airtel-conducts-india-first-5g-testing-in-the-700-mhz-band-with-nokia

देश की जानी मानी टेलीकॉम कंपनी Bharti Airtel Ltd ने अब विज्ञापन क्षेत्र में भी क़दम रखते हुए अपना नया प्लेटफ़ॉर्म Airtel Ads लॉन्च किया है। ये प्लेटफ़ॉर्म असल में ग्राहकों को ब्रांडों से जोड़ने का काम करेगा, आसान भाषा में, ब्रांडों अब Airtel Ads पर अपने विज्ञापन लोगों तक पहुँचा सकेंगें।

सुनील मित्तल के नेतृत्व वाली इस टेलीकॉम कंपनी की ये नई सुविधा तमाम ब्रांडों को कंपनी के ग्राहकों के बीच उनकी सहमति से कैंपेन चलाने की सहूलियत देगी। आपको बता दें Airtel के पास भारत में क़रीब 320 मिलियन से अधिक ग्राहक हैं, जो इसकी मोबाइल, डायरेक्ट-टू-होम (डीटीएच) और अन्य सुविधाओं का इस्तेमाल करते हैं।

Airtel Ads से जुड़े 100 से अधिक ब्रांड

बताया गया है कि Airtel Ads ने पहले चरण में 100 से अधिक ब्रांडों के लिए कैंपेन शुरू भी कर दिए हैं। आपको बता दें कैंपेन शुरू करने वाले ब्रांडों में FMCG, बैंकिंग, वित्तीय सेवाएं और बीमा (BFSI), डिजिटल स्टार्टअप आदि क्षेत्रों के ब्रांड शामिल हैं।

इसके लिए Airtel Ads ने PepsiCo, Zomato, CRED, Tata AIG Insurance, Lenskart, Apollo 24.7, Cars24, Gameskraft, Vahan और Harley Davidson जैसी दिग्गज़ कंपनियों के साथ साझेदारी की है।

आपको बता दें ये नया प्लेटफ़ॉर्म रिपोर्ट के अनुसार ब्रांडों को Airtel के डेटा रिसर्च और एनालिटिक्स का इस्तेमाल कर अपने प्रोडक्ट व सर्विस को बेचने के लिए चुनिंदा ग्राहकों को टार्गेट करने में मदद करेगा।

इस बीच Airtel के चीफ़ प्रोडक्ट ऑफ़िसर, आदर्श नायर ने कहा कि ग्राहकों की रुचि के आधार पर Airtel Ads उन्हें आगामी समय के लिए प्रासंगिक ऑफ़र्स प्रदान करेगा और साथ ही उन अवांछित कैंपेन से भी उनको दूर रखने की कोशिश करेगा, जो ग्राहकों को ऐप्स पर स्पैम के रूप में परेशान करते हैं।

airtel-launches-airtel-ads-advertising-business

साफ़ कर दें कि ये विज्ञापन केवल Airtel के तमाम प्लेटफ़ॉर्मों पर ही उपलब्ध होंगे। Airtel पर क़रीब 320 मिलियन के ग्राहक आधार ये सुविधा पहली नज़र में कंपनी के लिए काफ़ी फ़ायदेमंद नज़र आती है।

आपको बता दें कंपनी के म्यूजिक स्ट्रीमिंग ऐप Wynk, ओवर-द-टॉप (OTT) वीडियो कंटेंट प्लेटफ़ॉर्म Xtream और Thanks App पर ही अकेले पर 190 मिलियन उपयोगकर्ता हैं। वहीं क़रीब 17 मिलियन लोग इसकी DTH सेवाओं का भी लाभ उठाते है।

Airtel Ads में स्पैम पर लगेगी लगाम

इस बीच हाल ही में प्रमुखता से उठते प्राइवेसी मुद्दों को देखते हुए कंपनी ने यह भी साफ़ किया कि वह विज्ञापन-ट्रैकिंग मानकों और मानदंडों का पूरा और कठोरता से पालन करते हुए विज्ञापनदाताओं के साथ भी पूरी पारदर्शिता बरतेगी। साथ ही कंपनी ये भी सुनिश्चित करेगी कि झूठे वादों और जबरन क्लिकों को बढ़ावा देने वाले विज्ञापनों को दूर रखा जाए।

असल में भारत का विज्ञापन उद्योग 2025 तक $10 बिलियन से बढ़कर $19 बिलियन तक होने की उम्मीद है। और ऐसे में तमाम कंपनियाँ जिनके पास एक अच्छा ग्राहक आधार है, वह इस मौक़े का पूरा लाभ उठाना चाहती हैं।