hero-group-enters-into-edtech-begins-hiring

लोकप्रि दोपहिया वाहन निर्माता कंपनी Hero MotoCorp पर मालिकाना हक़ रखने वाला Hero Group अब एडटेक (EdTech या “एजुकेशन टेक्नोलॉजी“) क्षेत्र में भी प्रवेश करता नज़र आ रहा है। असल में बीते हफ़्ते ही कंपनी ने संभावित रूप से जल्द ही लॉन्च हो सकने वाले अपने एडटेक प्लेटफॉर्म के लिए कुछ अहम पदों के लिए जॉब पोस्टिंग की हैं।

जी हाँ! असल में कंपनी के इस संभावित EdTech स्टार्टअप के लिए iimjobs पर Head – Human Resource प्रोफ़ाइल पर हायरिंग के लिए Hero Group के एक सीनियर मैनेजर-एचआर की ओर से की गई एक जॉब पोस्टिंग देखी गई है। इस जॉब पोस्टिंग में लिखा है;

“देश भर में अधिक से अधिक छात्रों तक पहुंचने के हमारे निरंतर प्रयासों के हिस्से के रूप में, हम एक नए EdTech प्लेटफॉर्म का निर्माण कर रहे हैं। हमारा लक्ष्य तरह तरह की डोमेन और फ़ंक्शंस में विशेष रूप से डिज़ाइन किए गए प्रोग्राम की पेशकश करना है, जो इंडस्ट्री में मौजूद वास्तविक जॉब रोल के लिहाज़ से मददगार साबित हो सकें।”

इस पोस्टिंग में ये भी कहा गया कि कंपनी की कोशिश शिक्षा के मौजूदा पैटर्न आदि में थोड़े मॉडिफ़िकेशन करते पेशेवरों के लिए उपयोगी स्किल हासिल करने का अवसर देते हुए ऑनलाइन सर्टिफ़िकेट और डिग्री प्रोग्राम की पेशकश करने की है।

hero-group-edtech-startup-job-postinghiring

आपको बता दें इसके अफले Hero Group वाले एडटेक स्टार्टअप पर UI/UX डिजाइनर के लिए एक और जॉब पोस्टिंग LinkedIn पर नज़र आई। लेकिन इसको लेकर हम पुख़्ता तौर पर नहीं कह सकते कि ये आधिकारिक पोस्टिंग ही है या नहीं?

hero-group-edtech-startup-job-posting-hiring-for-designer

Hero Group EdTech Startup: कंपनी के लिए नया नहीं है शिक्षा क्षेत्र?

असल में सालों से शिक्षा के क्षेत्र में पैठ को देखते हुए, अपना एडटेक स्टार्टअप लॉन्च करना Hero Group के लिए एक तार्किक कदम होगा। आप सोच रहें होंगें कैसे? असल में 1956 में Hero Cycle के लिए Hero Group की स्थापना करने वाले मुंजाल परिवार देशभर में कुछ कॉलेजों और स्कूलों के साथ ही BML Munjal University का प्रमोटर भी हैं।

पिछले साल ख़ासकर कोरोना महामारी के दौरान हुए लॉकडाउन आदि की वजह से देश के EdTech क्षेत्र में Unacademy और BYJU’s जैसे बड़े खिलाड़ियों के साथ ही साथ नए स्टार्टअप्स में भी अच्छी ख़ासी ग्रोथ दर्ज की गई, जो लगातार बढ़ रही है।

पहले ही बड़ी कंपनियाँ खेल रहीं हैं EdTech में दाँव

वहीं Reliance भी अपने एआई-आधारित Embibe के ज़रिए पिछले एक साल के दौरान, JioMeet जैसी कई सुविधाएँ पेश कर चुका है, जिनका इस्तेमाल शैक्षणिक संस्थानों द्वारा किया जा सकता है।

2019 में Amazon ने भी इस क्षेत्र में क़दम रखते हुए JEE Ready नामक ऐप लॉन्च किया, जो भारत की इंजीनियरिंग प्रवेश परीक्षा IIT-JEE के लिए मॉक टेस्ट आदि की सुविधा देती है। हालाँकि पिछले साल नवंबर में ही Amazon ने इसकी रिब्रांडिंग करते हुए इसको Amazon Academy का नाम दिया था। बता दें ये ऐप अभी भी बीटा टेस्टिंग मोड में ही है।

आप सोच रहें होंगें ये बड़ी कंपनियों भला भारत के EdTech बाज़ार में इतनी दिलचस्पी क्यों दिखा रही हैं? तो आपको बता दें 2020 में क़रीब $2.8 बिलियन का भारतीय EdTech बाजार 2025 तक $10.4 बिलियन तक पहुँच जाने की उम्मीद है।

और ऐसे में जब लॉकडाउन आदि के चलते स्टूडेंट्स और पैरेंट्स दोनों ने ही ऑनलाइन लर्निंग को अपनाना शुरू कर दिया है, तो फिर भला उनको लुभाने में कोई भी कंपनी पीछे क्यों रहे?