आज ईटी की एक रिपोर्ट के मुताबिक़, मुकेश अंबानी के मालिकाना हक़ वाली Reliance Retail ने अब अपने ईकॉमर्स प्लेटफॉर्म JioMart पर ऑर्डर को पूरा करने के लिए फ्रेंचाइजी पार्टनर के रूप में स्थानीय किराने की दुकानों की शुरुआत करने का मन बनाया है।

दरसल Reliance Retail पैकेज्ड फूड, किराना और एफएमसीजी उत्पादों की सीधी बिक्री से बाहर निकलना चाहता है। और अब किराना स्टोर्स के ज़रिए अपने पड़ोस में उपभोक्ताओं को इन उत्पादों को मुहैया करवाएँगें।

रिपोर्ट में सूत्रों के हवाले से कहा गया, दरसल अगर JioMart पर ऑर्डर किए गए उत्पादों का स्टॉक किराना स्टोर पर मिल मिल पाता, जो क़रीब 300-400 सबसे लोकप्रिय आइटम बेचते हैं, तो ऐसे में Reliance Retail उनकी आपूर्ति करेगा और मार्जिन समान रूप से साझा किया जाएगा। लेकिन ये भी है कि Reliance अपने स्टोरों या सप्लाई सेंटरों से फल और सब्जियों की बिक्री का काम करता रहेगा।

इसके साथ ही Reliance Retail अपने B2B कैश-एंड-कैरी स्टोर फॉर्मेट, Reliance Market के स्वरूप को भी बदल सकता है जो शायद अब उत्पादों की B2B डिलीवरी के लिए सप्लाई सेंटर की तरह नज़र आएँ।

आपको बता दें बीते जून की तिमाही में कंपनी ने अपनी डायरेक्ट सेल को शुरू करने के लिए 30 शहरों से पायलट प्रोजेक्ट के तौर पर JioMart में क़रीब 56,000 किराना स्टोर्स को शुरू किया था।

इसके साथ ही सूत्रों के अनुसार Reliance Retail ने अप्रैल तक 100 से अधिक शहरों में किराना स्टोर्स को ऑनबोर्ड करने की योजना बनाई है, जिसके बाद ये क़रीब पूरी तरीक़े से JioMart का संचालन शुरू कर देगा।

उम्मीद के मुताबिक़ JioMart में किराना स्टोर्स के ज़रिए बिक्री के एक हाइब्रिड मॉडल को अपनाया जाएगा। इसके साथ ही जिन कोडों में किराना स्टोर मौजूद नहीं होंगें वहाँ Reliance Retail Stores के ज़रिए सप्लाई सुनिश्चित की जाएगी।

दरसल जानकारों की मानें तो इस तरीक़े से Reliance Retail अपने ग्राहकों को JioMart के ज़रिए तेज़ी से ऑर्डर की डिलीवरी देने का काम कर पाएगा।