zomato-to-soon-deliver-health-dietary-supplements
Photo Credit: (Twitter/@deepigoyal)

गुरुग्राम स्थित फूडटेक यूनिकॉर्न Zomato के सह-संस्थापक और सीईओ दीपिंदर गोयल ने मंगलवार को एक बड़ा ऐलान किया। असल में कंपनी के सीईओ ने बताया की जल्द ही प्लेटफ़ॉर्म पर यूज़र्स हेल्थ, डाइट, स्किन आदि तरह के सप्लीमेंट्स (Dietary Supplements) भी ऑर्डर कर सकेंगें।

जी हाँ! युवाओं व अपनी हेल्थ को लेकर तरह-तरह के सप्लीमेंट्स (Dietary Supplements) आदि का इस्तेमाल करने वाले लोगों के लिए बेशक ये ख़बर बेहद ख़ास है, क्योंकि Zomato पर अब वो भोजन की तरह ही अपने सप्लीमेंट्स भी ऑर्डर पर पाएँगें और कंपनी रेगुलर डिलीवरी की तरह ही इनको भी कम समय में डिलीवर करती नज़र आएगी।

और इससे भी दिलचस्प बात ये है कि दीपिंदर गोयल ने इसकी घोषणा करते समय जिन सप्लीमेंट्स (जैसे Dietary Supplements आदि) की तस्वीरों को शेयर किया है, इन प्रोडक्ट में Zomato की ही ब्रांडिंग नज़र आ रही है।

zomato-deliver-health-dietary-supplements
Photo Credit: (Twitter/@deepigoyal)

और इसको लेकर कंपनी के सीईओ ने एक Twitter उपयोगकर्ता का रिप्लाई देते हुए कहा कि ये प्रोडक्ट पूरी तरह से मेड इन इंडिया हैं और उनकी क्वॉलिटी भी सबसे उच्चतम मानकों के अनुसार रखने का प्रयास किया गया है।

वहीं एक अन्य Tweet के जवाब में कहा कि Zomato डिलीवरी एजेंटों द्वारा ही इन सप्लीमेंट्स आदि को भी औसतन 25 मिनट में डिलीवर करने का प्रयास किया जाएगा।

आपको बता दें इन सप्लीमेंट्स (जैसे Dietary Supplements आदि) को पर न्यूट्रास्यूटिकल (Nutraceuticals) कहा जाता है, और इन्हें हर्बल प्रोडक्ट, मिनर्ल्स, विटामिन और अन्य खाद्य पदार्थों से प्राप्त किया जाता है, जो शारीरिक लाभों के लिए या रोगों के खिलाफ इम्यूनिटी को बढ़ाने के लिए खाए जाते हैं।

 

आपको बता दें इन्वेस्ट इंडिया की एक रिपोर्ट के अनुसार, भारत में न्यूट्रास्युटिकल्स का बाजार साल 2017 के $4 बिलियन डॉलर से बढ़कर साल 2025 में $18 बिलियन से भी अधिक का होने की उम्मीद है।

ऐसा इसलिए भी क्योंकि बीते कुछ सालों में सप्लीमेंट्स (जैसे Dietary Supplements आदि) को लेकर ना सिर्फ़ अपर क्लास बल्कि देश के मिडल क्लास तबके में भी इसकी माँग तेज़ी से बढ़ी है और महामारी आदि के चलते भी इनकी माँगों में इज़ाफ़ा होना स्वाभाविक सी बात है।

इस रिपोर्ट में यह भी कहा गया है कि भारत में न्यूट्रास्यूटिकल्स बाजार को फ़ंक्शनल फ़ूड पेय और डाइट सप्लीमेंट आदि में बाँटा गया है, और भारत में फ़िलहाल HealthKart और Patanjali जैसे खिलाड़ी इस क्षेत्र में मौजूद हैं।

लेकिन ये ख़बर इसलिए भी दिलचस्प हो जाती है क्योंकि ये ऐसे वक़्त में आई है जब Zomato के IPO की कोशिशों में तेज़ी आने की ख़बरें भी सामने आ चुकी हैं। असल में रिपोर्ट्स के मुताबिक़ Zomato इस साल के अंत तक IPO दायर करने की कोशिशों में है।