zomato-new-parent-firm-eternal-with-multiple-ceo-model

गुरुग्राम आधारित फ़ूड डिलीवरी प्लेटफॉर्म Zomato के सह-संस्थापक दीपिंदर गोयल ने शुक्रवार को ऐलान किया कि कंपनी ने $660 मिलियन का निवेश हासिल किया है। ये निवेश कंपनी को $3.9 बिलियन के वैल्यूएशन पर मिला है।

इस बीच इस राउंड के साथ ही 10 नए निवेशक Zomato में शामिल हुए हैं, जिनमें Tiger Global, Kora, Luxor, Fidelity (FMR), D1 Capital, Baillie Gifford, Mirae, और Steadviewका नाम शुमार है।

असल में Zomato एक सेकंडेरी लेनदेन के रूप में $140 मिलियन भी जुटा रहा है। इस बीच अपने पूर्व कर्मचारियों द्वारा निभाई गई भूमिका को स्वीकार करते हुए गोयल ने कहा कि वह Zomato के आज के हालातों को लेकर उनके योगदान के लिए हमेशा आभारी हैं। गोयल ने कहा, “मुझे खुशी है कि हमने इन बेहद कमाल के लोगों के लिए कुछ पैसे बनाए।”

ज़ाहिर है COVID-19 महामारी के चलते कंपनी के राजस्व आदि में सुधार की वजह से Zomato ने अपने कई कर्मचारियों को खोया है। महामारी की वजह से कुछ महीनों के लिए फ़ूड डिलीवरी व्यवसाय में काफ़ी मंदी देखी गई थी। इस बीच गोयल का मानना है कि अब ये क्षेत्र महामारी की चपेट से तेज़ी से उभर रहा है।

इस बीच Zomato को इस फ़ंडिंग के बाद देश में अपने सबसे बड़े प्रतिद्वंद्वी Swiggy आदि से मुक़ाबला करने में मदद मिलेगी। फ़िलहाल Zomato की वैल्यूएशन इसको भारतीय स्टार्टअप इकोसिस्टम में सबसे मूल्यवान फ़ूड टेक कंपनी बनाती है। ऐसा इसलिए क्योंकि फ़िलहाल Swiggy की वैल्यूएशन $3.6 बिलियन है।

हम कह सकते हैं कि Zomato फ़िलहाल इस बाज़ार का नेतृत्व कर रहा है। और इस बीच ख़बर यह भी है कि अगले साल की पहली छमाही तक कंपनी IPO भी दायर कर सकती है।

आपको बता दें अक्टूबर के अंत में Zomato ने अक्षत गोयल को अपने नए मुख्य वित्तीय अधिकारी (CFO) की ज़िम्मेदारी सौंपी थीं। इसके पहले वह कंपनी के लिए कॉर्पोरेट विकास का नेतृत्व कर रहे थे और पिछले चार सालों से कंपनी के साथ जुड़े हुए हैं। उनके पहले आकृति चोपड़ा CFO का कार्यभार सम्भाल रहीं थी, जो अब People Development विभाग संभाल रहीं हैं।