इस EYELIKE™ Fundus Camera को 2019 में Samsung ने अपने डेवलपर कॉन्फ्रेंस में एक किफायती आई-केयर डायग्नोसिस टूल की तरह प्रदर्शित किया था। ये असल में एक पोर्टेबल आई डायग्नोसिस टूल है, जो कई आँख संबंधी बीमारियों की पहचान करने में मदद करता है, जिनमें से कई बीमारियाँ अंधापन का कारण तक बन सकती हैं।

Samsung का ये डिवाइस बेहद आसान तरीक़े से काम करता है। कॉम्पैक्ट EYELIKE™ Fundus Camera एक लेंस अटैचमेंट का इस्तेमाल करके पुराने गैलेक्सी डिवाइस से जोड़ दिया जाता है। और तभी से वो स्मार्टफोन इस डिवाइस के “मस्तिष्क” के रूप में कार्य शुरू कर देता है और वहीं Fundus Camera दूसरी ओर मरीजों की आंखों की तस्वीरों को कैप्चर करता है।

Samsung-EYELIKE-Fundus-Camera-India
Credit: Samsung Blog

कैप्चर की गई तस्वीरों को स्मार्टफोन के एक ऐप पर भेजा जाता है, जो आँख संबंधी बीमारियों के लिए तस्वीरों का विश्लेषण करके आदि के लिए आर्टिफ़िशल इंटेलिजेन्स (AI) आधारित एल्गोरिदम का इस्तेमाल करती है। इतना ही नहीं बल्कि आँख संबंधी किसी भी बीमारी का पता लगाने के बाद, ऐप मरीजों के लिए उपचार का तरीक़ा भी बताती है।

दिलचस्प ये है कि इन सब के लिए किसी बड़ी और महँगी मशीनों के बजाए ज़रूर पड़ती है सिर्फ़ एक पुराने Galaxy फ़ोन की।

भारत में भी शुरू हुआ Samsung का ये प्रोग्राम

इस बीच Samsung ने बताया कि उसने इस प्रोग्राम को लेकर International Agency for the Prevention of Blindness (IAPB) और Yonsei University Health System (YUHS) के साथ भागीदारी की है, जिससे क़रीब 19,000 वियतनामियों को इसका लाभ दिया जा सके।

इसके साथ ही अब अपने EYELINK Fundus Camera के ज़रिए कंपनी ने अपने Galaxy Upcycling प्रोग्राम को भारत, मोरक्को और पापुआ न्यू गिनी में भी शुरू कर दिया है।