भारत सरकार ने स्टार्टअप्स और उभरती तकनीक को COVID Vaccine Intelligence Network (CoWIN) में भागीदार बनाने के लिए एक प्रतियोगिता की घोषणा की है।

इस डिजिटल प्लेटफ़ॉर्म का इस्तेमाल राष्ट्रीय स्तर पर COVID Vaccine Distribution System को प्रभावी ढंग से पेश करने के लिए किया जाएगा। आपको बता दें इलेक्ट्रॉनिक्स और आईटी के केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद द्वारा घोषित यह ग्रैंड चैलेंज 15 जनवरी, 2021 तक चलेगा।

इस बीच इस प्रतियोगिता का ऐलान करते हुए श्री प्रसाद ने कहा;

“इंडिया के इनोवेटर्स ने COVID-19 के खिलाफ लड़ाई में अहम भूमिका निभाई है। मैं भारत भर में COVID-19 वैक्सीन के प्रोग्राम को शुरू करने के लिए CoWIN प्लेटफॉर्म को मजबूत करने के मक़सद से इनोवेटर्स और स्टार्टअप्स को आमंत्रित करता हूं।”

आपको बता दें इस प्रतियोगिता को स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय (MoHFW) के सहयोग से लॉन्च किया गया है।

CoWIN ग्रैंड चैलेंज विजेताओं को कुल ₹3.85 करोड़ के पुरस्कार मिलेंगे। इसमें से टॉप दो प्रतियोगियों को क्रमशः ₹40 लाख और ₹20 लाख का ईनाम दिया जाएगा।

MoHFW ने पूर्ण और प्रभावी वैक्सीन वितरण प्रणाली से जुड़ी संभावित तकनीकी विकास के सात क्षेत्रों की पहचान की है। क्षेत्रों में बुनियादी ढांचे, निगरानी और प्रबंधन, सीखने और सूचना प्रणाली, मानव संसाधनों की तकनीकी क्षमता, टीका रसद प्रबंधन और रियल टाइम ट्रैकिंग जैसी कैटेगॉरी शामिल हैं।

आपको बता दें ये चैलेंज के लिए आप https://meitystartuphub.in पर जा सकते हैं और टॉप 5 आवेदनकर्ताओं को CoWIN APIs (Application Programming Interface) प्रदान की जाएगी ताकि वह अपने सोल्यूशन को प्लेटफ़ॉर्म के सहयोग से सफ़ल साबित कर सकें।