airtel-conducts-india-first-5g-testing-in-the-700-mhz-band-with-nokia

जहाँ Jio फ़िलहाल अपनी 5G योजनाओं को लेकर बड़े बड़े ऐलान करने में ही व्यस्त है, वहीं इसके प्रतिद्वंद्वी Airtel अब घोषणा की है कि उसने देश में 5G का सफलतापूर्वक परीक्षण किया है। जी हाँ! Airtel का दावा है कि इसने हैदराबाद में कमर्शियल नेटवर्क पर “LIVE 5G सेवा” की सफ़ल टेस्टिंग के साथ देश में ऐसा करने वाली पहली टेलीकॉम कंपनी बैन चुकी है।

अब आपको लग रहा होगा कि भला अब तक तो 5G स्पेक्ट्रम की नीलामी तक नहीं हुई तो यह कैसे संभव है? असल में Airtel ने एक ख़ुलासा किया है कि उसने इसके लिए 1800 मेगाहर्ट्ज बैंड में एक स्पेक्ट्रम ब्लॉक का इस्तेमाल किया। इसने NSA (Non-Standalone) तकनीक का इस्तेमाल कर हैदराबाद में “समान स्पेक्ट्रम ब्लॉक के भीतर 5G और 4G [नेटवर्क] को संचालित करने” का काम किया है।

इस टेस्टिंग के दौरान कंपनी का दावा रहा कि उपयोगकर्ता महज़ कुछ सेकंड में 5G नेटवर्क के सहारे पूरी एक फिल्म डाउनलोड करने में सक्षम थे। और इसलिए न केवल तकनीक के लिहाज़ से बल्कि कंपनी के अनुसार रेडियो, आदि परिवहन के लिहाज़ में भी Airtel नेटवर्क की 5G सुविधा को टेस्ट किया गया।

इस बीच Bharti Aritel के एमडी और सीईओ, गोपाल विट्टल ने कहा,

“Airtel ऐसी क्षमता का प्रदर्शन करने वाला पहला ऑपरेटर बन गया है और हमनें फिर से साबित कर दिया है कि हम हर जगह भारतीयों को तकनीकी लिहाज़ से सशक्त बनाने में अग्रणी हैं।”

इस बीच इस टेलीकॉम दिग्गज ने अपने 5G नेटवर्क पर हासिल की गई स्पीड का खुलासा नहीं किया। लेकिन ऐसा माना जा रहा है कि इसकी 5G तकनीक वर्तमान की 4G तकनीक से भी 10 गुना अधिक स्पीड प्रदान करेगी।

दिलचस्प ये है कि Airtel ने यह भी कहा है कि कंपनी अपनी 5G सेवाओं को रोल आउट करने के लिए तैयार है और अब बस 5G स्पेक्ट्रम के उपयोग की अनुमति देने के लिए दूरसंचार विभाग (DoT) की मंज़ूरी का इंतजार कर रही है ।

कंपनी के अनुसार;

“5G का हमारे ग्राहकों के लिए जल्द ही उपलब्ध होगा, जो पर्याप्त स्पेक्ट्रम के रूप में उपलब्ध होगा है, फ़िलहाल कंपनी सरकारी मंज़ूरी प्राप्त करने के इंतज़ार कर रही है।”

आपको बता दें Jio ने भी 2021 की दूसरी छमाही में भारत भर में 5G सेवाओं को रोल आउट करने का ऐलान किया था। इसने अमेरिका में Qualcomm के साथ मिलकर अपने 5G नेटवर्क की टेस्टिंग की थी।

1 comment

Comments are closed.