इस बात में कोई शक नहीं है कि COVID-19 महामारी ने देश ही नहीं बल्कि दुनिया भर में तकनीक को बढ़ावा देने का दौर शुरू कर दिया है। और अब इसी बात पर मोहर लगाते हुए National Association of Software and Service Companies (Nasscom) ने एक रिपोर्ट पेश की है।

Nasscom ने इस रिपोर्ट में कहा कि महामारी के दौरान तकनीकी खर्च को लेकर काफ़ी बढ़त हुई है और डिजिटल बदलावों की किए होने वाले डील आदि में 30% तक की बढ़ौतरी तर्ज़ की गई है।

दरसल Nasscom और McKinsey द्वारा तैयार की गई एक रिपोर्ट Future of Technology Services – Navigating the New Normal में यह भी सामने आया है कि महामारी की वजह से Cloud ख़र्च खर्च में भी 80% का इज़ाफ़ा हुआ है।

ज़ाहिर है ये आईटी इंडस्ट्री के लिए आगे बढ़ने का एक बेहतरीन मौक़ा बन गया है। लेकिन ईटी में प्रकाशित हुई एक रिपोर्ट के मुताबिक़ कंपनियों को और भी कई चीजों पर ध्यान देना होगा, जैसे अपने कर्मचारियों को हमेशा के लिए स्किल आदि को सिखाना आदि।

ईटी की इस रिपोर्ट में Nasscom के चेयरमैन और Infosys के सीओओ, प्रवीण राव ने यह भी कहा कि इस महामारी ने लोगों के जीवन और उनकी कमाई दोनो पर गहरा असर डाला है।

उनके मुताबिक़ लेकिन इस दौर ने हम सभी को तकनीक का महत्व भी समझाया है कि कैसे उसकी मदद से कई काम घर से होते गए और हम इससे उभर भी सके।

आपको बता दें इस रिपोर्ट के मुताबिक़ जनवरी 3 से 2020 के बीच $3 बिलियन से अधिक की कमाई दर्ज कर तकनीकी कंपनियों और डिजिटल रिइन्वेन्टर आदि ने बाज़ार में $6 ट्रिलियन के आँकड़े के साथ 65% की वृद्धि दर्ज की।

लेकिन इतना तो साफ़ हो गया है कि महामारी में तकनीक ने बड़ी बड़ी कंपनियों से लेकर छोटी कंपनियों को भी संभलने में काफ़ी मदद की है और ऐसे में ये क्षेत्र अभी और भी तेज़ी से बढ़ता नज़र आ सकता है।