facebook-bjp-india

ऐसा लगता है कि सोशल मीडिया दिग्गज़ Facebook विवादों से ज़्यादा दूर नहीं रह पाता। और अब एक बार फिर से Facebook करीब 106 देशों के 53.3 करोड़ Facebook यूजर्स का पर्सनल डेटा लीक (Data Leak) को लेकर विवादों में घिरता नज़र आ रहा है।

इस बात भारतीयों के लिए भी यह एक गंभीर विषय इसलिए है क्योंकि इस Facebook Data Leak से अब तक क़रीब 60 लाख भारतीय यूज़र्स के प्रभावित होने की बात भी सामने आई है। इसके साथ ही कथित रूप से लीक हुए डेटा में कंपनी के संस्थापकों Mark Zuckerberg, Chris Hughes और Dustin Moskovitz के फोन नंबर भी नज़र आएँ हैं।

Facebook Data Leak: इतिहास के सबसे बड़े लीक में से एक?

कहा तो ये भी जा रहा है कि Facebook प्लेटफ़ॉर्म के ज़रिए कथित रूप से हुई ये Data Leak कंपनी के इतिहास की अब तक की सबसे बड़ी डेटा लीक साबित हो सकती है। 

सिक्योरिटी रिसर्चर्स के मुताबिक़ Facebook के तमाम यूज़र्स के जो डेटा ऑनलाइन लीक हुए हैं, उनमें यूज़र्स का फोन नंबर, फेसबुक आईडी, लोकेशंस, जन्मदिन, पूरा नाम, परिचय और ईमेल आईडी जैसी संवेदनशील जानकरियाँ शामिल हैं।

साइबर क्राइम इंटेलिजेंस फर्म Hudson Rock के सीटीओ, Alon Gal ने शनिवार को इस लीक का ढूँढा और Twitter के ज़रिए इसकी सूचना सार्वजनिक की।

बता दें Alon Gal विशेष रूप से एक ही रिसर्चर हैं, जिन्होंने जनवरी में Telegram Bots के ज़रिए लीक हुए डेटाबेस के समान प्रतीत होने वाली इस लीक की सूचना दी है।

लेकिन तब ये ख़बर सामने आई थी कि Telegram Bot के ज़रिए डेटा लीक में शामिल व्यक्ति लीक हुए डेटा को उन लोगों को बेच रहा था जो एक डेटा सेट के लरिये क़रीब $20 का भुगतान करने को तैयार थे। लेकिन इस बार Alon के मुताबिक़ ये विशाल डेटा एक लो-लेवल हैकिंग फोरम में मुफ्त में उपलब्ध है।

facebook_data_Leak_53_cr_users

बिजनेस इनसाइडर की एक रिपोर्ट के अनुसार Gal की मानें तो लीक हुए डेटा का एक सेट Facebook के ज़रिए 2019 में पैच की गई एक खामी के वजह से लीक हो गया था। इस ख़ामी के चलते कथित रूप से यूज़र्स के Facebook अकाउंट से लिंक्ड मोबाइल नंबर भी देखे जा सकते थे।

वहीं Alon Gal के अनुसार 53.3 करोड़ Facebook यूजर्स के डाटा का फायदा उठाकर हैकर्स सोशल इंजीनियरिंग अटैक्स जैसी चीज़ों को भी अंजाम दे सकते हैं।

रिपोर्ट्स के अनुसार इस Facebook Data Leak के ज़रिए जहाँ भारत के क़रीब 60 लाख यूज़र्स प्रभावित हुए हैं, वहीं अमेरिका के 3.2 करोड़ और ब्रिटेन के 1.1 करोड़ Facebook यूजर्स का डेटा लीक होने की बात सामने आई है।

Facebook Data Leak: कंपनी है ख़ामोश?

इस बीच कथित रूप से इतिहास के सबसे बड़े डेटा लीक में से एक को लेकर Facebook ने अब तक कोई आधिकारिक बयान नहीं जारी नहीं किया है।

माना ये जा रहा है कि भले डेटा लीक पुरानी किसी ख़ामी या पहले ही हुआ हो, लेकिन इतनी बड़ी मात्रा में अब इस डेटा का इस्तेमाल किया जा सकता है।

लेकिन हमेशा ही विवादों से घिरा रहने वाला Facebook अब तक खुलकर ये भी नहीं कह सका है कि क्या ये डेटा लीक हुई भी है या नहीं?